Friday, September 17, 2021
Homeसोशल ट्रेंडजिसने माँ सीता के लिए लिखी गाली, वो मैं नहीं... मेरा हमनाम है: GoAir...

जिसने माँ सीता के लिए लिखी गाली, वो मैं नहीं… मेरा हमनाम है: GoAir से निकाले गए आसिफ खान का दावा

'केबिन क्रू' वाला मोहम्मद आसिफ खान का ट्विटर अकाउंट डिलीट हो चुका है। ऐसे में लोग ये सवाल कर रहे हैं कि क्या असली गुनाहगार बच कर निकल गया या फिर दोनों एक ही हैं? सच्चाई GoAir द्वारा स्पष्टीकरण जारी करने के बाद ही सामने आएगी, जो अब तक नहीं आया है।

सोशल मीडिया पर लोग ऐसी चर्चा कर रहे हैं कि एयरलाइन्स कम्पनी GoAir ने माँ सीता पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले आसिफ खान की जगह किसी और आसिफ खान के ख़िलाफ़ कार्रवाई कर दी है। रूपा मूर्ति ने एक ट्वीट शेयर किया, जिसमें उन्होंने दावा किया है कि जिस आसिफ खान ने ये हरकत की थी, वो GoAir के केबिन क्रू का हिस्सा है जबकि जिस आसिफ खान को GoAir ने निकाल बाहर किया है, वो पायलट है।

रूपा ने अभद्र टिप्पणी करने वाले आसिफ खान और पायलट आसिफ खान के प्रोफाइल का स्क्रीनशॉट शेयर किया। इसमें दिख रहा है कि आरोपित आसिफ खान ने खुद को GoAir के केबिन क्रू का हिस्सा बताया है और साथ ही राजनीतिक विज्ञान का छात्र भी लिखा है। उसने अपनी प्रोफाइल पर लिखा है कि वो सेक्युलर है और अंधभक्त नहीं है। वहीं पायलट आसिफ खान ने अपना लोकेशन मुंबई डाला हुआ है। उसकी प्रोफाइल पर दिलीप मंडल का ट्वीट रीट्वीट हुआ दिख रहा है।

पायलट आसिफ खान ने भी फेसबुक पर अपना दर्द बयाँ किया है। उन्होंने लिखा कि वो 2 दिनों से नारकीय घटनाक्रम से गुजर रहे हैं। उन्होंने यह भी दावा किया है कि जिस आसिफ ने ये हरकत की, वो अलग है। उसे तो इस बारे में तब पता चला जब उसके वरिष्ठ अधिकारियों का कॉल आया। उसने देखा तो उसे पता चला कि उसके नाम से ट्विटर पर भद्दी टिप्पणियाँ की गई हैं। अपनी सफाई में पायलट आसिफ ने लिखा है कि ये उसका पहला ‘ड्रीम जॉब’ है और एक घटना के कारण सब कुछ रुक सा गया है।

आसिफ ने लिखा कि एक यूट्यब चैनल ने ये कन्फ्यूजन क्रिएट किया था। उस मामले में उन्होंने थाने में शिकायत भी दर्ज कराई है। अभद्र टिप्पणी करने वाले अकाउंट के बारे में आसिफ ने कहा कि वो उनका अकाउंट नहीं है। साथ ही उन्होंने GoAir से इस मामले में जाँच की गुहार लगाते हुए न्यायिक व्यवस्था में भरोसा जताने की बात कही है। उनका कहना है कि उनका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है।

हालाँकि, सच्चाई GoAir द्वारा स्पष्टीकरण जारी करने के बाद ही सामने आएगी, जो अब तक नहीं आया है। वहीं केबिन क्रू वाला मोहम्मद आसिफ खान का ट्विटर अकाउंट डिलीट हो चुका है। ऐसे में लोग ये सवाल कर रहे हैं कि क्या असली गुनाहगार बच कर निकल गया या फिर दोनों एक ही हैं?

पायलट आसिफ खान का दावा सच्चा या झूठा?

इससे पहले ख़बर आई थी कि सोशल मीडिया पर सीता माता को लेकर अभद्र टिप्पणी करने वाले ट्रेनी ऑफिसर आसिफ खान को गोएयर (GoAir) ने बाहर का रास्ता दिखा दिया है। एयरलाइन ने कहा कि किसी व्यक्ति या कर्मचारी के निजी विचारों से उसका कोई लेना-देना नहीं है। गोएयर ने कहा था कि हमारी नीति सभी कर्मचारियों के लिए शून्य सहिष्णुता की है, जिसमें कर्मचारियों को रोजगार नियमों का पालन करना पड़ता है, इसमें सोशल मीडिया का भी व्यवहार शामिल है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘फर्जी प्रेम विवाह, 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का यौन शोषण व उत्पीड़न’: केरल के चर्च ने कहा – ‘योजना बना कर हो रहा...

केरल के थमारसेरी सूबा के कैटेसिस विभाग ने आरोप लगाया है कि 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का फर्जी प्रेम विवाह के नाम पर यौन शोषण किया गया।

डॉ जुमाना ने किया 9 बच्चियों का खतना, सभी 7 साल की: चीखती-रोती बच्चियों का हाथ पकड़ लेते थे डॉ फखरुद्दीन व बीवी फरीदा

अमेरिका में मुस्लिम डॉक्टर ने 9 नाबालिग बच्चियों का खतना किया। सभी की उम्र 7 साल थी। 30 से अधिक देशों में है गैरकानूनी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,922FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe