Wednesday, September 22, 2021
Homeराजनीतिबंगाल में बंद के दौरान चले देसी बम: TMC नेता तहीरुद्दीन शेख ने चलाई...

बंगाल में बंद के दौरान चले देसी बम: TMC नेता तहीरुद्दीन शेख ने चलाई गोली, 2 मरे

आरोप है कि बंद के दौरान शेख अपने काफिले संग पहुँचा और प्रदर्शनकारियों पर गोली चला दी। गोलीबारी की ख़बर फैलते ही क्षेत्र में हिंसा भड़क गई और लोगों ने बवाल शुरू कर दिया।

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद स्थित जांगली क्षेत्र में नागरिकता संशोधन क़ानून (CAA) को लेकर चल रहा विरोध प्रदर्शन हिंसक हो गया। हिंसा इतनी ज्यादा भड़क गई कि दो लोगों की मौत हो गई। इस घटना में तीन लोगों के घायल होने की भी ख़बर है। एक मृतक की पहचान अनारुल बिस्वास के रूप में हुई है। उसके शरीर पर गोलियों के निशान मिले हैं। ये घटना बुधवार (जनवरी 29, 2020) के दिन हुई, जब इलाक़े में बंद का आयोजन किया गया था। तभी हिंसा भड़क गई। बंद का आयोजन ‘भारतीय नागरिक मंच’ ने किया था

आरोप है कि बंद के दौरान ही तृणमूल कॉन्ग्रेस के ब्लॉक प्रमुख ताहिरुद्दीन शेख का काफिला वहाँ पहुँचा और उसमें शामिल लोगों ने प्रदर्शनकारियों पर गोली चला दी। इस गोलीबारी में 2 लोग मारे गए और 3 घायल हुए। गोलीबारी की ख़बर फैलते ही क्षेत्र में हिंसा भड़क गई और लोगों ने बवाल शुरू कर दिया। कई दोपहिया वाहनों में आग लगा दी गई और कई कारों को भी आग के हवाले कर दिया गया। हिंसा की खबरें सामने आने के बाद पुलिस की टीम को मौके पर भेजा गया ताकि स्थितियों पर नियंत्रण किया जा सके।

तृणमूल कॉन्ग्रेस के स्थानीय नेताओं ने तहीरुद्दीन शेख पर लगे आरोपों को ख़ारिज कर दिया है। टीएमसी का कहना है कि इस वारदात के पीछे सीपीएम व कॉन्ग्रेस नेताओं का हाथ है। पार्टी ने आरोप लगाया है कि उसके कार्यकर्ता जब वहाँ से गुजर रहे थे, तब कॉन्ग्रेस और सीपीएम के स्थानीय नेताओं ने उन पर हमला कर दिया। वहीं पुलिस की मानें तो सीएए को लेकर जांगली में दो समूहों के बीच बहस शुरू हो गई जो झड़प में बदल गई। फ़िलहाल घायलों का इलाज मुर्शिदाबाद मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में किया जा रहा है।

ख़बरों के अनुसार, मुर्शिदाबाद में हुई हिंसा में देशी बमों का भी इस्तेमाल किया गया। फ़िलहाल तीनों पार्टियों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है।

भारत बंद के दौरान बंगाल में रेल पटरी को उड़ाने की साजिश, बसों पर पथराव: देखें Video

ममता के बंगाल में हिंसा के ख़िलाफ़ BJP ने किया बंद का आह्वान, TMC कार्यकर्ताओं ने जमकर मचाया उत्पात

ममता के बंगाल में सरस्वती पूजा को लेकर हिन्दू छात्रों को पीटा गया, शिक्षक ने टॉयलेट में छिपकर बचाई जान

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को भूला देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती’: दादरी में CM योगी

सीएम ने कहा, "राजा मिहिर भोज नौंवी सदी के एक महान धर्मरक्षक थे। जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को विस्मृत कर देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती।''

‘साड़ी स्मार्ट ड्रेस नहीं’- दिल्ली के अकीला रेस्टोरेंट ने महिला को रोका: ‘ओछी मानसिकता’ पर भड़के लोग, वीडियो वायरल

अकीला रेस्टोरेंट के स्टाफ ने महिला से कहा कि चूँकि साड़ी स्मार्ट आउटफिट नहीं है इसलिए वो उसे पहनने वाले लोगों को अंदर आने की अनुमति नहीं देते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,748FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe