Thursday, July 25, 2024
Homeराजनीति'दलित-मुस्लिम साथ चलेगा, बाबर जैसा राज चलेगा': अलीगढ़ में AIMIM नेता का विवादित बोल,...

‘दलित-मुस्लिम साथ चलेगा, बाबर जैसा राज चलेगा’: अलीगढ़ में AIMIM नेता का विवादित बोल, कहा- इंशाल्लाह वो दिन जरूर आएगा

अलीगढ़ AIMIM का जिलाध्यक्ष गुफरान नूर ने कहा, "हमारे इस्लाम में ना खुद मरने की इजाजत है और ना किसी को मारने की इजाजत है, लेकिन जालिम जब जुल्म हद पार कर जाए तो उसे....(मारने का इशारा करते हुए)। उसे अपने बीच से हटाने (यानी मारने) की इजाजत है।"

उत्तर प्रदेश में जैसे-जैसे विधानसभा (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) का समय नजदीक आता जा रहा है, वैसे-वैसे भारत एवं हिंदू विरोधी बयानों की बौछार होती जा रही है। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) के नक्श-ए-कदम पर चलते हुए उनकी पार्टी के नेता भड़काऊ बयानबाजी को मुस्लिम वोटों का ध्रुवीकरण करने का प्रयास कर रहे हैं।

अलीगढ़ के जमालपुर इलाके में AIMIM की एक नुक्कड़ सभा में मुस्लिम आक्रांता बाबर की राज लाने का संदेश दिया जा रहा है। पार्टी के जिलाध्यक्ष गुफरान नूर ने सभा के दौरान नारा दिया ‘दलित-मुस्लिम साथ चलेगा, बाबर जैसा राज चलेगा’। सभा में मौजूद लोगों ने भी इस नारे को दोहराया। इस दौरान सभा में 5-6 साल के छोटे-छोटे बच्चे भी नजर आए। छोटे-छोटे बच्चों के मन में इस तरह का विष भरने का काम लगातार जारी है। इस दौरान नूर ने हिंदुओं को मारने सहित कई भड़काऊ और आपत्तिजनक बातें कहीं।

नूर ने आगे कहा, “अभी हरिद्वार के अंदर धर्म संसद हुई थी। आपने देखा होगा कि वहाँ एक धर्म विशेष को काटने की बात होती है, एक समुदाय को काटने की बात होती है। कौन था वो समुदाय जिसे काटने की बात हो रही थी? वो था मुस्लिम समुदाय। कुछ हिंदुत्व का चोला पहने आतंकवादी उस धर्म संसद में एक समुदाय को काटने की बात कर रहे थे।”

मुस्लिमों को हत्या के लिए उकसाते हुए गुफरान नूर ने कहा, “हमारे इस्लाम में ना खुद मरने की इजाजत है और ना किसी को मारने की इजाजत है, लेकिन जालिम जब जुल्म हद पार कर जाए तो उसे….(मारने का इशारा करते हुए)। उसे अपने बीच से हटाने (यानी मारने) की इजाजत है।”

गुफरान ने कहा, “अगर दलित और मुस्लिम एक हुए तो इंशाअल्लाह हम पूरे हिंदुस्तान के अंदर हम लोग राज कर सकते हैं, चाहे वो किसी भी हद तक हो। बाबर कोई गलत नहीं था। जैसे हालात चल रहे हैं, बाबर जैसा शासन होना चाहिए। इंशाल्लाह वो दिन जरूर आएगा कि एक दिन बाबर जैसा राज होगा।” उन्होंने कहा कि इस्लाम ये नहीं कहता कि एक बच्चा बनाएँ या दो बच्चा बनाएँ। खिलाने वाले अल्लाह-ताला हैं, परवरिश करने वाला अल्लाह-ताला है।

बता दें कि AIMIM चीफ ओवैसी ने मुरादाबाद में लोगों को भड़काते हुए कहा था कि म्यामांर के मुस्लिमों की तरह भारत के मुस्लिमों का भी रोहिंग्या जैसा हाल हो जाएगा। ओवैसी ने कहा था कि मुस्लिम अब दूसरे को राज करने के लिए नहीं चुनेंगे, बल्कि खुद राज करेंगे। उन्होंने कहा, “वे चाहते हैं कि एक मुसलमान दरी बिछाता रहे… दरी बिछाता रहे… उसे बेशरम किया जाए, लेकिन उसके मुकद्दर में दरी बिछाना नहीं है। मैं तुमसे कहता हूँ… अब तुम दर्री नहीं बिछाओगे, अब तुम कुर्सी पर बैठोगे और राज भी करोगे… इंशाल्लाह।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -