Monday, July 22, 2024
Homeदेश-समाजघात लगाए नक्सलियों ने कर दिया हमला, छत्तीसगढ़ में 3 जवान बलिदान: गोलीबारी के...

घात लगाए नक्सलियों ने कर दिया हमला, छत्तीसगढ़ में 3 जवान बलिदान: गोलीबारी के साथ-साथ बम धमाके भी, सुकमा में गश्ती के लिए निकली थी टीम

ये घटना तब हुई, जब सुरक्षा बलों के जवान तलाशी के लिए गश्ती अभियान पर निकले थे। इसी दौरान घात लगाए नक्सलियों ने उन्हें देख कर फायरिंग शुरू कर दी।

छत्तीसगढ़ के सुकमा में शनिवार (25 फरवरी, 2023) को नक्सलियों के साथ हुई मुठभेड़ में DRG (डिस्ट्रिक्ट रिजर्व ग्रुप ) के 3 जवान बलिदान हो गए हैं। इसके बाद राज्य में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली कॉन्ग्रेस सरकार पर सवाल उठ रहे हैं। इस हमले में दो जवान घायल भी हुए हैं। सुबह के समय ये मुठभेड़ जगरगुंडा के आश्रमपारा इलाके में हुई है। दोनों तरफ से इस दौरान ताबड़तोड़ गोलीबारी हुई। साथ ही बम धमाकों की आवाज़ भी सुनी गई।

ये घटना तब हुई, जब सुरक्षा बलों के जवान तलाशी के लिए गश्ती अभियान पर निकले थे। इसी दौरान घात लगाए नक्सलियों ने उन्हें देख कर फायरिंग शुरू कर दी। मृतकों में ASI रामूराम नाग, सहायक कॉन्स्टेबल कुंजम जोगा और सैनिक वंजम भीमा हैं। इलाके के कुंदेड़ इलाके में नया कैम्प स्थापित किया गया है, जहाँ से ‘एरिया डोमिनेशन’ अभियान के लिए जवानों की टीम निकली हुई थी। सुबह के लगभग 9:30 बजे ये मुठभेड़ थमा।

घटना की सूचना मिलते ही बैकअप पार्टी को घटनास्थल के लिए रवाना कर दिया गया। क्षेत्र में और तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। घायलों के इलाक़ सुकमा के सदर अस्पताल में चल रहा है। नक्सलियों की गोलीबारी के जवानों ने त्वरित रूप से जवाबी फायरिंग कर तगड़ा जवाब दिया था। इस मुठभेड़ में कई नक्सलियों के मारे जाने की भी संभावना है, लेकिन अभी तक उनकी डेड बॉडी रिकवर नहीं हुई है। घायलों को बेहतर इलाज के लिए हैलीकॉप्टर से जगदलपुर या रायपुर भेजा जा सकता है।

आसपास के इलाकों में गश्ती भी बढ़ा दी गई है। एसपी सुनील कुमार ने 8-10 नक्सलियों के मारे जाने की बात बताई है। हालाँकि, उन्होंने जवानों के गंभीर रूप से घायल होने की बात नकार दी है। सुबह के लगभग 9 बजे शुरू हुई ये मुठभेड़ आधे घंटे तक चली और रुक-रुक कर गोलीबारी होती रही। सीएम भूपेश बघेल ने घटना पर बयान जारी कर कहा, “बस्तर के सुकमा जिले के जगरगुंडा में नक्सली मुठभेड़ के दौरान हमारे 3 वीर जवानों की शहादत का समाचार दुखद है। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति और परिवारजनों को हिम्मत दे। इस दुख में हम सब साथ हैं। उनकी शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आम सैनिकों जैसी ड्यूटी, सेम वर्दी, भारतीय सेना में शामिल हो चुके हैं 1 लाख अग्निवीर: आरक्षण और नौकरी भी

भारतीय सेना में शामिल अग्निवीरों की संख्या 1 लाख के पार हो गई है, 50 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है।

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -