Saturday, July 24, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय7 साल की बच्ची से अब्दार और रफीकुल ने किया रेप, फिर गला घोंटकर...

7 साल की बच्ची से अब्दार और रफीकुल ने किया रेप, फिर गला घोंटकर तालाब में फेंका

एक शख्स ने अब्दार और रफीकुल को बच्ची का गला दबाते देखा। स्थानीय लोगों को देख दोनों ने बच्ची को तालाब में फेंक दिया और फरार हो गए। बच्ची को खींचकर तलाब से बाहर निकाला गया, मगर वह दम तोड़ चुकी थी।

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के नौशेरा जिले से एक 7 साल की बच्ची का अपहरण और रेप के बाद हत्या करने का मामला सामने आया है। घटना नौशेरा जिले के जियारत काका साहिब में शुक्रवार (जनवरी 17, 2020) को घटी। मामले में पुलिस ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार दोनों आरोपितों को स्थानीय लोगों ने पुलिस के हवाले किया। बताया जा रहा है कि पहले स्थानीय लोगों ने खुद आरोपितों को दंडित करने की योजना बनाई थी, लेकिन बाद में उन्होंने पुलिस को सौंप दिया। आरोपितों की पहचान अब्दार और रफीकुल वहाब के रूप में हुई है।

मृतक बच्ची के चाचा मियाँ यूसुफ जहाँ के मुताबिक उनकी भतीजी घटना से एक दिन पहले दोपहर 3 बजे मदरसे गई थी। जब वह 4:30 बजे तक घर वापस नहीं लौटी तो घरवालों ने उसे तलाशना शुरू किया। साथ ही मस्जिदों से भी अनॉउंसमेंट करवाई, लेकिन बच्ची का कुछ पता नहीं चला।

इसी दौरान बच्ची के घर के किसी शख्स ने दो लोगों को उसका गला दबाते देखा। ये दो लोग अब्दार और रफीकुल वहाब थे। स्थानीय लोगों को करीब आता देख दोनों आरोपितों ने लड़की को पानी के तलाब में फेंक दिया और वहाँ से फरार हो गए। बच्ची को खींचकर तलाब से बाहर निकाला गया, मगर बच्ची दम तोड़ चुकी थी। शव को तुरंत जिला हेडक्वार्टर अस्पताल भेजा गया। जहाँ डॉक्टरों ने उसकी हत्या से पहले हुए रेप की पुष्टि की।

घटना की जानकारी होने के बाद बड़ी तादाद में स्थानीयों द्वारा आरोपितों को ढूँढा जाने लगा। इसके बाद शनिवार की देर रात जाकर दोनों आरोपित वहाँ के लोगों के हत्थे चढ़े। पहले स्थानीयों ने इन आरोपितों को खुद ही सजा देने की सोची, लेकिन बाद में इन्हें पुलिस के हवाले कर दिया गया।

लखनऊ में 6 साल की बच्ची से रेप, गले में चाकू घोंप हत्या: मामू अराफात को फाँसी

13 साल की बच्ची से बार-बार संभोग की इच्छा, मना करने पर हुसैन ने किया रेप और एनल सेक्स

ऑटो ड्राइवर ने चाकू लेकर किया 5 साल की बच्ची का रेप, ख़ून से लथपथ नाबालिग अस्पताल में

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NH के बीच आने वाले धार्मिक स्थलों को बचाने से केरल HC का इनकार, निजी मस्जिद बचाने के लिए राज्य सरकार ने दी सलाह

कोल्लम में NH-66 के निर्माण कार्य के बीच में धार्मिक स्थलों के आ जाने के कारण इस याचिका में उन्हें बचाने की माँग की गई थी, लेकिन केरल हाईकोर्ट ने इससे इनकार कर दिया।

कीचड़ मलती ‘गोरी’ पत्रकार या श्मशानों से लाइव रिपोर्टिंग… समाज/मदद के नाम पर शुद्ध धंधा है पत्रकारिता

श्मशानों से लाइव रिपोर्टिंग और जलती चिताओं की तस्वीरें छापकर यह बताने की कोशिश की जाती है कि स्थिति काफी खराब है और सरकार नाकाम है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,987FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe