Sunday, May 9, 2021
Home देश-समाज हिन्दुओं के घरों को फूँका, CAA समर्थक जुलूस पर हमले के लिए छतों पर...

हिन्दुओं के घरों को फूँका, CAA समर्थक जुलूस पर हमले के लिए छतों पर जमा कर रखे थे ईंट-पत्थर

इस घटना के बाद मुस्लिम बहुल अथवा मुस्लिमों के प्रभाव वाले इलाक़े में रह रहे हिन्दुओं के अपना ठिकाना बदल लिया है। कई परिवार तो शहर के धर्मशाला व होटलों में रुके हुए हैं। घटना के बाद पूरे जिले में पुलिस को हाई अलर्ट पर रखा गया है। जिले के स्कूल-कॉलेजों को 2 दिन के लिए बंद कर दिया गया है।

झारखण्ड के लोहरदगा में गुरुवार (जनवरी 23, 2020) को सीएए के समर्थन में हुई रैली पर हिंसक भीड़ ने हमला कर दिया। विहिप ने आरोप लगाया कि हथियारबंद इस्लामिक जिहादियों ने रैली पर हमला किया। इसके बाद आलम कुछ यूँ रहा कि पूरे शहर में उपद्रव पसर गया और इलाक़ा रणक्षेत्र में तब्दील हो गया। पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। सुबह 11:30 बजे ललित नारायण स्टेडियम से निकली विशाल रैली 1 घंटे बाद जैसे ही मस्जिद के पास पहुँची, जुलूस पर पथराव किया जाने लगा। शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन कर रहे 15,000 लोगों की रैली पर पेट्रोल बम फेंके गए। बम फटा, आगजनी शुरू हो गई और जान बचाने के लिए लोगों में भगदड़ मच गई।

मुस्लिमों ने हिन्दुओं के घरों में आग लगा दिया। चुन-चुन कर हिन्दुओं की गाड़ियों को आग के हवाले किया गया। कई ऐसे घरों को भी फूँक डाला गया, जिनमें अंदर लोग थे। उन्होंने किसी तरह बाहर भाग कर अपनी जान बचाई।लोहरदगा के लोगों का कहना है कि उन्होंने सपने में भी नहीं सोचा था कि उनके बीच रहने वाले लोग इस तरह की हरकत कर सकते हैं। पुलिस ने आँसू गैस के गोले छोड़े और क़रीब 100 राउंड फायरिंग की गई। बेख़ौफ़ उपद्रवियों इतने ढीठ थे कि उन्होंने डीसी और एसपी जैसे अधिकारियों तक को नहीं बख्शा। उनके साथ भी दुर्व्यवहार किया गया।

क़रीब 100 से ज़्यादा दोपहिया वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया। कई चार पहिया वाहन भी धू-धू कर जले। पुलिस लगातार इस्लामी भीड़ को समझा रही थी लेकिन वो मानने को तैयार नहीं थे। रैली में शामिल लोग काफ़ी सहम गए। पथराव, आगजनी, मारपीट, तोड़फोड़ और दुर्व्यवहार की इस घटना के कारण स्थानीय लोगों में ख़ासा आक्रोश है। विहिप सहित अन्य हिन्दू संगठनों ने स्पष्ट कहा है कि अगर 24 घंटों के भीतर दोषियों को पकड़ा नहीं गया तो आंदोलन किया जाएगा।

पूरे वारदात में 100 से अधिक लोग घायल हुए हैं। दो दर्जन से अधिक लोग लोहरदगा सदर अस्पताल में इलाजरत हैं। एक दर्जन से ज़्यादा घायलों को बेहतर इलाज हेतु राँची रेफर कर दिया गया है।

पथराव करने वालों में 8 से 12 साल तक के मुस्लिम बच्चे भी शामिल थे। लोहरदगा के स्थानीय लोगों का कहना है कि अमला टोली के मुट्ठी भर लोगों ने पूरे शहर को दिन भर एक तरह से बंधक बना कर रखा। ऐसा नहीं है कि शांति-व्यवस्था बना रखने के लिए हिन्दुओं ने कोई पहल नहीं की थी। मुस्लिम समुदाय से और उस इलाक़े के वरिष्ठ जनों व प्रबुद्ध लोगों से बातचीत कर के आश्वासन लिया गया था कि रैली को शांतिपूर्ण तरीके से गुजरने दिया जाएगा। इन सबके बावजूद मुस्लिम समुदाय के लोग हिंसा पर उतर आए। घायलों में कई पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। रैली में बड़ी संख्या में महिलाएँ हिस्सा ले रही थीं, जिन्हें ख़ासी चोटें आई हैं।

पुलिस ने रात भर मुस्लिम समुदाय के लोगों को समझाया था कि वो शांति-व्यवस्था भंग न करें। इसके बावजूद दिन भर डीसी-एसपी भाग-दौड़ करते रहे और उपद्रवी पुलिस पर पथराव करते रहे। शहर में सन्नाटे का माहौल है। लोग डरे हुए हैं। मातम जैसा माहौल है। एक पुलिसकर्मी का माथा फट गया। एसपी के बॉडीगार्ड को चोटें आईं। कुछ घरों व दुकानों की छत पर पहले से ही ईंट-पत्थर इकट्ठे कर के रख लिए थे। रैली के वहाँ पहुँचते ही ईंट-पत्थर चलाए जाने लगे। घायलों में 24 पुलिसकर्मी शामिल हैं।

दैनिक जागरण के स्थानीय संस्करण में छपी ख़बर

अनुमान लगाया जा रहा है कि मुस्लिम समुदाय के लोगों के उत्पात के कारण करोड़ों की संपत्ति का नुकसान हुआ है। इस घटना के बाद मुस्लिम बहुल अथवा मुस्लिमों के प्रभाव वाले इलाक़े में रह रहे हिन्दुओं के अपना ठिकाना बदल लिया है। कई परिवार तो शहर के धर्मशाला व होटलों में रुके हुए हैं। घटना के बाद पूरे जिले में पुलिस को हाई अलर्ट पर रखा गया है। जिले के स्कूल-कॉलेजों को 2 दिन के लिए बंद कर दिया गया है।

जामिया के दंगों की तैयारी बहुत पहले हो चुकी थी, हर शुक्रवार को लगता है डर: जामिया के छात्र ने खोले कई राज़

JNU हिंसा: ABVP नहीं, कॉन्ग्रेस का इकोसिस्टम आया सामने, चैट वायरल होने के बाद सबसे बड़ा खुलासा

15 मौतें, 705 गिरफ्तारियाँ, 57 पुलिसकर्मियों को लगी गोली: यूपी में CAA पर हिंसा का हर डिटेल

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गाजीपुर में हटाए गए 2 डॉक्टर: ऑक्सीजन पर कंफ्यूजन से मरीज और उनके परिवार वालों को कर रहे थे परेशान

ऑक्सीजन पर ढुलमुल रवैये के कारण उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में 2 डॉक्टरों को हटा दिया गया। एक्शन लिया है वहाँ के DM मंगला प्रसाद ने।

‘खान मार्केट के दोस्तों को 1-1 ऑक्सीजन कंसेन्ट्रेटर, मुझ पर बहुत अधिक दबाव है’ – नवनीत कालरा का वायरल ऑडियो

कोरोना वायरस के कहर के बीच दिल्ली में ऑक्सीजन कंसेन्ट्रेटर्स की कालाबाजारी हो रही है। इस बीच पुलिस के हाथ बिजनेसमैन नवनीत कालरा की ऑडियो...

मुरादाबाद और बरेली में दौरे पर थे सीएम योगी: अचानक गाँव में Covid संक्रमितों के पहुँचे घर, पूछा- दवा मिली क्या?

सीएम आदित्यनाथ अचानक ही गाँव के दौरे पर निकल पड़े और होम आइसोलेशन में रह रहे Covid-19 संक्रमित मरीजों के स्वास्थ्य की जानकारी ली। उनके इस अप्रत्याशित निर्णय का अंदाजा उनके अधिकारियों को भी नहीं था।

‘2015 से ही कोरोना वायरस को हथियार बनाना चाहता था चीन’, चीनी रिसर्च पेपर के हवाले से ‘द वीकेंड’ ने किया खुलासा: रिपोर्ट

इस रिसर्च पेपर के 18 राइटर्स में पीएलए से जुड़े वैज्ञानिक और हथियार विशेषज्ञ शामिल हैं। मैग्जीन ने 6 साल पहले 2015 के चीनी वैज्ञानिकों के रिसर्च पेपर के जरिए दावा किया है कि SARS कोरोना वायरस के जरिए चीन दुनिया के खिलाफ जैविक हथियार बना रहा था।

नेहरू के अखबार का वो पत्रकार, जिसने पोप को दी चुनौती… धर्म परिवर्तन के खिलाफ विश्व हिन्दू परिषद की रखी नींव

विश्व हिन्दू परिषद की स्थापना करते समय स्वामी चिन्मयानन्द सरस्वती ने कहा था, “जिस दिन प्रत्येक हिन्दू जागृत होगा और उसे..."

‘मदरसा छाप, मिर्जापुर का ललित’: दिल्ली में ऑक्सीजन की बर्बादी पर तजिंदर बग्गा और अमानतुल्लाह के बीच छिड़ा वाक युद्ध

इस पर तजिंदर बग्गा ने अमानतुल्लाह खान से कहा कि बाटला हाउस इनकाउंटर को फर्जी बताने वाला और मोहनचंद शर्मा के बलिदान का अपमान करने वाला आज फेक न्यूज की बात कर रहा है।

प्रचलित ख़बरें

रमजान का आखिरी जुमा: मस्जिद में यहूदियों का विरोध कर रहे हजारों नमाजियों पर इजरायल का हमला, 205 रोजेदार घायल

इजरायल की पुलिस ने पूर्वी जेरुसलम स्थित अल-अक़्सा मस्जिद में भीड़ जुटा कर नमाज पढ़ रहे मुस्लिमों पर हमला किया, जिसमें 205 रोजेदार घायल हो गए।

‘मेरी बहू क्रिकेटर इरफान पठान के साथ चालू है’ – चचेरी बहन के साथ नाजायज संबंध पर बुजुर्ग दंपत्ति का Video वायरल

बुजुर्ग ने पूर्व क्रिकेटर पर आरोप लगाते हुए कहा, “इरफान पठान बड़े अधिकारियों से दबाव डलवाता है। हम सुसाइड करना चाहते हैं।”

एक जनाजा, 150 लोग और 21 दिन में 21 मौतें: राजस्थान के इस गाँव में सबसे कम टीकाकरण, अब मौत का तांडव

राजस्थान के सीकर स्थित खीरवा गाँव में मोहम्मद अजीज नामक एक व्यक्ति के जनाजे में लापरवाही के कारण अब तक 21 लोगों की जान जा चुकी है।

पुलिस गई थी लॉकडाउन का पालन कराने, महाराष्ट्र में जुबैर होटल के स्टाफ सहित सैकड़ों ने दौड़ा-दौड़ा कर मारा

महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले के संगमनेर में 100 से 150 लोगों की भीड़ पुलिस अधिकारी को दौड़ा कर उन्हें ईंटों से मारती और पीटती दिखाई दे रही है।

इरफान पठान के नाजायज संबंध: जिस दंपत्ति ने लगाया बहू के साथ चालू होने का आरोप, उसी पर FIR

बुजुर्ग ने पूर्व क्रिकेटर पर आरोप लगाते हुए कहा, “इरफान पठान बड़े अधिकारियों से दबाव डलवाता है। आज हमारी ऐसी हालत आ गई कि हम सुसाइड करना चाहते हैं।”

रेप होते समय हिंदू बच्ची कलमा पढ़ के मुस्लिम बन गई, अब नहीं जा सकती काफिर माँ-बाप के पास: पाकिस्तान से वीडियो वायरल

पाकिस्तान में नाबालिग हिंदू लड़की को इ्स्लामी कट्टरपंथियों ने किडनैप कर 4 दिन तक उसके साथ गैंगरेप किया और उसका जबरन धर्मान्तरण कराया।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,388FansLike
91,063FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe