Thursday, July 18, 2024
Homeराजनीतिक्या ओवैसी की चुनौती कबूल करेंगे राहुल गाँधी? AIMIM के मुखिया ने कहा- वायनाड...

क्या ओवैसी की चुनौती कबूल करेंगे राहुल गाँधी? AIMIM के मुखिया ने कहा- वायनाड छोड़ो प्यारे, हैदराबाद में आकर दो-दो हाथ करो

"कहाँ वायनाड जाते हो प्यारे, यहाँ आओ। सिर्फ बड़ी-बड़ी बातें क्यों करते हो? अरे, जमीन पर आओ मुकाबला करेंगे। शेरवानी-काली टोपी वाले से मुकाबला करके देखो मजा आएगा।"

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कॉन्ग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी को हैदराबाद से चुनाव लड़ने की चुनौती दी है। अभी ओवैसी इसी सीट से सांसद हैं। एआईएमआईएम के मुखिया ने कहा है कि राहुल गाँधी बड़ी-बड़ी बातें करते हैं। उन्हें चैलेंज है कि वे वायनाड छोड़ें और हैदराबाद आकर मुकाबला करें।

ओवैसी ने कहा, “कॉन्ग्रेस के लोग बहुत आएँगे। मैं तो कॉन्ग्रेस के लीडर से कहूँगा कि अब की बार वायनाड नहीं हैदराबाद से मुकाबला करो। मैं चैलेंज कर रहा हूँ, वायनाड छोड़ो और हैदराबाद आओ। हम दो-दो हाथ आजमा लेंगे। पंजा आजमा लेंगे आ जाओ।”

ओवैसी ने राहुल गाँधी को चुनौती देते हुए कहा, “कहाँ वायनाड जाते हो प्यारे, यहाँ आओ। सिर्फ बड़ी-बड़ी बातें क्यों करते हो? अरे, जमीन पर आओ मुकाबला करेंगे। शेरवानी-काली टोपी वाले से मुकाबला करके देखो मजा आएगा। कॉन्ग्रेस के लोग बहुत बातें करेंगे। मैं तैयार हूँ। लेकिन तेलंगाना की जनता से भी अपील करता हूँ कि याद रखो हैदराबाद में मासूमों का लुट जाना, मिट जाना कॉन्ग्रेस की देन है।”

असुदुद्दीन ओवैसी ने आगे कहा कि यही कॉन्ग्रेस थी जब अयोध्या स्थित बाबरी ढाँचे को तोड़ दिया गया था। सचिवालय की मस्जिद को भी कॉन्ग्रेस सरकार में ही तोड़ी गई थी। इसके बाद अयोध्या में मस्जिद नहीं बन पाई। बताओ कॉन्ग्रेसियों नरसिम्हा राव तुम्हारा बाप था या नहीं बताओ?

लोकसभा में महिला आरक्षण बिल के खिलाफ वोट डालने पर ओवैसी ने कहा, “भाजपा के लोग हमसे कहते हैं कि AIMIM के दो सांसदों ने संसद में महिला आरक्षण के खिलाफ वोट दिया। मैंने और इम्तियाज जलील ने पूरी संसद को हिला कर रख दिया। महिला आरक्षण के पक्ष में 450 वोट पड़े और 2 वोट खिलाफ में पड़े। हम हवा के साथ चलने वाले लोग नहीं है। हम हवा के खिलाफ चलने वाले हैं।”

बता दें कि साल 20919 के लोकसभा चुनाव में राहुल गाँधी ने कॉन्ग्रेस की पारंपरिक सीट अमेठी के साथ ही केरल की मुस्लिम बाहुल्य सीट वायनाड से भी चुनाव लड़ा था। उन्हें अमेठी में हार का सामना करना पड़ा था। वहीं वायनाड में जीत दर्ज की थी। अगले 2 महीनों में तेलंगाना में विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में सभी पार्टियाँ एड़ी-चोटी का जोर आजमाने में जुटी हुई हैं। वहीं 2024 में लोकसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में इन दोनों चुनावों को देखते हुए नेताओं के बीच जुबानी जंग चल रही है। 

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -