Tuesday, July 16, 2024
Homeराजनीति70 साल में जो नहीं हुआ 5 साल में कर दिखाया, यूपी को बनाया...

70 साल में जो नहीं हुआ 5 साल में कर दिखाया, यूपी को बनाया दूसरी सबसे बड़ी इकॉनमी: CM योगी ने पेश किया रिपोर्ट कार्ड, गिनाई उपलब्धियाँ

“यूपी में एनसीआरबी के आँकड़ों के अनुसार डकैती 58 फीसदी, हत्या 23 फीसदी, फिरौती 53 फीसदी और बलात्कार के मामलों में 45 फीसदी की कमी आई है। पिछले 5 साल में 694 पेशेवर अपराधियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई हुई।”

उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने गुरुवार (3 फरवरी 2022) को अपना रिपोर्ट कार्ड (Yogi Govt Report Card) पेश किया और अपनी सरकार की 5 साल की उपलब्धियाँ गिनाई। इस दौरान बीजेपी ने यूपी चुनाव के लिए पार्टी का थीम सॉन्ग (BJP Theme Song for UP Election) ‘यूपी में योगी…’ रिलीज किया और यूपी सरकार के 5 साल के कामकाज को प्रस्तुत करती एक फिल्म भी दिखाई।

70 साल में जो नहीं हुआ वो कर दिखाया: सीएम योगी

सीएम योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए बताया, “बीते 5 साल में भाजपा सरकार ने क्या किया है, ये बताना मेरा परम दायित्व है। बीते 5 साल में यूपी ने कुछ मील के पत्थर भी गढ़े हैं। यूपी की अर्थव्यवस्था सातवें स्थान पर थी और 70 सालों (1947 से 2017) में जो काम नहीं हुआ, उसे हमने 5 साल में 2 नंबर पर लाने में सफलता प्राप्त की। यूपी की प्रति व्यक्ति आय 45 हजार वार्षिक थी। ये बढ़कर अब 94 हजार हो गई है। 2015-18 में वार्षिक बजट 2 लाख करोड़ था। ये अब 6 लाख करोड़ हो गया है।”

कोरोना काल के काम को दुनिया ने सराहा: यूपी सीएम

योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा कि कोरोना काल में जीवन और जीविका को बचाने के लिए हमने जो किया, उसे दुनिया ने सराहा। उन्होंने कहा, “हमारे यहाँ के छात्र प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने राजस्थान के कोटा गए थे। हमने उन्हें लॉकडाउन के दौरान सुरक्षित उनके घर तक पहुँचाया। यूपी के 40 लाख प्रवासी श्रमिकों को सफलतापूर्वक उनके घर तक पहुँचाने और खाने-पीने की व्यवस्था की।”

’18 साल से ज्यादा उम्र के सभी को लगी वैक्सीन’

कोरोना काल की चुनौतियों का जिक्र करते हुए सीएम योगी ने कहा कि हमारी सरकार लगातार मरीजों को हर सुविधा उपलब्‍ध कराने में जुटी रही है। कोरोना वैक्‍सीन की पहली और दूसरी डोज ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों को लगाई जा चुकी है। उत्तर प्रदेश के 18 साल के सभी पात्र व्यक्तियों ने कोविड वैक्सीन की पहली डोज़ ले ली है। 70% से अधिक लोगों ने कोरोना की दोनों डोज़ लगवा ली है। 60 साल से ऊपर के 15 लाख़ 38 हज़ार 992 लोगों ने प्रीकॉशन डोज़ लगवा ली है। उन्‍होंने बताया कि 15 से 17 वर्ष के 1 करोड़ 67 लाख़ 281 युवाओं ने पहली डोज़ ले ली है। कुल मिलाकर 26,48,06,934 वैक्सीन की डोज़ अब तक उत्तर प्रदेश में दी जा चुकी है।

तीसरी लहर को कर चुके हैं नियंत्रित: योगी आदित्यनाथ

कोरोना की तीसरी लहर पर बात करते हुए सीएम योगी ने कहा, “हम कोविड-19 की तीसरी लहर को भी नियंत्रित कर चुके हैं। एक्टिव केस की संख्या 1 लाख के पार थी, जो अब घटकर 41 हजार रह गई है। देश भर में सबसे ज्यादा कोविड टेस्ट करने वाला राज्य भी उत्तर प्रदेश है।”

‘1.5 लाख पुलिसकर्मियों की पारदर्शी तरीके से भर्ती’

योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा, “हमारी सरकार में 1.50 लाख पुलिसकर्मियों की भर्ती पारदर्शी तरीके से हुई और 86 हजार पुलिसकर्मियों को प्रमोशन दिया गया। महिला पुलिसकर्मियों की संख्या 5 साल में 3 गुना बढ़ी है। इसके साथ ही हमने पुलिस के आधुनिकीकरण पर काम किया।” सीएम योगी ने कहा, “पहले यूपी के 75 जनपदों में 2 सायबर थाने थे। इसके अलावा एफएसएल की लैब नहीं थी और फॉरेंसिक जाँच के लिए दूसरे राज्यों पर निर्भर रहना होता था। आज यूपी में 6 एफएसएल लैब कार्यशील हैं और 18 बन रहे हैं।”

5 साल में नहीं हुई कोई दंगा: सीएम योगी

सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा कि बसपा सरकार में 364 दंगे प्रदेश में हुए। सपा सरकार में 2012 से 2017 के बीच 700 से ज्यादा दंगे हुए। लेकिन हमारे समय में बीते 5 साल में कोई दंगा या आतंकी घटना नहीं हुई। उन्होंने कहा, “उत्तर प्रदेश पहला राज्य है, जहाँ पिछले 5 साल में कोई दंगा नहीं हुआ और यह हमारी सरकार में हुआ है। इसके अलावा कोई आतंकी घटना नहीं हुई है। उत्तर प्रदेश में एंटी रोमियो डेस्क सफलतापूर्वक काम कर रही हैं।”

5 साल में अपराधिक मामलों में आई कमी

सीएम योगी ने कहा, “यूपी में एनसीआरबी के आँकड़ों के अनुसार डकैती 58 फीसदी, हत्या 23 फीसदी, फिरौती 53 फीसदी और बलात्कार के मामलों में 45 फीसदी की कमी आई है। पिछले 5 साल में 694 पेशेवर अपराधियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई हुई।” उन्होंने आगे कहा, “माफिया जो बेटी-बहनों की सुरक्षा के लिए खतरे थे, उनकी 2046 करोड़ की प्रॉपर्टी को ध्वस्त किया गया।”

निवेश के लिए यूपी पसंदीदा स्थान: सीएम योगी

योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा, “पिछले 5 साल में हमने 4 लाख 68 हजार करोड़ रुपए के निवेश के एमओयू किए। उत्तर प्रदेश आज निवेश के लिए पसंदीदा स्थान बन गया है। 2.17 लाख करोड़ रुपए का कर्ज MSME सेक्टर को मिला है।”

सरकार ने 794 लाख मीट्रिक टन अनाज खरीदा, 66 हज़ार हेक्टेयर जमीन हुआ मुक्त

सीएम योगी ने कहा कि बसपा की सरकार के दौरान 240 लाख मीट्रिक टन और समाजवादी पार्टी के दौरान 217 लाख मीट्रिक टन अनाज खरीदा गया था, जबकि बीते 5 साल में हमारी सरकार 794 लाख मीट्रिक टन अनाज खरीद चुकी है। रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए उन्होंने कहा कि 66 हज़ार हेक्टेयर लैंड को माफिया के कब्जे से मुक्त कराया. उन्होंने कहा कि 2017 से पहले यूपी का किसान सरकार की उपेक्षा के चलते आत्महत्या को मजबूर हुआ था। 

5 साल में बंद नहीं हुई कोई चीनी मिल

गन्ना किसानों की बात करते हुए सीएम योगी ने कहा कि पहले की सरकारों में 29 चीनी मिलें बंद हुई थीं। पिछले 5 साल में चीनी मिल बंद नहीं हुईं। इसके साथ ही यूपी सरकार ने 1.57 लाख करोड़ गन्ना किसानों को भुगतान किया और भाजपा सरकार के समय 348 करोड़ लीटर एथेनॉल का उत्पादन हुआ।

यूपी में सात चरणों में होगा विधान सभा चुनाव

बता दें कि उत्तर प्रदेश में इस बार 403 विधान सभा सीटों पर सात चरणों में चुनाव होगा और मतगणना 10 मार्च को होगी। यूपी में विधानसभा चुनाव की शुरुआत 10 फरवरी को राज्य के पश्चिमी हिस्से के 11 जिलों की 58 सीटों पर मतदान के साथ होगी। इसके बाद 14 फरवरी को दूसरे चरण में 55 सीटों पर, 20 फरवरी को तीसरे चरण में 59 सीटों पर, 23 फरवरी को चौथे चरण में 60 सीटों पर, 27 फरवरी को पांचवें चरण में 60 सीटों पर, तीन मार्च को छठे चरण में 57 सीटों पर और सात मार्च को सातवें तथा अंतिम चरण में 54 सीटों पर मतदान होगा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी फैसले की प्रतीक्षा में कन्हैयालाल का परिवार, नूपुर शर्मा पर भी खतरा; पर ‘सर तन से जुदा’ की नारेबाजी वाले हो गए...

रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि गौहर चिश्ती 17 जून 2022 को उदयपुर भी गया था। वहाँ उसने 'सर कलम करने' के नारे लगवाए थे।

किसानों के प्रदर्शन से NHAI का ₹1000 करोड़ का नुकसान, टोल प्लाजा करने पड़े थे फ्री: हरियाणा-पंजाब में रोड हो गईं थी जाम

किसान प्रदर्शन के कारण NHAI को ₹1000 करोड़ से अधिक का नुकसान झेलना पड़ा। यह नुकसान राष्ट्रीय राजमार्ग 44 और 152 पर हुआ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -