Tuesday, July 23, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाकतर से पैसा, पाकिस्तान से हथियार... दिल्ली पुलिस को 4 और आतंकियों की तलाश:...

कतर से पैसा, पाकिस्तान से हथियार… दिल्ली पुलिस को 4 और आतंकियों की तलाश: 14 दिन की रिमांड में हिंदू को काटने वाले दोनों आतंकी

रिपोर्ट के मुताबिक आतंकियों को पाकिस्तान ने ड्रॉप-डेड के माध्यम से हथियार भेजे। इस तरीके में किसी सुदूर और सुनसान इलाके में हथियारों को गिरा दिया जाता है। उस स्थान की जानकारी केवल हथियार पाने वाले को होती है।

दिल्ली के भलस्वा डेयरी क्षेत्र से दो आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद दिल्ली पुलिस को चार और संदिग्धों की तलाश है। न्यूज एजेंसी एएनआई ने पुलिस सूत्रों के हवाले से यह जानकारी दी है। बताया है कि ये लोग सिग्नल ऐप पर पाकिस्तानी हैंडलर के संपर्क में थे। ड्रॉप-डेड के जरिए पाकिस्तान से हथियार हासिल किए थे। हथियार उत्तराखंड के किसी अज्ञात जगह पर हासिल करने की बात कही जा रही है। इसकी पुष्टि की जा रही है।

भलस्वा डेयरी क्षेत्र से आतंकी जगजीत उर्फ याकूब और नौशाद को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 12 जनवरी 2023 को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने इन्हें 14 दिन की रिमांड पर ले रखा है। पकड़े गए आतंकियों को खाड़ी देश क़तर और बिहार से 6 लाख रुपए फंडिंग की भी जानकारी सामने आ रही है। इस पैसे में से जगजीत को 2 लाख रुपए मिले थे। नौशाद और जगजीत को उसके जिहादी सोच वाले लोगों को भर्ती करने और पंजाब के हिंदुवादी नेताओं को निशाना बनाने का टारगेट दिया गया था।

जगजीत और नौशाद ने एक हिंदू की गला रेतकर हत्या कर दी थी। उसके शव के टुकड़े किए थे और इसका वीडियो पाकिस्तानी आकाओं को भेजा था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मृतक हिंदू के परिजनों का DNA सैम्पल लिया जा रहा है। मारे गए व्यक्ति का नाम राजकुमार बताया गया है। राजकुमार का पहले गला घोंटा गया था फिर सिर धड़ से अलग करते हुए शरीर के 8 टुकड़े किए गए। बताया जा रहा है कि अपनी क्षमता साबित करने को दोनों आतंकियों ने राजकुमार की हत्या की थी।

एक अन्य रिपोर्ट के मुताबिक नौशाद और जगजीत को पाकिस्तान ने ड्रॉप-डेड के माध्यम से हथियार भेजे। इस तरीके में किसी सुदूर और सुनसान इलाके में हथियारों को गिरा दिया जाता है। उस स्थान की जानकारी केवल हथियार पाने वाले को होती है। वह सही समय देख कर हथियार उठा लेता है। इन्हें उत्तराखंड के किसी स्थान से हथियार मिलने की जानकारी सामने आ रही है। इस मॉड्यूल में कुल 8 आतंकी बताए जा रहे हैं। इनमें से 4 के अभी भी देश में मौजूद होने की बात कही जा रही। इनकी तलाश जारी है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -