Thursday, July 25, 2024
Homeराजनीतिराहुल गाँधी की 'नूरी' के खिलाफ कोर्ट पहुँचा मुस्लिम नेता, कहा - यह नाम...

राहुल गाँधी की ‘नूरी’ के खिलाफ कोर्ट पहुँचा मुस्लिम नेता, कहा – यह नाम इस्लाम का अपमान: कॉन्ग्रेस नेता ने अपनी माँ को गिफ्ट की थी फीमेल डॉगी

AIMIM के प्रदेश प्रवक्ता मोहम्मद फरहान के मुताबिक राहुल को माफी माँगने के लिए कहा गया, लेकिन अबतक माफी नहीं माँगी गई।

कॉन्ग्रेस के नेता राहुल गाँधी ने अपनी माँ सोनिया गाँधी को एक फीमेल पप्पी गिफ्ट किया था। उसका नाम राहुल गाँधी ने ‘नूरी’ बताया। उनके द्वारा इस तरह से नाम रखने के बाद कई मुस्लिमों ने नाराज़गी भी जताई थी। ये मामला अब कोर्ट में भी पहुँच गया है, जिसमें प्रयागराज में असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM के प्रदेश प्रवक्ता ने शिकायत की है कि राहुल गाँधी ने उनकी मजहबी भावनाओं को ठेस पहुँचाया है।

इस्लाम-कुरान से जुड़ा है ‘नूरी’ शब्द

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मोहम्मद फरहान के वकील ने कहा, “ये ‘नूरी’ शब्द इस्लाम से जुड़ा है और इस्लाम मजहब में पैगंबर मुहम्मद साहब से संबंध रखता है। ‘नूरी’ शब्द का जिक्र कुरान की आयत में भी है और कई मुस्लिम बच्चियों के नाम भी ‘नूरी’ हैं।” AIMIM के प्रदेश प्रवक्ता मोहम्मद फरहान के मुताबिक, राहुल गाँधी को माफी माँगने के लिए कहा गया, लेकिन अब तक माफी नहीं माँगी गई। वकील ने ये भी कहा कि, “पिल्ली का नाम बदला जाना चाहिए क्योंकि बच्चियों, बुजुर्गों और खासकर हमारे पैगंबर साहब की तौहीन की गई है।”

मजहबी भावनाओं को ठेस पहुँचाने का मामला दर्ज

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, फरहान के वकील मोहम्मद अली ने बताया है कि ये याचिका आईपीसी की धारा 295A (धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाना) में FIR दर्ज कराने के लिए दाखिल गई है, जिसे सोमवार (16 अक्टूबर, 2023) को दाखिल किया गया। कोर्ट से जुड़े सूत्रों ने याचिका मिलने की पुष्टि की है। वकील ने कहा कि AIMIM नेता को कुत्ते के नाम के बारे में समाचार पत्रों, राहुल के फेसबुक पेज और यूट्यूब चैनल से पता चला। अब कोर्ट ने फरहान को अपना बयान दर्ज कराने के लिए 8 नवंबर को बुलाया है।

गोवा से ‘नूरी’ को लाकर सोनिया गाँधी को दिया था गिफ्ट

बता दें कि कुछ दिनों पहले ही राहुल गाँधी गोवा से वापस लौटते समय अपनी माँ सोनिया गाँधी के लिए एक खास तोहफा लेकर आए थे। वो तोहफा फीमेल डॉगी ‘नूरी’ थी। अब अब यही ‘नूरी’ उनके लिए मुसीबत बढ़ाने का काम कर रही है। ‘नूरी’ मशहूर जैक रसेल टेरियर ब्रीड की है। इससे पहले भी AIMIM नेता ने राहुल गाँधी की इस प्रकरण को लेकर निंदा की थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -