Wednesday, October 20, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयइस्लामी आतंक का बर्बर चेहरा: मात्र 1 हफ्ते में ली 221 लोगों की जान,...

इस्लामी आतंक का बर्बर चेहरा: मात्र 1 हफ्ते में ली 221 लोगों की जान, 11 देशों पर हुए 38 हमले – मीडिया रिपोर्ट

9 दिन के आँकड़े देखें तो इस्लामी आतंक का शिकार कुल 280 लोग हुए। इसके अलावा 30 दिन के अंदर 135 इस्लामी हमले 21 देशों में हुए, जिसमें करीब 662 लोग मारे गए और 646 घायल हुए।

इस्लामी आतंकियों ने विश्व के हर कोने में कहर मचा रखा है। कुछ देश ऐसे भी हैं, जिन्होंने अभी हाल ही में इनकी बर्बरता झेली। एक जानकारी के अनुसार, अगस्त माह में केवल 7 दिनों के भीतर इस्लामी आतंकियों ने 11 देशों पर आक्रमण किया और 221 लोगों को मारा।

वहीं, 9 दिन के आँकड़े देखें तो इस्लामी आतंक का शिकार कुल 280 लोग हुए। इसके अलावा 30 दिन के अंदर 135 इस्लामी हमले 21 देशों में हुए, जिसमें करीब 662 लोग मारे गए और 646 घायल हुए।

सभी आँकड़े द रिलिजियन ऑफ पीस वेबसाइट के अनुसार:

1 अगस्त 2020:

  • अफ़गानिस्तान के तरीन कोट में तालिबानियों ने एक बाग में बम फिट किया, जिसके कारण एक निवासी की मौत हो गई।
  • इसी दिन अफ़गानिस्तान के खोदजे में सामाजिक कार्यकर्ता का अपहरण हुआ और बाद में कट्टरपंथियों ने उसे मार डाला।
  • नाइजीरिया के नसरवा में भी इस दिन गोलीबारी की घटना हुई। इस घटना में 5 लोग मारे गए और 14 घायल हुए। वेबसाइट बताती है कि इस घटना के पीछे भी संप्रदाय विशेष के आतंकियों का हाथ संदिग्ध है।
  • साइरिया के डेर एज्जोर में ISIS का हमला हुआ, जिसमें 4 लोग मारे गए और 2 घायल हुए। 

2 अगस्त 2020:

  • इथियोपिया के गुबा में संप्रदाय विशेष के आतंकियों के हमले में 13 नागरिकों को अपनी जान गँवानी पड़ी और 6 घायल हुए।
  • बुर्किना फासो के औएहिगौया में कट्टरपंथियों ने एक आईडी हमला किया। इस हमले में 6 लोग मारे गए और 4 घायल हुए।
  • साइरिया के डेर एज्जोर में ISIS ने दो लोगों की हत्या की। इनमें एक तो लोकल इंवेस्टिगेटर था, जिसे पकड़कर ISIS ने मारा। दूसरा एक आम व्यक्ति था, जिसका पहले अपहरण हुआ और फिर उसका गला काटा गया।
  • कैमरूप के Nguetchewe में इस दिन बोको हरम नाम के इस्लामिक ग्रुप ने एक कैंप में ग्रेनेड फेंका। जिसके कारण यहाँ 18 लोगों की मौतें हुईं और 11 लोग घायल हुए।
  • माली के गोमा कौरा में स्थानीय सैनिक जिहादियों द्वारा घात लगाकर मारे गए।
  • अफ़गानिस्तान के जलालाबाद में एक जेल पर हमला किया गया, जिसमें 29 लोगों की जानें गईं और 50 लोग गंभीर रूप से घायल हुए।
  • सोमालिया के Wanlaweyn में अलकायदा के आतंकियों ने एक घर पर ग्रेनेड का हमला किया, जिसके कारण उस घर का 1 व्यक्ति मारा गया और 1 गंभीर रूप से घायल हुआ।

3 अगस्त 2020:

  • अफ़गानिस्तान के शिकल में एक शादी समारोह में ही बम विस्फोट कर दिया गया। इसमें दो महिलाएँ और एक बच्चा मारे गए।
  • नाइजीरिया के वाशो में एक पत्रकार को उसके घर में ही जान से मार दिया गया। इसके पीछे फुलानी कट्टरपंथियों का हाथ संदिग्ध है।
  • सोमालिया के मोगादिशु में एक आत्मघाती हमलावर ने खुद को रेस्ट्रां के बाहर उड़ा लिया, जिसके कारण वहाँ मौजूद दो सुरक्षाकर्मी मारे गए।
  • अफ़गानिस्तान के स्पिन बोलदोक में एक बम हमले में 2 नागरिक मारे गए और 2 घायल हुए।

4 अगस्त 2020:

  • अफ़गानिस्तान के चेमई शेर में 12 पुलिसकर्मी एक बंदी को गाड़ी में बैठाकर ले जा रहे थे। तभी तालिबानियों ने हमला बोला और बर्बरता से सभी की हत्या कर दी।
  • अफ़गानिस्तान के इजाना में एक कट्टरपंथी ने एक स्थानीय गायक की हत्या की।
  • अफ़गानिस्तान के फराह में तालिबानियों ने एक डॉक्टर को मार डाला।
  • सीरिया के मायादीन में इस दिन 3 लोग ISIS का शिकार हुए। एक सुरक्षाकर्मी और दो आम नागरिक। सुरक्षाकर्मी को तो एक बंदूकधारी ने मारा। जबकि बाकी दो बम ब्लास्ट का शिकार हुए। इस बम हमले में 8 अन्य घायल भी हुए।

5 अगस्त 2020:

  • इथिओपिया के गुबा में 3 लोग इस्लामिक अटैक में घायल होने के बाद मारे गए।
  • इराक के माताबजिया में ISIS ने 3 आम जनों की हत्या की।
  • पाकिस्तान के बिन साही में तालिबानियों ने सीमा पर तैनात के सुरक्षाकर्मी को गोलियों से भून डाला।
  • अफ़गानिस्तान का Hadurokali में एक दुकानदार की हत्या की गई।
  • अफ़गानिस्तान के खशरोड में मजहबी उन्मादियों ने बम हमला करके 7 नागरिकों की जान ले ली जबकि 1 नागरिक इसमें घायल हुआ।
  • इराक के सालादीन में ISIS ने दो इराकियों को मार डाला और 3 गंभीर रूप से घायल हो गए।
  • सोमालिया के Daynuney में 8 लोगों को अल शबाब द्वारा मारा गया।

6 अगस्त 2020:

  • अफ़गानिस्तान के चश्माए शिर में एक बम हमले में 11 लोग मारे गए।
  • नाइजीरिया के कुरमीन मसारा में स्थित एक गाँव पर आतंकियों ने सुनियोजित हमला किया। इसमें 13 ग्रामीण मारे गए और 5 गंभीर रूप से घायल हुए।
  • नाइजीरिया के तकमावई में 7 ग्रामीणों को संप्रदाय विशेष के आतंकियों ने मारा।
  • अफ़गानिस्तान के नावा में 6 पुलिसकर्मियों की हत्या कट्टरपंथियों ने की।
  • भारत के काजिगुंड में ग्राम प्रधान को उसके घर के पास मुजाहिद्दिनों ने मार डाला।
  • अफ़गानिस्तान के तागाब में एक तालिबानी हमला हुआ, जिसमें 3 मारे गए।
  • इराक में खानाकिन में इस्लामिक स्टेट ने हमला किया, जिसमें दो इराकियों की जान चली गई।
  • यमन के रादा में अलकायदा ने एक शिया समुदाय के व्यक्ति को मार डाला।

7 अगस्त 2020:

  • नाइजीरिया के जंगो कतफ में फुलानी आतंकियों ने 12 से अधिक ग्रामीणों को मार डाला।
  • बुर्किना फासो के Namoungou में फिर एक बड़ा हमला हुआ। इस्लामिक आतंकी इस बार मशीन गन के साथ पशु बाजार में आए और 20 लोगों को मौत के घाट उतार गए।
  • नाइजीरिया में कदूना में जमात अल-अंसार अल-मुस्लीमीन ने दो दर्जन से अधिक “धर्म त्यागने” वालों को मारने का दावा किया।

8 अगस्त 2020:

  • सोमालिया के मोगादिशु में एक स्पोर्ट्स स्टेडियम के बाहर सुसाइड बॉम्बर ने खुद को बम से उड़ा लिया। जिसमें आसपास के 8 लोग मारे गए और 14 घायल हुए।
  • अफ़गानिस्तान के गजनी में एक तालिबानी हमला हुआ, जिसमें 7 लोग मारे गए और 15 को गंभीर चोट पहुँची।
  • पाकिस्तान के क्लिफ्टन में एक 19 वर्षीय महिला के सिर पर बुलेट मार दी गई।
  • अफ़गानिस्तान के शेरजाद में एक परिवार पर मोर्टर दागा गया। 9 लोग इसके कारण घायल हुए और 1 को अपनी जान गँवानी पड़ी।
  • अफ़गानिस्तान के मायवंद में एक कट्टरपंथी समूह ने स्थानीय पुलिस पर बर्बर हमला किया और 4 पुलिसकर्मियों को मार डाला।

9 अगस्त 2020:

  • भारत के जम्मू कश्मीर के शोपियाँ में एक सुरक्षागार्ड की हत्या कर दी गई।
  • अफ़गानिस्तान के मातखान में एक मोटरसाइकिल को अपना निशाना बनाया और रोडसाइड बम के इस्तेमाल से दो लोगों को मार डाला।
  • अफ़गानिस्तान के शी नारी में तालिबानियों ने 8 नागरिकों को मारा।
  • अफ़गानिस्तान के काबुल में कट्टरपंथियों ने बम हमले में दो लोगों की जान ली।
  • नाइजर के कोर में फ्रांसिसियों को गाइड और ड्राइवर सहित मार दिया गया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अब टेरर फंडिंग में पकड़ा गया तारिक अहमद डार, 2005 के दिल्ली ब्लास्ट में भी हुआ था गिरफ्तार: 2017 में तिहाड़ से छूटा था

अब जब तारिक अहमद डार फिर से NIA की गिरफ्त में आया है तो उसकी नई-पुरानी कड़ियों को जोड़ते हुए एक बार फिर से न्याय की आस जगी है।

‘पापा कब आएँगे… बताओ न माँ’: 4 साल का मासूम रोज पूछता है सवाल, बांग्लादेश में इस्लामी कट्टरपंथियों ने पीट-पीटकर मार डाला था

15 अक्टूबर को 3 बजे जुमे वाले दिन करीब 2000 लोगों ने हगनीपुर गर्ल्स स्कूल पर हमला बोला था। कुछ देर बाद उन्होंने इस्कॉन को निशाना बनाया जहाँ जतन भी खड़े थे

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,228FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe