Tuesday, July 23, 2024
Homeराजनीतिलोगों पर 'मन की बात' का पड़ा गहरा प्रभाव: 'मन की बात @ 100'...

लोगों पर ‘मन की बात’ का पड़ा गहरा प्रभाव: ‘मन की बात @ 100’ कन्क्लेव में बोले आमिर खान – ये कम्युनिकेशन के माध्यम से नेतृत्व का तरीका

कन्क्लेव के समापन सत्र में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह इस कार्यक्रम पर बना डाक टिकट लॉन्च करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रेडियो शो ‘मन की बात’ के 100 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में ‘Mann Ki Baat@100’ नेशनल कन्क्लेव आयोजित किया गया, जिसमें कई दिग्गज नेता और सेलेब्रिटी पहुँचे। कन्क्लेव में पहुँचे आमिर खान ने कहा कि भारत के लोगों पर ‘मन की बात’ का गहरा असर पड़ा है। उन्होंने इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऐतिहासिक कार्यों में गिना। उप-राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ भी इस कन्क्लेव में मौजूद रहे।

केंद्रीय खेल और सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर भी इस मौके पर उपस्थित रहे। उन्होंने भारत के दुनिया के तीसरे सब बड़े स्टार्टअप इकोसिस्टम बनने की जानकारी देते हुए बताया कि हर दिन एक नया स्टार्टअप हो रहा है। अनुराग ठाकुर ने बताया कि कैसे भारत पहले आयत के मामले में दूसरे नंबर पर था, लेकिन अब दुनिया का सबसे बड़ा निर्माता बन गया है। कन्क्लेव के समापन सत्र में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह इस कार्यक्रम पर बना डाक टिकट लॉन्च करेंगे।

साथ ही इसी थीम पर बने 100 रुपए के विशेष सिक्के का भी विमोचन किया जाएगा। 3 अक्टूबर, 2014 को विजयादशमी त्योहार के मौके पर ‘मन की बात’ की शुरुआत हुई थी और अब इसके साढ़े 8 वर्ष हो चुके हैं। आमिर खान ने इस दौरान ये भी कहा कि संचार माध्यम से नेतृत्व करने का यही तरीका है। उन्होंने कहा कि इसमें आप बताते हैं कि आप कहाँ देख रहे हैं, भविष्य में क्या देख रहे हैं और कैसे लोग इसमें आपका साथ दे सकते हैं।

उन्होंने कहा कि ‘मन की बात’ में इस तरह के कम्युनिकेशन होते हैं, जो महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने कहा कि इसके माध्यम से प्रधानमंत्री महत्वपूर्ण मुद्दों पर अपने विचार साझा करते हैं, लोगों की सोच को समझते हैं। इस कन्क्लेव में देश भर के 100 से भी अधिक नागरिक सम्मिलित हो रहे हैं। साथ ही कई पुस्तकों का भी विमोचन किया जाएगा। अभिनेत्री रवीना टंडन भी इस कन्क्लेव में शामिल हुईं। वहीं भारतीय पैरा एथलीट दीपा मलिक ने कहा कि किसी भी क्षेत्र में आगे बढ़ कर अगर आप देश के विकास में योगदान देते हैं तो आपको पीएम मोदी की सराहना मिलती है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -