Wednesday, July 24, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयइकारा की मस्जिद में पढ़ रहे थे नमाज, बंदूकधारियों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, 9...

इकारा की मस्जिद में पढ़ रहे थे नमाज, बंदूकधारियों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, 9 की मौत 

"जब यह घटना हुई, तो मैं मस्जिद में ही थी। इसी दौरान दो हमलावर आए, जिन्होंने अपना चेहरा ढक लिया और गोलीबारी शुरू करते हुए मस्जिद के पास पहुँच गए। उनमें से एक हमलावर ने सीटी बजाई और दूसरे ने कहा, "हम आ गए हैं।"

नाइजीरिया के कडुना राज्य के इकारा के एक मस्जिद में शुक्रवार (1 सितंबर) को उस समय अंधाधुंध फायरिंग की गई जब लोग जुमे की नमाज पढ़ रहे थे। इसे अज्ञात हथियारबंद लोगों द्वारा किया गया एक आतंकी हमला बताया जा रहा है। इस हमले में 9 नमाजियों के मारे जाने की है। पुलिस ने शनिवार (2 सितम्बर, 2023) को इस बात की पुष्टि की है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इकारा स्थानीय सरकार के प्रतिनिधि सदस्य अलहसन मुहम्मद ने प्रीमियम टाइम्स को इस हमले की पुष्टि करते हुए बताया कि आतंकी हमला शुक्रवार को इशा की नमाज (रात की नमाज) के बाद हुई। हमलावरों के पास मॉर्डन हथियार थे। वे लोग मोटरसाइकिल से आए थे और उन्होंने साया-साया समुदाय के लोगों पर उस समय हमला किया, जब वे नमाज पढ़ रहे थे, जिसमें 9 लोगों की मौत हो गई। इसमें से 7 की मौत मस्जिद के अंदर और दो लोगों की मस्जिद के बाहर हुई है। 

नमाज पढ़ने के दौरान किया हमला

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इस मामले में कई चश्मदीदों के बयान भी सामने आए हैं। मीडिया रिपोर्ट में हमलावरों द्वारा गोलीबारी करते समय वहाँ बाकी लोगों के साथ नमाज पढ़ रहे लोगों ने बताया कि हमलावर चेहरे ढके हुए थे और गोलीबारी शुरु करने से पहले ही मस्जिद परिसर के अंदर घुस गए थे। 

वहीं गाँव के एक निवासी, हारुना इस्माइल ने कहा, “हमले के दौरान घायल हुए दो अन्य लोगों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 5 लोगों को नमाज पढ़ते समय मस्जिद के अंदर गोली मार दी गई और अन्य दो लोगों को बाहर गोली मार दी गई।” कहा जा रहा है कि बाद में दोनों घायलों की भी मौत हो गई इस प्रकार मरने वालों की संख्या 9 हो गई है। 

इस मामले में एक दूसरे चश्मदीद का कहना है, “जब यह घटना हुई, तो मैं मस्जिद में ही थी। इसी दौरान दो हमलावर आए, जिन्होंने अपना चेहरा ढक लिया और गोलीबारी शुरू करते हुए मस्जिद के पास पहुँच गए। उनमें से एक हमलावर ने सीटी बजाई और दूसरे ने कहा, “हम आ गए हैं।”

कई सालों से मचा रहे तबाही

गौरतलब है कि इस तरह का आतंकी हमला पहली बार नहीं है। भारी हथियारों से लैस अज्ञात लोगों के गिरोह ने पिछले तीन सालों से नाइजीरिया के उत्तर-पश्चिम में काफी कहर बरपाया है। उन्होंने अब तक हजारों लोगों का अपहरण, सैकड़ों लोगों की हत्या कर दी है। इन लोगों ने कुछ क्षेत्रों में सड़क मार्ग को भी यात्रा के लिए असुरक्षित बना दिया है। 

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -