Sunday, July 14, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयकुरान लेकर आए थे हमास के आतंकी, दोस्तों के शवों के सामने ही महिलाओं...

कुरान लेकर आए थे हमास के आतंकी, दोस्तों के शवों के सामने ही महिलाओं से किया रेप… चश्मदीदों ने बताई बर्बरता, संगीत समारोह में लगा शवों का ढेर​

आतंकियों ने बलात्कार करने के बाद कई महिलाओं की हत्या कर दी। कई को अगवा कर गाजा ले गया, जहाँ उनको शहर भर में मारते-पीटते हुए घुमाया गया। एक अन्य चश्मदीद जो कि घटनास्थल पर हमले के बाद भी गया था ने बताया कि उसने महिलाओं कि क्षत-विक्षत लाशें देखी।

हमास के इस्लामी आतंकियों की बर्बरता जिस जगह पर सबसे ज्यादा देखी गई है, वह इलाका गाजा बॉर्डर से सटा है। दक्षिणी इजरायल के इस हिस्से में एक संगीत समारोह पर आतंकियों ने हमला किया था। यहाँ से अब तक 260 शव मिलने की पुष्टि हो चुकी है। चश्मदीदों के मुताबिक दोस्तों की शवों के पास ही महिलाओं से आतंकियों ने बलात्कार किया।

7 अक्टूबर 2023 को इजरायल पर हमास आतंकियों के हमले में 700 से अधिक लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। सबसे अधिक मौतें संगीत समारोह पर हुए हमले में हुई। म्यूजिक फेस्टिवल में 4000 से अधिक लोग शामिल थे। हमास के आतंकियों ने घेर कर इन पर हमला किया है।

इस हमले में जीवित बचे लोगों से बातचीत पर टैबलेटमैग ने एक रिपोर्ट प्रकाशित की है। चश्मदीदों के अनुसार पार्टी पर हमला सुबह 7 बजे चालू हुआ। पार्टी अपने चरम पर थी और अधिकांश लोग संगीत में डूबे थे। सबसे पहले कुछ धमाकों की आवाज सुनाई दी। इसके बाद पुलिस ने लोगों को मौके से निकालना शुरू किया।

लेकिन इसके 5 मिनट के भीतर ही हमास के आतंकी पिकअप ट्रक्स में भरकर आए और पूरे इलाके को चारों तरफ से घेर लिया। उन्होंने फायरिंग शुरू कर दी। लोग जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे।

लोगों ने नेगेव रेगिस्तान की तरफ भागने का प्रयास किया तो आतंकियों ने उधर से भी घेराबंदी कर दी। एक चश्मदीद ने बताया कि कुछ हमास आतंकियों ने एक लड़के के साथ आई उसकी महिला मित्र को अगवा कर लिया। उसने यह भी बताया कि पार्टी में आई महिलाओं का हमास के आतंकियों ने उनके दोस्तों के शवों के सामने ही बलात्कार किया।

आतंकियों ने बलात्कार करने के बाद कई महिलाओं की हत्या कर दी। कई को अगवा कर गाजा ले गया, जहाँ उनको शहर भर में मारते-पीटते हुए घुमाया गया। एक अन्य चश्मदीद जो कि घटनास्थल पर हमले के बाद भी गया था ने बताया कि उसने महिलाओं कि क्षत-विक्षत लाशें देखी। इन्हें नजदीक से गोली मारी गई थी। उसके अनुसार गाड़ियों पर भी गोलियाँ बरसाई गईं थी और ग्रेनेड से उन्हें उड़ा दिया गया था।

हमास के हमले में जिन्दा बचे कुछ लोगों ने बताया कि वो भाग कर पास की झाड़ियों में छुप गए थे। हमास के आतंकी उन्हें देख नहीं पा रहे थे लेकिन चारों तरफ से गोलियों की बौछार हो रही थी। बचने वालों का कहना है कि वह घंटों तक ऐसे ही पड़े रहे। बाद में कुछ लोगों ने पास की सड़क पर जाने का फैसला किया। इजरायल के सुरक्षा बलों ने इलाके को हमास से खाली करवाने के बाद इन लोगों को बचाया। इजरायली सुरक्षा बलों को हमास के आतंकियों की गाड़ियों से गोला-बारूद और और कुरान की प्रतियाँ मिली हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -