Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाजमहाराष्ट्र: पहाड़ी पर विराजमान भगवान शिव की मूर्ति टूटी, जॉंच जारी

महाराष्ट्र: पहाड़ी पर विराजमान भगवान शिव की मूर्ति टूटी, जॉंच जारी

"इसी स्थान के पास ख्वाजा उस्मान गनी हारूनी की दरगाह भी है जो कि एक मुस्लिम शासक ने बनाई थी। इस कारण यह जगह हिन्दू और मुस्लिम दोनों के लिए महत्वपूर्ण है।"

सोशल मीडिया पर महाराष्ट्र के गोंदिया जिले के प्रतापगढ़ से भगवान शिव की एक मूर्ति टूटने की खबर सामने आई है। ट्विटर यूज़र के अनुसार शिव की यह मूर्ति करीब 400 साल पुरानी है जिसे एक हिन्दू राजा ने बनवाया था।

ट्विटर यूज़र ने आगे लिखा है कि इसी स्थान के पास ख्वाजा उस्मान गनी हारूनी की दरगाह भी है जो कि एक मुस्लिम शासक ने बनाई थी। इस कारण यह जगह हिन्दू और मुस्लिम दोनों के लिए महत्वपूर्ण है।

ट्विटर यूज़र ने लिखा है- “आज ही स्थानीय मीडिया में यह बात सामने आई है कि शिव की यह विशाल मूर्ति कुछ ‘शांतिदूतों’ ने तोड़ दी है। शांति दूतों ने असल में भगवान की प्रतिमा नहीं, बल्कि सौहार्द को तोड़ा है और यह सन्देश दिया है कि ‘गंगा-जमुनी तहजीब’ कुछ नहीं होती है।”

हालाँकि प्रशासन का कहना है कि जाँच की जा रही है और प्राकृतिक बिजली गिरने के कारण भी मूर्ति टूट सकती है। अधिकारियों द्वारा आज इस स्थान का निरीक्षण भी किया गया। मूर्ति करीब 20 फुट ऊँची थी, जिस वजह से किसी व्यक्ति द्वारा इसे तोड़ा जाना संभव नहीं लगता है। अधिकारियों ने जल्दी ही यहाँ नई मूर्ति स्थापित करने की बात कही है।

राज्य के पूर्व मंत्री राजकुमार बदौले भी मौके पर पहुँचे और घटना के सन्दर्भ में अधिकारियों से जानकारी ली। महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री स्वयं इस घटना पर नजर रख हुए हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,361FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe