Sunday, September 19, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयकाबुल में तालिबान द्वारा 'किडनैप' किए गए सभी 150 भारतीय सुरक्षित, अगली उड़ान से...

काबुल में तालिबान द्वारा ‘किडनैप’ किए गए सभी 150 भारतीय सुरक्षित, अगली उड़ान से आ रहे हैं वापस

"भारत सरकार के सूत्रों ने जानकारी दी है कि काबुल में सभी भारतीय सुरक्षित हैं और भारतीय राजनयिकों के संपर्क में हैं। उन्होंने बताया कि अब इन लोगों को स्वदेश वापस लाने की तैयारी चल रही है।"

अफगानिस्तान के स्थानीय पत्रकारों ने दावा किया कि तालिबान ने काबुल हवाई अड्डे से लगभग 150 भारतीयों का अपहरण कर लिया है। हालाँकि बाद में, तालिबान ने इन आरोपों को खारिज कर दिया और रिपोर्ट का खंडन किया। अब, मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यह दावा किया जा रहा है कि सभी भारतीय सुरक्षित हैं।

अफगानिस्तान में भारतीयों के मौजूदा हालात को लेकर पत्रकार आदित्य राज कौल के मुताबिक भारत सरकार के सूत्रों ने जानकारी दी है कि काबुल में सभी भारतीय सुरक्षित हैं और भारतीय राजनयिकों के संपर्क में हैं। उन्होंने बताया कि अब इन लोगों को स्वदेश वापस लाने की तैयारी चल रही है।

सूत्रों के हवाले से ऑपइंडिया को भी इस बात की जानकारी मिली है कि वापस आने वाले सभी भारतीय सुरिक्षत हैं और उन्होंने फ्लाइट ले ली है।

ज्ञात हो कि कुछ दिन पहले जब तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया था उसके बाद भी भारतीयों को वहाँ से निकालने में मदद की थी। दरअसल, तालिबान द्वारा लगाए गए सड़क बैरियर्स के कारण भारतीय हवाईअड्डे तक नहीं पहुँच पा रहे थे। इसके बाद कथित तौर पर भारत सरकार ने तालिबान से भारतीयों को देश छोड़ने की अनुमति देने के लिए संपर्क किया था।

तालिबान के काबुल शहर में पहुँचने के बाद भारतीय दूतावास में जमा हुए लगभग 50 लोगों को रविवार को ही निकाल लिया गया था, और बाकी लगभग 150 लोगों को अगले दिन निकाला जाना था, क्योंकि भारत सरकार ने काबुल में मिशन को बंद करने का फैसला किया था।

गौरतलब है कि तालिबान ने रविवार (15 अगस्त 2021) को अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पर कब्जा कर लिया था और वहाँ उसने राष्ट्रपति भवन को अपने कब्जे में ले लिया था। वहीं पूर्व राष्ट्रपति अशरफ गनी देश ही छोड़ कर UAE चले गए थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिख नरसंहार के बाद छोड़ दी थी कॉन्ग्रेस, ‘अकाली दल’ में भी रहे: भारत-पाक युद्ध की खबर सुन दोबारा सेना में गए थे ‘कैप्टेन’

11 मार्च, 2017 को जन्मदिन के दिन ही कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पंजाब में बहुमत प्राप्त हुआ और राज्य में कॉन्ग्रेस के लिए सत्ता का सूखा ख़त्म हुआ।

अडानी समूह के हुए ‘The Quint’ के प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर, गौतम अडानी के भतीजे के अंतर्गत करेंगे काम

वामपंथी मीडिया पोर्टल 'The Quint' में बतौर प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर कार्यरत रहे संजय पुगलिया अब अडानी समूह का हिस्सा बन गए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,106FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe