Thursday, July 25, 2024
Homeराजनीतिबृजभूषण सिंह के घर में घुसा संदिग्ध युवक, पुलिस ने पकड़ा: नाबालिग पहलवान के...

बृजभूषण सिंह के घर में घुसा संदिग्ध युवक, पुलिस ने पकड़ा: नाबालिग पहलवान के दादा ने पूछा- हमारी बेटी क्यों बने मोहरा, और लड़कियाँ कहाँ हैं?

नाबालिग के दादा बोले, "हम पाप के भागी क्यों बनें? बृजभूषण सिंह से हमें कोई लेना-देना नहीं है। जिनके साथ कुछ हुआ है, वे जानें।" उन्होंने आगे कहा, "हमारी बच्ची मोहरा क्यों बने? शुरू में ये तीन लड़कियों का नाम ले रहे थे। हमारी बेटी के अलावा दो और कौन हैं, उन्हें सामने क्यों नहीं लाया गया?"

भारतीय कुश्ती संघ (WFI) के निवर्तमान अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह (Brij Bhushan Sharan Singh) के खिलाफ गुरुवार (15 जून 2023) को दो चार्जशीट दायर की गई। दिल्ली पुलिस ने POCSO मामले में भाजपा सांसद सिंह को क्लीनचिट दे ही है। इस बीच उनके घर में एक संदिग्ध युवक के घुसने का मामला सामने आया है। पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है।

यूपी के कैसरगंज से भाजपा सांसद बृजभूषण सिंह के दिल्ली स्थित आवास में शुक्रवार (16 जून 2023) को एक संदिग्ध युवक पहुँच गया। वहाँ पहुँचकर वह स्टाफ से बृजभूषण शरण सिंह के बारे में पूछताछ करने लगा। उसकी हरकत को देखकर स्टाफ को शंका हुई।

इसके बाद स्टाफ के लोगों ने दिल्ली पुलिस के PCR को कॉल कर मौके पर बुला लिया और युवक को पकड़ कर उसके हवाले कर दिया। पुलिस ने संदिग्ध को हिरासत में ले लिया है और उससे पूछताछ कर रही है। संदिग्ध युवक की पहचान का खुलासा नहीं किया गया है।

उधर, बृजभूषण सिंह को POCSO मामले में पुलिस की क्लीनचिट मिलने के बाद नाबालिग महिला पहलवान के दादा एक बार फिर सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा सांसद पर से केस हटाना है या रखना है, ये देखना दिल्ली पुलिस का काम है और वह अपना काम अच्छे से कर रही है।

नाबालिग के दादा बोले, “हम पाप के भागी क्यों बनें? बृजभूषण सिंह से हमें कोई लेना-देना नहीं है। जिनके साथ कुछ हुआ है, वे जानें।” उन्होंने आगे कहा, “हमारी बच्ची मोहरा क्यों बने? शुरू में ये तीन लड़कियों का नाम ले रहे थे। हमारी बेटी के अलावा दो और कौन हैं, उन्हें सामने क्यों नहीं लाया गया?”

उधर पुलिस की क्लीनचिट पर पहलवान साक्षी मलिक ने कहा कि चार्जशीट से स्पष्ट हो गया है कि बृजभूषण सिंह कसूरवार हैं। उन्होंने कहा कि उनके वकील ने चार्जशीट की कॉपी के लिए एप्लीकेशन दी है। उसे देखने के बाद अपना अगला कदम उठाएँगे। खापों ने भी कहा है कि खिलाड़ी जो भी फैसला लेंगे, उनका समर्थन खाप करेगी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

वकील चलाता था वेश्यालय, पुलिस ने की कार्रवाई तो पहुँचा हाई कोर्ट: जज ने कहा- इसके कागज चेक करो, लगाया ₹10000 का जुर्माना

मद्रास हाई कोर्ट में एक वकील ने अपने वेश्यालय पर कार्रवाई के खिलाफ याचिका दायर की। कोर्ट ने याचिका खारिज करके ₹10,000 का जुर्माना लगा दिया।

माजिद फ्रीमैन पर आतंक का आरोप: ‘कश्मीर टाइप हिंदू कुत्तों का सफाया’ वाले पोस्ट और लेस्टर में भड़की हिंसा, इस्लामी आतंकी संगठन हमास का...

ब्रिटेन के लेस्टर में हिन्दुओं के विरुद्ध हिंसा भड़काने वाले माजिद फ्रीमैन पर सुरक्षा एजेंसियों ने आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -