Sunday, May 26, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयकाबुल में तालिबान द्वारा 'किडनैप' किए गए सभी 150 भारतीय सुरक्षित, अगली उड़ान से...

काबुल में तालिबान द्वारा ‘किडनैप’ किए गए सभी 150 भारतीय सुरक्षित, अगली उड़ान से आ रहे हैं वापस

"भारत सरकार के सूत्रों ने जानकारी दी है कि काबुल में सभी भारतीय सुरक्षित हैं और भारतीय राजनयिकों के संपर्क में हैं। उन्होंने बताया कि अब इन लोगों को स्वदेश वापस लाने की तैयारी चल रही है।"

अफगानिस्तान के स्थानीय पत्रकारों ने दावा किया कि तालिबान ने काबुल हवाई अड्डे से लगभग 150 भारतीयों का अपहरण कर लिया है। हालाँकि बाद में, तालिबान ने इन आरोपों को खारिज कर दिया और रिपोर्ट का खंडन किया। अब, मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यह दावा किया जा रहा है कि सभी भारतीय सुरक्षित हैं।

अफगानिस्तान में भारतीयों के मौजूदा हालात को लेकर पत्रकार आदित्य राज कौल के मुताबिक भारत सरकार के सूत्रों ने जानकारी दी है कि काबुल में सभी भारतीय सुरक्षित हैं और भारतीय राजनयिकों के संपर्क में हैं। उन्होंने बताया कि अब इन लोगों को स्वदेश वापस लाने की तैयारी चल रही है।

सूत्रों के हवाले से ऑपइंडिया को भी इस बात की जानकारी मिली है कि वापस आने वाले सभी भारतीय सुरिक्षत हैं और उन्होंने फ्लाइट ले ली है।

ज्ञात हो कि कुछ दिन पहले जब तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया था उसके बाद भी भारतीयों को वहाँ से निकालने में मदद की थी। दरअसल, तालिबान द्वारा लगाए गए सड़क बैरियर्स के कारण भारतीय हवाईअड्डे तक नहीं पहुँच पा रहे थे। इसके बाद कथित तौर पर भारत सरकार ने तालिबान से भारतीयों को देश छोड़ने की अनुमति देने के लिए संपर्क किया था।

तालिबान के काबुल शहर में पहुँचने के बाद भारतीय दूतावास में जमा हुए लगभग 50 लोगों को रविवार को ही निकाल लिया गया था, और बाकी लगभग 150 लोगों को अगले दिन निकाला जाना था, क्योंकि भारत सरकार ने काबुल में मिशन को बंद करने का फैसला किया था।

गौरतलब है कि तालिबान ने रविवार (15 अगस्त 2021) को अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पर कब्जा कर लिया था और वहाँ उसने राष्ट्रपति भवन को अपने कब्जे में ले लिया था। वहीं पूर्व राष्ट्रपति अशरफ गनी देश ही छोड़ कर UAE चले गए थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

Cyclone Remal: 130-140km/h की रफ्तार से आएगा चक्रवात, तटीय जिलों में रेड अलर्ट, रेल-प्लेन सब ठप – तूफान के नाम में 13 देशों का...

रेमल चक्रवाती तूफान की वजह से हवाएँ 130-140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलेंगी। इस चक्रवाती तूफान की वजह से भारी तबाही की आशंका जताई जा रही है।

भोजशाला में ASI सर्वे में मिला पाषाण अवशेष, भगवान सूर्य के आठों पहर के बने हैं चिन्ह: मजार बना मुस्लिम पढ़ने लगे नमाज, माँ...

भोजशाला में सर्वे के लिए अब जमीन के नीचे क्या है, इसका पता लगाने के लिए ग्राउंड पेनेट्रेटिंग राडार का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसे हैदराबाद से लाया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -