Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाजशम्भू दयाल को चाकू मार रहा था अनीस तो तमाशबीन बने थे लोग, मौत...

शम्भू दयाल को चाकू मार रहा था अनीस तो तमाशबीन बने थे लोग, मौत के बाद पुष्प वर्षा: 30 साल दिल्ली पुलिस में दी सेवा, कमिश्नर ने दिया कंधा

वायरल वीडियो में झपटमार अनीस भीड़ में कई लोगों के बीच उन पर चाकुओं से ताबड़तोड़ वार करता दिखाई दे रहा है। कई घाव लगने के बाद भी शंभू दयाल ने अनीस को जमीन पर पटक दिया था।

अपराधी अनीस राज के हमले में वीरगति पाए दिल्ली पुलिस के जाँबाज़ ASI शम्भू दयाल का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ हुआ। इस दौरान खुद दिल्ली पुलिस के कमिश्नर ने उनके शव को कंधा दिया। शम्भू दयाल के सम्मान में लोगों ने फूलों की बारिश भी की। इस बीच उन पर अनीस द्वारा किए गए हमले का वीडियो भी सामने आया है। वायरल वीडियो में चाकुओं के घाव खाने के बाद भी ASI शम्भू दयाल अपराधी से जूझते नजर आए।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक DCP मुख्यालय में बलिदानी शम्भू दयाल की अंतिम विदाई में दिल्ली पुलिस का पूरा अमला उमड़ पड़ा था। खुद कमिश्नर संजय अरोड़ा इस यात्रा में मौजूद थे। उन्होंने अपने अधीनस्थ रहे ASI के शव को कंधा भी दिया। इस दौरान माहौल काफी गमगीन रहा। जब शम्भू दयाल का पार्थिव शरीर उनके गाँव राजस्थान के सीकर जिले में गवली बिहारीपुर पहुँचा, तब लोगों ने पार्थिव शरीर पर फूल बरसाए। इस दौरान देशभक्ति के नारे भी लगे।

गाँव में हुए अंतिम संस्कार के दौरान हजारों लोगों की भीड़ रही। दिल्ली पुलिस द्वारा उन्हें गार्ड ऑफ़ ऑनर भी दिया गया। बलिदानी शम्भू दयाल के शव को बाकायदा एक जुलूस की शक्ल में ले जाया गया था, जिस दौरान सड़क के दोनों तरफ खड़े लोगों ने उनके प्रति श्रद्धा व्यक्त की।

इस बीच ASI शम्भू दयाल पर हुए हमले का वीडियो वायरल हुआ है। वायरल वीडियो में झपटमार अनीस भीड़ में कई लोगों के बीच उन पर चाकुओं से ताबड़तोड़ वार करता दिखाई दे रहा है। कई घाव लगने के बाद भी शम्भू दयाल ने अनीस को जमीन पर पटक दिया था। हमले के दौरान भीड़ में से किसी ने भी ASI की मदद नहीं की। वीडियो में हमले से मची अफरातफरी का फायदा उठा कर अनीस भागने का प्रयास करता दिखाई देता है।

हालाँकि, बाद में उसे पकड़ लिया जाता है। दिल्ली पुलिस की कस्टडी में पकड़े गए अनीस का फोटो भी सार्वजनिक हुआ है।

गौरतलब है कि बलिदानी ASI शम्भू दयाल दिल्ली पुलिस में 1993 बैच के कांस्टेबल थे जो बाद में अपनी काबिलियत से सहायक उप निरीक्षक के पद पर प्रमोट हुए थे। 5 जनवरी, 2022 को एक महिला के फोन छिन जाने की शिकायत पर वो आरोपित अनीस को पकड़ कर ला रहे थे। इस दौरान अनीस ने उन पर चाकुओं से वार कर दिया जिस से लम्बे इलाज के बाद शम्भू दयाल वीरगति को प्राप्त हो गए थे।

(नोट: हमला करने वाले का नाम अनीस राज है। कई मीडिया रिपोर्टों में नाम मोहम्मद अनीस बताया गया था। गलत नाम प्रकाशित होने का हमें खेद है।)

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बांग्लादेश में आरक्षण खत्म: सुप्रीम कोर्ट ने कोटा व्यवस्था को रद्द किया, दंगों की आग में जल रहा है मुल्क

प्रदर्शनकारी लोहे के रॉड हाथों में लेकर सेन्ट्रल डिस्ट्रिक्ट जेल पहुँच गए और 800 कैदियों को रिहा कर दिया। साथ ही जेल को आग के हवाले कर दिया गया।

‘कमाल का है PM मोदी का एनर्जी लेवल, अनुच्छेद-370 हटाने के लिए चाहिए था दम’: बोले ‘दृष्टि’ वाले विकास दिव्यकीर्ति – आर्य समाज और...

विकास दिव्यकीर्ति ने बताया कि कॉलेज के दिनों में कई मुस्लिम दोस्त उनसे झगड़ा करते थे, क्योंकि उन्हें RSS के पक्ष से बहस करने वाला माना जाता था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -