Wednesday, July 17, 2024
Homeराजनीतिमध्य प्रदेश में 'मोदी-मोदी' और 'जय श्रीराम' नारे से हुआ राहुल गाँधी की यात्रा...

मध्य प्रदेश में ‘मोदी-मोदी’ और ‘जय श्रीराम’ नारे से हुआ राहुल गाँधी की यात्रा का स्वागत, गिर कर जख्मी हुए पार्टी का महासचिव

इससे पहले कॉन्ग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ को लेकर दावा किया गया था कि राहुल गाँधी के नेतृत्व में निकाली जा रही इस यात्रा में ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाए गए।

कॉन्ग्रेस (Congress) नेता राहुल गाँधी (Rahul Gandhi) की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ (Bharat Jodo Yatra) में ‘जय श्रीराम’ और ‘मोदी-मोदी’ के नारे लगाने की खबर सामने आई है। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में राहुल की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का आज (28 नवंबर 2022) छठा दिन है। वहीं, इंदौर में यात्रा के दौरान गिर जाने से कॉन्ग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल के हाथ और घुटने में चोट लग गई है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, रविवार (27 नवंबर 2022) को इंदौर के बड़ा गणपति चौराहे से शुरू हुई यह यात्रा शहर के सांवेर रोड मॉडर्न चौराहे के पास पहुँची। तभी वहाँ खड़े कुछ युवक जोर-जोर से ‘जय श्रीराम’ और ‘मोदी-मोदी’ के नारे लगाने लग गए। युवकों को नारे लगाते देख राहुल गाँधी वहीं रुक गए। उन्होंने युवाओं को अपने पास बुलाया, लेकिन तब तक वे वहाँ से निकल गए। इसके बाद यात्रा आगे बढ़ गई।

इससे पहले कॉन्ग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ को लेकर दावा किया गया था कि राहुल गाँधी के नेतृत्व में निकाली जा रही इस यात्रा में ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाए गए। ऐसा तब हुआ जब यात्रा मध्य प्रदेश के खरगोन से गुजर रही थी। भाजपा आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय ने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट करके यह दावा किया था। उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा था, “राहुल गाँधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल होने के लिए ऋचा चड्ढा के सार्वजनिक आवेदन के बाद, खरगोन में ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगे। एमपी कॉन्ग्रेस के ट्विटर हैंडल ने इस वीडियो को पोस्ट किया, फिर इस ट्वीट को डिलीट कर दिया गया।”

यही नहीं, भाजपा ने राहुल गाँधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ को लेकर कई और आरोप भी लगाए थे। भाजपा के मुताबिक, ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल सेलेब्रिटीज को राहुल गाँधी के साथ चलने के लिए पैसे दिए जा रहे हैं। बता दें कि कन्याकुमारी से कश्मीर तक पैदल यात्रा पर निकले राहुल गाँधी की यह यात्रा 23 नवंबर को महाराष्ट्र से मध्य प्रदेश में दाखिल हुई थी। 4 दिसंबर,2022 को ‘भारत जोड़ो यात्रा’ मध्य प्रदेश से राजस्थान में प्रवेश करेगी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अमेरिकी राजनीति में नहीं थम रहा नस्लवाद और हिंदू घृणा: विवेक रामास्वामी और तुलसी गबार्ड के बाद अब ऊषा चिलुकुरी बनीं नई शिकार

अमेरिका में भारतीय मूल के हिंदू नेताओं को निशाना बनाया जाना कोई नई बात नहीं है। निक्की हेली, विवेक रामास्वामी, तुलसी गबार्ड जैसे मशहूर लोग हिंदूफोबिया झेल चुके हैं।

आज भी फैसले की प्रतीक्षा में कन्हैयालाल का परिवार, नूपुर शर्मा पर भी खतरा; पर ‘सर तन से जुदा’ की नारेबाजी वाले हो गए...

रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि गौहर चिश्ती 17 जून 2022 को उदयपुर भी गया था। वहाँ उसने 'सर कलम करने' के नारे लगवाए थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -