Saturday, July 20, 2024
Homeराजनीति'उत्तराखंड में एक भी भ्रष्टाचारी नहीं बचेगा, 1064 नंबर पर करें शिकायत': CM धामी...

‘उत्तराखंड में एक भी भ्रष्टाचारी नहीं बचेगा, 1064 नंबर पर करें शिकायत’: CM धामी ने पर्चा लीक का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को किया सम्मानित

सीएम धामी ने कहा कि उत्तराखंड देव भूमि ही नहीं, वीर भूमि भी है। उन्होंने जानकारी दी कि उत्तराखंड में भव्य सैन्य धाम की स्थापना की जा रही है और हमारी सरकार बलिदानी सैनिकों के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दे रही है।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार (15 अगस्त, 2022) को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर स्पष्ट कर दिया कि राज्य में एक भी भ्रष्टाचारी नहीं बचेगा। सीएम धामी ने हाल ही में यूकेएसएसएससी (UKSSSC) पेपर लीक मामले का खुलासा करने वाली उत्तराखंड एसटीएफ टीम को मुख्यमंत्री सराहनीय सेवा पदक से सम्मानित किया। इसके साथ ही अन्य पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को भी अपने क्षेत्र में अच्छे कार्यों के लिए सम्मानित किया गया।

एसटीएफ की कमान संभाल रहे अजय सिंह और उनके टीम के साथी उपनिरीक्षक दिलवर सिंह, नरोत्तम बिष्ट, उमेश कुमार, विपिन बहुगुणा को सीएम ने मुख्यमंत्री सराहनीय सेवा पदक से सम्मानित किया गया। UKSSSC पेपर लीक मामले में अब तक एक दर्जन से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर सीएम धामी ने जनहित में किए जा रहे सरकार के कार्यों के बारे में भी जनता को बताया। सीएम धामी ने कहा कि हमने अपने वादे के अनुसार ‘समान नागरिक संहिता’ के लिए समिति का गठन कर दिया है। उन्होंने जानकारी दी कि भ्रष्टाचार को उजागर करने के लिए आम व्यक्ति कदम उठा सकता है और 1064 में फोन कर भ्रष्टाचारियों के खिलाफ शिकायत की जा सकती है।

सीएम धामी ने कहा कि सरकार गरीब परिवारों को तीन सिलेंडर मुफ्त उपलब्ध करवाने जा रही है। इसके लिए बजट में प्रावधान किया गया है। उन्होंने ये जानकारी भी दी कि सरकार पर्यटन को बढ़ाना देने के लिए काम कर रही है। उन्होंने पर्वतीय इलाकों में रोपवे नेटवर्क का निर्माण, सर्फेस पार्किंग के साथ मल्टीस्टोरी पार्किंग, केविटी पार्किंग, टनल पार्किंग विकिसित किए जाने की जानकारी भी जनता को दी।

सीएम धामी ने कहा कि उत्तराखंड देव भूमि ही नहीं, वीर भूमि भी है। उन्होंने जानकारी दी कि उत्तराखंड में भव्य सैन्य धाम की स्थापना की जा रही है और हमारी सरकार बलिदानी सैनिकों के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दे रही है।

UKSSSC पेपर लीक मामला

बता दें कि उत्तरखंड सेवा चयन आयोग की परीक्षा में नकल माफिया ने पेपर लीक करवाया था। पुलिस का कहना है कि पूछताछ के बाद सामने आया है कि इस केस के तार यूपी नकल माफिया से जुड़े हैं। इस मामले में पेपर लीक कराने वाले कर्मचारियों के साथ अब तक 17 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

इस मामले में शनिवार (13 अगस्त, 2022) को एक पीटी टीचर को गिरफ्तार किया गया है। शिक्षक ने पूछताछ में कई अहम राज खोले हैं। ये शिक्षक उत्तरकाशी इलाके में सरकारी नौकरियों का सौदागर कहे जाने वाले मास्टरमाइंड का खास बताया जा रहा है।

एसएसपी अजय सिंह ने बताया है कि गिरफ्तार शिक्षक ने पेपर लीक मामले में उत्तर प्रदेश के कई नकल माफिया के नाम बताए हैं। कई सालों से ये मिलकर नकल का खेल, खेल रहे हैं। इस मामले में यूपी और उत्तराखंड के नकल माफिया के गठजोड़ का खुलासा हुआ है। एसएसपी का कहना है कि इस केस के मास्टरमाइंड को भी जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

टीम से बाहर होने पर मोहम्मद शमी का वायरल वीडियो, कहा – किसी के बाप से कुछ नहीं लेता हूँ, बल्कि देता हूँ

"मुझे मौका दोगे तभी तो मैं अपनी स्किल दिखाऊँगा, जब आप हाथ में गेंद दोगे। मैं सवाल नहीं पूछता। जिसे मेरी ज़रूरत है, वो मुझे मौका देगा।"

थूक लगी रोटी सोनू सूद को कबूल है, कबूल है, कबूल है! खुद की तुलना भगवान राम से, खाने में थूकने वाले उनके लिए...

“हमारे श्री राम जी ने शबरी के जूठे बेर खाए थे तो मैं क्यों नहीं खा सकता। बस मानवता बरकरार रहनी चाहिए। जय श्री राम।” - सोनू सूद

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -