Sunday, July 14, 2024
Homeराजनीतिऑटो में बच्ची बैठी हो या औरत... हम तो डंडे बरसाएँगे: लालू यादव की...

ऑटो में बच्ची बैठी हो या औरत… हम तो डंडे बरसाएँगे: लालू यादव की पार्टी के नेताओं की गुंडई

RJD के नेता और कार्यकर्ता शायद यह पूरी तरह से भुला बैठे हैं कि आज जिस जनता पर वो लाठी-डंडों से क़हर बरसा रहे हैं, चुनाव आने पर वो उन्हीं की चौखट पर वोट की भीख माँगने पहुँच जाते हैं।

नागरिकता संशोधन क़ानून (CAA) के ख़िलाफ़ देश भर में लगातार हो रहे हिंसक-विरोधों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। उत्तर प्रदेश, गुजरात, दिल्ली, कर्नाटक, असम के बाद अब बिहार में भी विरोध-प्रदर्शन काफ़ी उग्र हो गया है। बिहार में पिछले कुछ दिनों से चल रहे विरोध-प्रदर्शनों के बीच राज्य में मुख्य विपक्षी दल राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने आज बंद का ऐलान किया था। सुबह से ही RJD कार्यकर्ताओं का दल सड़कों पर उतरा हुआ है। विरोध-प्रदर्शन के दौरान बसों और ट्रेनों को जबरन रुकवाया गया।

भागलपुर में RJD कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर चल रहे वाहनों तक में जमकर तोड़फोड़ की है। इसी दोरान एक ऑटो पर हमलावर होते हुए RJD कार्यकर्ताओं को इतना भी होश नहीं रहा कि वो जिस चलते ऑटोरिक्शे पर लाठी बरसाते हुए उसके शीशे तोड़ रहे थे, उसके अंदर बैठी सवारियों में एक बच्ची भी मौजूद थी।

क्या होता अगर ऑटोरिक्शे में बैठी सवारियों में से किसी को कुछ हो जाता, आख़िर कौन होता उनके जानमाल की हानि का दोषी, क्या लालू यादव की पार्टी के कार्यकर्ता इन विरोध-प्रदर्शन की आग में अपनी सारी मानवता को भी झोंक चुके हैं, जबकि RJD के नेता तेजस्वी यादव ने कहा था कि बिहार बंद शांतिपूर्ण तरीक़े से होगा। लेकिन, किसे पता था कि तेजस्वी यादव इस तरह के शांति की बात कर रहे थे!

अगर उन्हें विरोध-प्रदर्शन करना ही है तो वो सड़क पर चलते राहगीरों पर क्यों डंडा बरसाने में जुटे हैं, भला विरोध करने का यह कौन-सा तरीका हुआ, जिसका दंश आम जनता को झेलना पड़ रहा है। लगता है RJD के मुखिया और कार्यकर्ता शायद यह पूरी तरह से भुला बैठे हैं कि आज जिस जनता पर वो उतना क़हर बरसा रहे हैं, चुनाव आने पर वो उन्हीं की चौखट पर वोट की भीख माँगने पहुँच जाते हैं। इतना ही नहीं उन्होंने नागरिकता क़ानून के ख़िलाफ़ नारेबाज़ी करते हुए दुकानदारों से जबरन दुकाने बंद करने को कहा, जो और भी दु:खद है।

उधर, राजधानी पटना में पुलिस ने सुरक्षा के पुख़्ता इंतज़ाम किए हैं और सड़कों पर भारी पुलिसबल तैनात है। हालाँकि, RJD समर्थकों ने हाथों में लाठी-डंडे लेकर विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं। बस स्टैंड के पास कार्यकर्ताओं ने कुछ गाड़ियों में तोड़फोड़ की। इन सभी कार्यकर्ताओं का कहना है कि CAA और NRC ग़लत है और हम इसका विरोध करते हैं।

पटना में RJD समर्थकों ने जलाया टायर (तस्वीर साभार: नवभारत टाइम्स)

ऑल इंडिया मुस्लिम लीग के कार्यकर्ता भी इस बंद का समर्थन कर रहे हैं। पटना में विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के वर्कर्स ने प्रदर्शन के दौरान पुलिस के बैरिकेड को हटा दिया। इसके अलावा, नवादा ज़िले में RJD कार्यकर्ताओं ने पटना-रांची राष्ट्रीय राजमार्ग पर सद्बावना चौक के पास आगज़नी की और रास्ता जाम किया। इस वजह से सड़कों पर दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई।

यह भी पढ़ें: राबड़ी देवी ने मेरे बाल नोचे, पीटा, घर से निकाल दिया, सैंडल तक नहीं लेने दिया: लालू की बहू ने लगाए गंभीर आरोप

मोदी का यह एहसान शायद ही भूल पाएँ चारा घोटाले में सजा काट रहे लालू, परिवार में अरसे बाद मना जश्न

सर्वे रिपोर्ट: मोदी-राज में एक साल में 10% घटी रिश्वतखोरी, बिहार-राजस्थान टॉप पर

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -