Saturday, July 13, 2024
Homeराजनीति'सोमनाथ में अल्लाह रहते हैं, अजमेर शरीफ में महादेव' : गुजरात चुनाव से पहले...

‘सोमनाथ में अल्लाह रहते हैं, अजमेर शरीफ में महादेव’ : गुजरात चुनाव से पहले कॉन्ग्रेस प्रत्याशी का बयान, मंच से लगाए ‘अल्लाह-हू-अकबर’ के नारे

इंद्रानील राजगुरु ने कहा कि उनके लिए तो सोमनाथ मंदिर में अल्लाह रहते हैं और महादेव अजमेर की दरगाह शरीफ में रहते हैं। वो जब भी दोनों जगहों के लिए बस में बैठते हैं तो उन्हें बराबर खुशी मिलती है

गुजरात विधानसभा चुनावों के कॉन्ग्रेस के राजकोट से प्रत्याशी इंद्रानील राजगुरु ने जनता को संबोधित करते हुए दावा किया है कि अल्लाह और महादेव एक होते हैं। उन्होंने कहा कि जब भी वो हिंदू श्रद्धालुओं के साथ बस में सोमनाथ जाते हैं और जब भी मुस्लिमों के साथ ट्रेन में बैठकर अजमेर जाते हैं तो उनको बराबर की खुशी मिलती है।

अपने भाषण में राजगुरु ने कहा, “मेरे विचार से सोमनाथ में अल्लाह हैं और अजमेर में महादेव हैं।” उन्होंने अल्लाह-हू-अकबर का नारा मंच से लगाते हुए कहा, “उन लोगों को जीतने मत देना जो लोग हमें बाँटना चाहते हैं।”

जानकारी के मुताबिक, राजगुरु इस दौरान राजकोट के जंगलेश्वर में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। यहाँ 1 दिसंबर 2022 को मतदान होने वाला है।

गुजरात में कॉन्ग्रेस के सबसे अमीर नेता में से एक

राजनैतिक करियर की बात करें तो वह सबसे पहले साल 2012 में राजकोट विधानसभा से विधायक चुने गए थे। इसके बाद साल 2018 में उन्होंने राजकोट कॉन्ग्रेस अध्यक्ष पद से अपना इस्तीफा दे दिया था। उससे पहले उन्हें कॉन्ग्रेस ने राजकोट पश्चिम सीट से उतारा था। उस समय वह गुजरात में कॉन्ग्रेस के सबसे अमीर उम्मीदवारों में से एक थे। हलफनामे में तब उनकी आया 141 करोड़ बताई गई थी। उन्होंने अपनी आया में तब साढ़े चार करोड़ कुपए की लंबोर्गिनी कार और 12 गाड़ियों का खुलासा किया था।

इंद्रानील ने माँगी राहुल गाँधी से माफी

अप्रैल 2022 में उन्हें लेकर खबर आई कि उन्होंने आम आदमी पार्टी को ज्वाइन कर लिया है। हालाँकि नवंबर 2022 में पता चला कि वो दोबारा से कॉन्ग्रेस में लौट आए हैं और उन्हें कॉन्ग्रेस ने राजकोट सीट से अपना प्रत्याशी बनाया है। कॉन्ग्रेस में लौटने के बाद उन्होंने राहुल गाँधी से माफी भी माँगी थी। उन्होंने भरी भीड़ में आम आदमी पार्टी ज्वाइन करने पर माफी माँगते हुए वह बोले थे-

“मैं भूले से भटक गया था, आम आदमी में चला गया था। वहाँ मैंने देखा एक झूठे आदमी को निकालने के चक्कर में मैं दूसरे झूठे आदमी केजरीवाल के चक्कर में फँस गया था। वो लोग बी टीम की तरह काम कर रहे हैं। मैं सबसे कहना चाहता हूँ कि उनकी बातों में मत आना। मैंने उन्हें बहुत करीब से देखा है। वो कट्टर ईमानदार नहीं भ्रष्टाचारी हैं। वो राष्ट्रवादी नहीं, वो राष्ट्रविरोधी हैं। वहाँ जाने के लिए आप लोग मुझे माफ करें।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -