Saturday, July 20, 2024
Homeराजनीति'मुस्लिमों-ईसाईयों की हो घर वापसी, मंदिर-मठ लें जिम्मेदारी': बोले तेजस्वी सूर्या - हिन्दू धर्म...

‘मुस्लिमों-ईसाईयों की हो घर वापसी, मंदिर-मठ लें जिम्मेदारी’: बोले तेजस्वी सूर्या – हिन्दू धर्म को मिटाने की कोशिश करने वालों को पहचानें

"हिंदुओं के पास एक ही विकल्प बचा है कि उन सभी का फिर से धर्मांतरण किया जाए जो हिंदू धर्म से बाहर हो गए हैं। कोई दूसरा उपाय नहीं है। हमें आश्चर्य होता है कि क्या यह संभव है?"

भाजपा (BJP) सांसद तेजस्वी सूर्या ने (Tejasvi Surya) धर्मान्तरण (Religious Conversion) कर मुस्लिम और ईसाई बने लोगों की ‘घर वापसी’ (Ghar Wapsi) करवाने की बात कही है। उन्होंने कहा कि इतिहास में धर्मान्तरण कर दूसरे धर्मों में शामिल कराए गए समूहों को युद्ध स्तर पर हिंदू धर्म (Hindu religion) में वापस लाया जाना चाहिए। भाजपा सांसद ने ये भी कहा कि घर वापसी करवाने के मिशन की जिम्मेदारी मंदिरों और मठों को लेनी होगी।

तेजस्वी सूर्या ने ये बयान उडुपी में कृष्ण मठ में 25 दिसंबर 2021 को आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कही। उन्होंने हिंदू मान्यता और विचारधाराओं को मजबूत बनाने की अपील की। बीजेपी सांसद के मुताबिक, पश्चिमी विचार जैसे साम्यवाद, मक्कावाद और उपनिवेशवाद का उद्देश्य सनातन धर्म (Sanatan Dharm) को खत्म करना है। इसे समझने की जरूरत है। अपने दुश्मनों को हराओ। सूर्या के मुताबिक, “अगर आपको नहीं पता कि आपका असली दुश्मन कौन है तो आप कभी भी अपना बचाव नहीं कर सकते हैं।” हिंदू धर्म को मिटाने की कोशिश करने वालों की पहचान करना हिंदू जाति के लिए बहुत ही आवश्यक हो गया है।

उनके बयान का वीडियो अब वायरल हो रहा है। इसमें सूर्या यह कहते हुए दिखा दे रहे हैं, “हिंदुओं के पास एक ही विकल्प बचा है कि उन सभी का फिर से धर्मांतरण किया जाए जो हिंदू धर्म से बाहर हो गए हैं। कोई दूसरा उपाय नहीं है। हमें आश्चर्य होता है कि क्या यह संभव है, क्योंकि यह स्वाभाविक रूप से हमारे पास नहीं है। लेकिन आज हमें इसे खुद में विकसित करना होगा। यह कायापलट हमारे डीएनए में आना चाहिए।”

तेजस्वी ने घर वापसी की प्रक्रिया को प्राथमिकता देने की अपील करते हुए कहा, “हमने इस देश में राम मंदिर बनाया है। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाया गया है। हमें पाकिस्तान के मुस्लिमों की हिंदू धर्म घर वापसी करवानी चाहिए। हमें घर वापसी को प्राथमिकता देनी होगी। अखंड भारत के विचार में पाकिस्तान शामिल है। मठों और मंदिरों को इस संबंध में नेतृत्व करना चाहिए।” भाजपा सांसद का कहना है कि मंदिरों और मठों में लोगों का ‘वार्षिक लक्ष्य’ होना चाहिए कि वे फिर से हिंदू धर्म में परिवर्तित हो जाएँ।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -