Thursday, July 18, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय3 मंदिरों में लटका दिया बीफ का थैला, बांग्लादेश में फिर से दंगा फैलाने...

3 मंदिरों में लटका दिया बीफ का थैला, बांग्लादेश में फिर से दंगा फैलाने की साजिश: कुरान के अपमान की झूठी अफवाह फैला कर हुआ था कत्लेआम

इस घटना के विरोध में हिंदू समुदाय के लोग गाँव के श्रीश्री राधा गोविंद मंदिर में इकट्ठा होकर इस कृत्य का विरोध किया। हिंदुओं ने कहा है कि इससे उनकी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने का काम किया गया है।

बांग्लादेश (Bangladesh) में कट्टरपंथी एक बार फिर से नफरत और साम्प्रदायिक दंगा (Communal riots) फैलाने की कोशिशें कर रहे हैं। इसी क्रम में हातिबंध उपजिला के गेंडुकुरी गाँव हिंदुओं के तीन मंदिरों और एक ग्रामीण के घर के बाहर कट्टरपंथियों ने प्लास्टिक के थैले में मांस भरकर लटका दिया। इससे इलाके में साम्प्रदायिक तनाव स्थिति उत्पन्न हो गई है।

रिपोर्ट के मुताबिक, इस घटना को लेकर हातिबंध उपजिले की पूजा उद्यापन परिषद के अध्यक्ष दिलीप कुमार सिंह ने कहा कि यह घटना शुक्रवार (31 दिसंबर 2021) की रात गेंडुकुरी कैंप पाड़ा में स्थित श्रीश्री राधा गोविंद मंदिर, गेंडुकुरी कुठीपाड़ा काली मंदिर, गेंडुकुरी बट्टाला काली मंदिर और मोनिंद्रनाथ बर्मन के घर के बाहर बीफ के थैले लटकाए गए। इस मामले में हातिबंध थाने में चार केस दर्ज किए गए हैं।

इस घटना के विरोध में हिंदू समुदाय के लोग गाँव के श्रीश्री राधा गोविंद मंदिर में इकट्ठा होकर इस कृत्य का विरोध किया। हिंदुओं ने कहा है कि इससे उनकी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने का काम किया गया है। ऐसे में जब तक आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती, विरोध होता रहेगा। इस घटना को लेकर दिलीप सिंह ने आशंका व्यक्त की है कि शायद 26 दिसंबर 2021 को हुए स्थानीय परिषद चुनाव के कारण ऐसा किया गया हो।

वहीं इस घटना को लेकर हातिबंध थाने के प्रभारी इरशादुल आलम ने शनिवार को कड़ी कार्रवाई करने की बात करते हुए बताया कि घटना को लेकर जाँच की जा रही है। पुलिस अधिकारी ने कहा कि इस कृत्य में शामिल सभी लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया जाएगा।

इससे पहले भी हो चुकी है ऐसी घटना

ऐसा नहीं है कि बांग्लादेश में इस तरह की कोई पहली घटना है। इससे पहले अक्टूबर 2021 में नवरात्रि के दौरान बांग्लादेश में दुर्गा पूजा पंडाल में कुरान का अपमान किए जाने की तस्वीर कथित तौर पर सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी। इसके बाद कट्टरपंथियों ने बड़े पैमाने पर हिंदुओं का नरसंहार किया था। लेकिन बाद में में पता चला कि इकबाल हुसैन नाम के आरोपित ने ही कुरान की प्रतियाँ दुर्गा पूजा पंडाल में रखी थी। उसे गिरफ्तार भी कर लिया गया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

काँवड़ यात्रा पर किसी भी हमले के लिए मोहम्मद जुबैर होगा जिम्मेदार: यशवीर महाराज ने ‘सेकुलर’-इस्लामी रुदालियों पर बोला हमला, ढाबों मालिकों की सूची...

स्वामी यशवीर महाराज ने 18 जुलाई 2024 को एक वीडियो बयान जारी कर इस्लामिक कट्टरपंथियों और तथाकथित 'सेकुलरों' को आड़े हाथों लिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -