Saturday, July 20, 2024
Homeराजनीतिविजय सिन्हा और सम्राट चौधरी बिहार के नए डिप्टी CM, 2 आक्रामक चेहरों को...

विजय सिन्हा और सम्राट चौधरी बिहार के नए डिप्टी CM, 2 आक्रामक चेहरों को BJP ने किया आगे: सामान्य वर्ग को भी साधा, ‘लव-कुश’ भी पाले में

उधर राजद सुप्रीमो लालू यादव की बेटी रोहिणी आचार्य ने 'कूड़ा फिर से गया कूड़ेदानी में' लिख कर नीतीश कुमार पर निशाना साधा है।

बिहार में एक बार फिर से नीतीश कुमार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं। वहीं उप-मुख्यमंत्री के रूप में भाजपा ने इस बार 2 चौंकाने वाले चेहरों के नाम आगे किए हैं। विधानसभा अध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष रहे विजय कुमार सिन्हा को डिप्टी CM बनाया गया है। वहीं प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी भी डिप्टी CM बनने जा रहे हैं। साफ़ है, 2 आक्रामक चेहरों को आगे कर के भाजपा नीतीश कुमार का भी नकेल कस के रखेगी। दोनों ही नेता अपनी सक्रियता और जनता से कनेक्शन के कारण भी जाने जाते हैं।

बता दें कि नीतीश कुमार ने राजद का साथ छोड़ कर भाजपा के साथ हाथ मिलाया है। इस्तीफा देकर उन्होंने फिर से मुख्यमंत्री पद का शपथ लेने की योजना बनाई। वो अपने पुरानी साथी भाजपा के पास लौट आए हैं। उधर राजद सुप्रीमो लालू यादव की बेटी रोहिणी आचार्य ने ‘कूड़ा फिर से गया कूड़ेदानी में’ लिख कर नीतीश कुमार पर निशाना साधा है। शाम के 5 बजे शपथग्रहण समारोह होगा। वहीं जदयू नेता KC त्यागी ने कहा है कि कॉन्ग्रेस ने I.N.D.I. गठबंधन को हड़पने की कोशिश की।

विजय कुमार सिन्हा 2010 से लखीसराय विधानसभा क्षेत्र से जीतते रहे हैं और वहाँ उनका खासा प्रभाव है। भूमिहार समाज से आने वाले विजय सिन्हा को उप-मुख्यमंत्री बनाने के साथ ही भाजपा सवर्णों को भी साधेगी। पिछड़ों के लिए चल रहीं मोदी सरकार की योजनाओं का भी प्रचार-प्रसार किया जाएगा। विजय कुमार सिन्हा इससे पहले भी मंत्री रहे हैं। तिलकपुर में जन्मे विजय सिन्हा 56 वर्ष के हैं। बतौर स्पीकर भी सदन में उनके रुख की अक्सर चर्चा होती रहती थी।

वहीं सम्राट चौधरी के जरिए भाजपा लव-कुश समीकरण को अपने पक्ष में करेगी। कुर्मी समाज से आने वाले नीतीश कुमार और कोइरी समाज के उपेंद्र कुशवाहा भी भाजपा के साथ हैं। इसी समाज से सम्राट चौधरी भी आते हैं, जिनके पिता शकुनि चौधरी का मुंगेर और खगड़िया जिलों में कई दशकों तक प्रभाव रहा है। सम्राट चौधरी विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष रहे हैं। उससे पहले वो राबड़ी देवी की सरकार और नीतीश कुमार की सरकार में भी मंत्री रहे हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -