Sunday, April 11, 2021
Home राजनीति मुस्लिमों को ख़ुश करने के लिए इंदिरा ने पागल महिला के सामने टेके थे...

मुस्लिमों को ख़ुश करने के लिए इंदिरा ने पागल महिला के सामने टेके थे घुटने: दे दिया था दिल्ली का महल

उस महिला ने भारत में दाखिल होते ही कहा कि वह एक नवाब की खानदानी है और इंदिरा सरकार ने उसकी यह माँग मान ली। दिल्ली के मालचा महल में जाने से पहले उसने नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के प्लेटफोर्म पर भी.....

1970 के दशक की बात है। इंदिरा गाँधी देश की प्रधानमंत्री हुआ करती थीं। एक महिला अपने दो बच्चों के साथ दिल्ली आती है और उसका दावा है कि वह अवध के आखिरी नवाब वाजिद अली शाह की वारिस हैं। उस औरत ने अपना नाम विलायत बेग़म बताया। उस महिला ने अपने बच्चों का नाम राजकुमार रज़ा महल और राजकुमारी सकीना बताया। एक रिपोर्ट के मुताबिक, उस महिला ने दावा किया कि एक समय उसका परिवार बेहद आलीशान जिंदगी जिया करता था। उसने सरकार से माँग रखी कि नई दिल्ली के चाणक्यपुरी में बसा मालचा महल उसे रहने के लिए दे दिया जाए।

महिला ने दावा किया कि उसके पति अवध की रियासत के नवाब वाजिद अली शाह के वंशज थे, सम्प्रदाय से वह लोग शिया थे और अवध रियासत के आखिरी नवाब के खानदान से ताल्लुक होने के चलते इसपर उनका हक है। बता दें कि नवाब वाजिद अली शाह को 1856 में अंग्रेजों ने कलकत्ता के पास माटियाबुर्ज में क़ैद कर दिया था।

न्यू-यॉर्क टाइम्स की एक खबर की मानें तो इस महिला ने इंदिरा गाँधी को चकमा देकर सरकार से दिल्ली के मालचा महल की संपत्ति ही हथिया ली। जब विलायत बेग़म ने अपनी माँग को लेकर इंदिरा सरकार पर दबाव डाला तो यूपी सरकार ने भी इस बात पर जोर दिया कि उसकी माँग को मान लिया जाए अन्यथा शिया समुदाय इसे अपनी तौहीनी समझेंगे। इसके बाद खुद इंदिरा गाँधी को अपनी सरकार के प्रति शिया समुदाय के विश्वास की चिंता होने लगी और उन्होंने इस मामले में घुटने टेकना ही मुनासिब समझा।

अपने दावे को और मज़बूत करने के लिए वह महिला विदेशी संवाददाताओं से मिलती जिनके ज़रिये उसकी कहानी दुनिया तक फैलती रही। 1984 आते-आते विलायत बेग़म ने भारत सरकार से समझौता करते-करते मालचा महल ले लिया। इंदिरा गाँधी ने भी इसको लेकर पूछे जाने पर सफाई पेश करते हुए कहा कि विलायत बेग़म ने सबसे कम लोकप्रिय मोनुमेंट मालचा महल को अपने रहने के लिए चुना है। बता दें कि यह खँडहर एक ज़माने में फ़िरोज़शाह तुगलक का हंटिंग लॉज हुआ करता था। तुगलक जब शिकार पर निकलते थे तो यहीं ठहरते थे। 1993 के बाद इस मालचा महल को लेकर कई जनश्रुतियाँ प्रचलित हुईं जिनमे कहा गया कि इस महल में रहने वाली विलायत बेग़म ने हीरे को पीसकर निगल लिया और आत्म-हत्या कर ली।

अवध के राजपरिवार का मालचा महल दरअसल नई दिल्ली के चाणक्यपुरी इलाके में स्थित है। कहा जाता है कि वर्ष 2016 में इस खानदान के राजकुमार प्रिंस साइरस और प्रिंस अली रजा की मौत के बाद से ही यह इमारत खाली और वीरान पड़ी है। अभी तक यही माना जाता रहा है कि विलायत बेग़म के पति वाजिद अली शाह के खानदानी थे। लेकिन, न्यू-यॉर्क टाइम्स की एक पत्रकार एलेन बैरी ने यह दावा किया कि यह महज़ एक ढोंग था। खुद को बेग़म कहने वाली विलायत और उसके बच्चों ने जो दावे किए वह झूठे थे।

दरअसल विलायत बेग़म की शादी लखनऊ में हुई थी मगर बँटवारे के वक़्त हुई हिंसा के बाद उनके पति पाकिस्तान में जा बसे। एलेन के मुताबिक, पति की मौत के बाद दिन-प्रतिदिन विलायत की हालत वहाँ बिगड़ने लगी। लखनऊ से बाहर निकलने के बाद वह खुद को संभाल नहीं पाई थी। उसकी हालत इस कदर बिगड़ती चली गई कि एक बार तो उसने पाकिस्तान के पीएम को थप्पड़ तक मार दिया था (हालाँकि एलेन ने पीएम के नाम का ज़िक्र नहीं किया है)।

इस हरकत के लिए विलायत को बड़ी सज़ा से बचाने के लिए लन्दन के एक मेंटल हॉस्पिटल में 6 महीने के लिए डाल दिया गया। उसे वहाँ मेंटल करार दे दिया गया, रोज़ इंजेक्शन लगाए जाते। विलायत ने वहाँ से निकलकर नई दिल्ली की ट्रेन पकड़ी और अपने चार बच्चों के साथ 1970 में हिन्दुस्तान भाग आई। अपने और अपने चार बच्चों से जुड़े कोई भी वैध दस्तावेज़ उस महिला के पास नहीं थे। न ही भारतीय प्रशासन ने इसके लिए उस महिला की कोई जाँच की।

उस महिला ने भारत में दाखिल होते ही कहा कि वह एक नवाब की खानदानी है और इंदिरा सरकार ने उसकी यह माँग मान ली। दिल्ली के मालचा महल में जाने से पहले उसने नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के प्लेटफोर्म पर भी कुछ साल बिताए किसी ने भी इस मामले को लेकर एक सवाल तक नहीं किया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कूच बि​हार में नेताओं की नो एंट्री, सुरक्षा बलों की 71 और कंपनियों को बंगाल भेजने का निर्देश: हिंसा के बाद EC सख्त

कूच बिहार हिंसा के बाद चुनाव आयोग ने कई सख्त कदम उठाए हैं। 5वें चरण का प्रचार भी 48 घंटे की जगह 72 घंटे पहले खत्म होगा।

‘अब आइसक्रीम नहीं धूल खाएँगे’: सचिन वाजे के तलोजा जेल पहुँचने पर अर्नब गोस्वामी ने साधा बरखा दत्त पर निशाना

डिबेट के 46 मिनट 19 सेकेंड के स्लॉट पर अर्नब ने सीधे बरखा दत्ता को उनकी अवैध गिरफ्तारी पर जश्न मनाने और सचिन वाजे जैसे भ्रष्ट अधिकारी के कुकर्मों का महिमामंडन करने के लिए लताड़ा है।

PM मोदी ने भारत में नई शक्ति का निर्माण कर सांस्कृतिक बदलाव को दिया जन्म, उन्हें रोकना मुश्किल: संजय बारू

करन थापर को दिए इंटरव्यू में राजनीतिक विश्लेषक संजय बारू ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में सांस्कृतिक बदलाव को जन्म दिया है।

बंगाल: मतदान देने आई महिला से ‘कुल्हाड़ी वाली’ मुस्लिम औरतों ने छीना बच्चा, कहा- नहीं दिया तो मार देंगे

वीडियो में तृणमूल कॉन्ग्रेस पार्टी के नेता को उस पीड़िता को डराते हुए देखा जा सकता है। टीएमसी नेता मामले में संज्ञान लेने की बजाय महिला पर आरोप लगा रहे हैं और पुलिस अधिकारी को उस महिला को वहाँ से भगाने का निर्देश दे रहे हैं।

एंटीलिया के बाहर जिलेटिन कांड के बाद सचिन वाजे करने वाला था एनकाउंटर, दूसरों पर आरोप मढ़ने की थी पूरी प्लानिंग

अपने इस काम को अंजाम देने के लिए वाजे औरंगाबाद से चोरी हुई मारुती इको का इस्तेमाल करता, जिसका नंबर प्लेट कुछ दिन पहले मीठी नदी से बरामद हुआ था।

खुद के सर्वे में हार रही TMC, मुस्लिम तुष्टिकरण से आजिज हो हिंदू BJP के साथ: क्लबहाउस पर सब कुछ बोल गए PK

बंगाल में बीजेपी क्यों जीत रही? पीएम मोदी कितने पॉपुलर? टीएमसी के आंतरिक सर्वे क्या कहते हैं? सबके बारे में क्लबहाउस पर प्रशांत किशोर ने बात की।

प्रचलित ख़बरें

‘ASI वाले ज्ञानवापी में घुस नहीं पाएँगे, आप मारे जाओगे’: काशी विश्वनाथ के पक्षकार हरिहर पांडेय को धमकी

ज्ञानवापी केस में काशी विश्वनाथ के पक्षकार हरिहर पांडेय को जान से मारने की धमकी मिली है। धमकी देने वाले का नाम यासीन बताया जा रहा।

बंगाल: मतदान देने आई महिला से ‘कुल्हाड़ी वाली’ मुस्लिम औरतों ने छीना बच्चा, कहा- नहीं दिया तो मार देंगे

वीडियो में तृणमूल कॉन्ग्रेस पार्टी के नेता को उस पीड़िता को डराते हुए देखा जा सकता है। टीएमसी नेता मामले में संज्ञान लेने की बजाय महिला पर आरोप लगा रहे हैं और पुलिस अधिकारी को उस महिला को वहाँ से भगाने का निर्देश दे रहे हैं।

पॉर्न फिल्म में दिखने के शौकीन हैं जो बायडेन के बेटे, परिवार की नंगी तस्वीरें करते हैं Pornhub अकॉउंट पर शेयर: रिपोर्ट्स

पॉर्न वेबसाइट पॉर्नहब पर बायडेन का अकॉउंट RHEast नाम से है। उनके अकॉउंट को 66 badge मिले हुए हैं। वेबसाइट पर एक बैच 50 सब्सक्राइबर होने, 500 वीडियो देखने और एचडी में पॉर्न देखने पर मिलता है।

कूच बिहार में 300-350 की भीड़ ने CISF पर किया था हमला, ममता ने समर्थकों से कहा था- केंद्रीय बलों का घेराव करो

कूच बिहार में भीड़ ने CISF की टीम पर हमला कर हथियार छीनने की कोशिश की। फायरिंग में 4 की मौत हो गई।

‘मोदी में भगवान दिखता है’: प्रशांत किशोर ने लुटियंस मीडिया को बताया बंगाल में TMC के खिलाफ कितना गुस्सा

"मोदी के खिलाफ एंटी-इनकंबेंसी नहीं है। मोदी का पूरे देश में एक कल्ट बन गया है। 10 से 25 प्रतिशत लोग ऐसे हैं, जिनको मोदी में भगवान दिखता है।"

बंगाल: हिंसा में 4 की मौत, कूच बिहार में पहली बार के वोटर को मारी गोली, हुगली में BJP कैंडिडेट-मीडिया पर हमला

बंगाल के कूच बिहार में फायरिंग में 4 लोगों की मौत हो गई। इनमें 18 साल का आनंद बर्मन भी है।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,985FansLike
82,162FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe