Tuesday, July 16, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपाकिस्तान में क्या होने वाला है? अमेरिका-ऑस्ट्रेलिया-UK के बाद अब सऊदी अरब ने अपने...

पाकिस्तान में क्या होने वाला है? अमेरिका-ऑस्ट्रेलिया-UK के बाद अब सऊदी अरब ने अपने नागरिकों को आगाह किया, बलूचिस्तान में 7 धमाकों के बाद हाई अलर्ट

पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद हाई अलर्ट पर है। संभावित हमले के ख़तरों को देखते हुए अमेरिका (USA) और ऑस्ट्रेलिया (Australia) पहले ही अपने नागरिकों को सतर्क कर चुका है।

दुनिया के अशांत देशों में शामिल पाकिस्तान (Pakistan) में रह रहे अपने नागरिकों को लेकर सऊदी अरब (Saudi Arab) फिक्रमंद है। पाकिस्तान में रविवार (25 दिसंबर, 2022) को हुए बम धमाकों के बाद सऊदी अरब ने अपने नागरिकों को अलर्ट किया है। सऊदी अरब ने सोमवार को जारी अलर्ट में अपने नागरिकों से कहा कि वे पाकिस्तान में गैर जरूरी आवाजाही से बचें।

इसे लेकर इस्लामाबाद में सऊदी अरब के दूतावास ने ट्वीट भी किया। इस ट्वीट में दूतावास की तरफ से लिखा गया, “पाकिस्तान में रह रहे हमारे नागरिकों को सावधान रहने की जरूरत है। एडवाइजरी में पाकिस्तान में रह रहे सऊदी नागरिकों से कहा गया है कि वे शहरों में ही रहें। जितना हो सके कम ही बाहर निकलें। नागरिकों से कहा गया है कि वे इस्लामाबाद के किसी भी पाँच सितारा होटल में जाने से बचें।”

आपको बता दें कि पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद हाई अलर्ट पर है। संभावित हमले के ख़तरों को देखते हुए अमेरिका (USA) और ऑस्ट्रेलिया (Australia) पहले ही अपने नागरिकों को सतर्क कर चुका है। ऑस्ट्रेलिया ने अपने नागरिकों को इस्लामाबाद शहर की सीमा के भीतर ही रहने की हिदायत दी है। ऑस्ट्रेलियाई दूतावास की तरफ से जारी एडवाइजरी में कहा गया है कि नागरिक पाकिस्तान की ख़बरों पर नजर रखें।

अमेरिका ने भी 23 सितंबर, 2022 को इस्लामाबाद में हुए आत्मघाती बम धमाके के बाद अपने नागरिकों को अलर्ट किया था। अमेरिकी ने अपने नागरिकों को इस्लामाबाद के मैरियट होटल में जाने से रोका है। अमेरिका ने इस होटल में संभावित हमले का ख़तरा जताया है।

दरअसल पिछले कुछ दिनों से पाकिस्तान में हमले बढ़ गए हैं। पहले 23 सितंबर 2022 को इस्लामाबाद में एक आत्मघाती हमला हुआ था। रिपोर्ट्स के मुताबिक, कार सवार मर्द और औरत इस्लामाबाद के भीड़-भाड़ वाले इलाके में पहुँचे थे। जहाँ पुलिस उनकी तलाशी ले रही थी। इसी दौरान उन्होंने खुद को उड़ा लिया। धमाके में कार सवार मर्द और औरत के साथ पुलिस ऑफिसर की भी मौत हो गई थी।

दूसरी तरफ पाकिस्तान के बलूचिस्तान में रविवार (25 दिसंबर, 2022) को सात बम धमाके हुए थे। इस धमाके में पाकिस्तानी सेना के 5 जवानों की मौत हो गई थी और 19 लोग घायल हो गए थे। पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक क्वेटा के सब्जाल रोड पर भी एक ग्रेनेड ब्लास्ट हुआ है। जिसमें 5 लोगों के घायल होने की ख़बर है। पिछले ही महीने तहरीक-ए-तालिबान (TTP) ने अपने हमलावरों से सीज़फायर तोड़ते हुए पूरे पाकिस्तान में हमला करने का आदेश दिया था।

टीटीपी का दावा है कि इस साल (2022) में उन्होंने अलग-अलग हमलों में 150 पाकिस्तानियों को मौत के घाट उतारा है। सीज़फायर के खातमे का ऐलान करने के बाद से टीटीपी ने देश भर में तकरीबन 33 हमले किए हैं और 35 पाकिस्तानी सुरक्षाकर्मियों की हत्या की है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जम्मू-कश्मीर के डोडा में 4 जवान बलिदान, जंगल में छिपे थे इस्लामी आतंकवादी: हिन्दू तीर्थयात्रियों पर हमला करने वाले आतंकी समूह ने ली जिम्मेदारी

जम्मू कश्मीर के डोडा में हुए आतंकी हमले में एक अफसर समेत 4 जवान वीरगति को प्राप्त हुए हैं। इस हमले की जिम्मेदारी कश्मीर टाइगर्स ने ली है।

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -