Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाजज़ुबैर के साथ मिल कर आतंकी नेटवर्क तैयार कर रही थी मुनीरा बेगम, हथियारों...

ज़ुबैर के साथ मिल कर आतंकी नेटवर्क तैयार कर रही थी मुनीरा बेगम, हथियारों के जखीरे के साथ दोनों धराए: पाकिस्तान से आ रहे थे पैसे

वहीं, आतंकी मुश्ताक अहमद मीर सुरक्षाबलों से बचने के लिए 1999 में पाकिस्तान भाग गया था। अब वह पाकिस्तान से ही कश्मीर में अपनी आतंकी गतिविधियाँ चला रहा है। साल 2000 में श्रीनगर के कोठीबाग पुलिस स्टेशन के पास हुए आइईडी धमाके में भी मुश्ताक शामिल बताया जाता है। इस हमले में 12 पुलिसकर्मी और 2 नागरिक बलिदान हो गए थे।

कश्मीर में एक आतंकी नेटवर्क का भंडाफोड़ हुआ है। इसमें मामले में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी और उसकी एक महिला सहयोगी को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आतंकी उत्तरी कश्मीर का है है, जबकि महिला मारे गए एक आतंकी की बीवी है। दोनों आतंकी नेटवर्क तैयार कर रहे थे।

दरअसल, सुरक्षाबलों ने संदिग्ध गतिविधियों को देखकर उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा इलाके में तलाशी अभियान चलाया था। इसी दौरान आतंकी नेटवर्क तैयार करने के षडयंत्र में शामिल एक स्थानीय आतंकी शफायत जुबैर ऋषि और मारे जा चुके आतंकी की बीवी मुनीरा बेगम को गिरफ्तार किया गया।

दोनों की निशानदेही पर हथियारों का एक बड़ा जखीरा भी बरामद किया गया है। ये दोनों पाकिस्तान में छिपकर बैठे आतंकी कमांडर मुश्ताक मीर के संपर्क में थे। मीर ने इन्हें हथियार और पैसा भेजा था। इसके जरिए वे घाटी में आतंकी नेटवर्क तैयार कर रहे थे।

सुरक्षाबलों को अपने सूत्रों से जानकारी मिली कि एक स्थानीय आतंकी दारदगुंड पेठकूट इलाके में आने वाला है। इसके आधार पर पुलिस ने सेना और सीआरपीएफ के जवानों के साथ मिलकर शुक्रवार यानी 25 अगस्त 2023 की रात को कुछ स्थानों पर नाके लगा दिए। दारदगुंड के बाहरी हिस्से में एक संदिग्ध व्यक्ति आते हुए दिखा।

उस उसने रास्ते में नाका देखा तो रास्ता बदलकर भागने का प्रयास किया। इसके बाद सुरक्षाबलों ने उसका पीछा कर उसे पकड़ लिया। उसके पास से एक पिस्तौल, एक मैगजीन, आठ कारतूस सहित अन्य सामान मिले। पकड़े गए आतंकी की पहचान शफायत जुबैर ऋषि के रूप में हुई है। वह नेसबल सुंबल का रहने वाला है।

जुबैर को निकट के पुलिस स्टेशन ले जाया गाया। वहाँ पूछताछ में उसने बताया कि वह पजलपोरा में रहने वाली मुनीरा बेगम से मिलने जा रहा था। उसने बताया कि मुनीरा के पास के पाकिस्तान से हथियारों का जखीरा आया हुआ है और वह उसे लेकर अन्य आतंकियों तक पहुँचाने वाला है। इसके अलावा, उसने एक व्यक्ति से 47 लाख रुपए लेने की बात कही।

मुनीरा की निशानेदही सुरक्षाबलों ने उसके घर से कुछ दूरी पर स्थित जंगल में से एक क्रेनकोव एसाल्ट राइफल, तीन मैगजीन, 90 कारतूस, एक पेन पिस्तौल बरामद किया है। पूछताछ में मुनीरा ने बताया कि वह भी पाकिस्तान के रास्ते दो बार गुलाम जम्मू कश्मीर जा चुकी है।

शफायत जुबैर आतंकी बनने से पहले एक कुख्यात पत्थरबाज और आतंकियों का ओवरग्राउंड वर्कर था। साल 2009 में सुंबल में एक सैन्य वाहन को जलाने की घटना में भी वह शामिल था। इस मामले में वह जमानत पर रिहा हो गया था। वहीं, मुनीरा बेगम खुंखार आतंकी युसुफ चौपान की बीवी है। कुछ साल पहले सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ के दौरान उसे मार गिराया था।

वहीं, आतंकी मुश्ताक अहमद मीर सुरक्षाबलों से बचने के लिए 1999 में पाकिस्तान भाग गया था। अब वह पाकिस्तान से ही कश्मीर में अपनी आतंकी गतिविधियाँ चला रहा है। साल 2000 में श्रीनगर के कोठीबाग पुलिस स्टेशन के पास हुए आइईडी धमाके में भी मुश्ताक शामिल बताया जाता है। इस हमले में 12 पुलिसकर्मी और 2 नागरिक बलिदान हो गए थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -