Sunday, July 14, 2024
Homeसोशल ट्रेंड'खालिस्तान' के नक़्शे में UP और राजस्थान भी, भारत से अलग देश बनाने का...

‘खालिस्तान’ के नक़्शे में UP और राजस्थान भी, भारत से अलग देश बनाने का ‘खेल’ सोशल मीडिया पर… लोगों ने वहीं दिखाई औकात

"विभाजन के बाद पंजाब का 52% हिस्सा पाकिस्तान में चला गया। पाकिस्तान वो जगह है, जहाँ सिखों पर लगातार अत्याचार हो रहे हैं। लेकिन, इन दोनों की हिम्मत नहीं है कि इन हिस्सों को अपना बताएँ।"

‘सिख्स फॉर जस्टिस’ नाम की कट्टरवादी सिख संस्था ने तथाकथित खालिस्तान का नक्शा जारी किया है, जिसके बाद से लोग सोशल मीडिया पर उसकी आलोचना कर रहे हैं। उसने कहा है कि भारत को काट कर इस क्षेत्र को सिखों का अपना मुल्क बनाया जाएगा। अक्टूबर 2021 के अंत में इसके लिए उसने लंदन में रेफेरेंडम आयोजित करने का भी निर्णय लिया है। ‘क्वीन एलिजाबेथ सेंटर’ में ये भारत विरोधी कार्यक्रम होगा।

इस तथकथित खालिस्तान के नक़्शे में पंजाब और हरियाणा के अलावा दिल्ली के हिस्सों को भी रखा गया है। साथ ही उत्तर प्रदेश का तराई इलाका और राजस्थान का जोधपुर-बीकानेर भी इसमें है। इतना ही नहीं, हिमाचल प्रदेश को भी इसमें शामिल कर लिया गया है। साथ ही राजस्थान में सुदूर बूँदी और कोटा को भी ‘खालिस्तान’ में ही गिना गया है। दावा है कि भारत से काट कर इन हिस्सों को अलग कर दिया जाएगा।

जिन इलाकों को तथाकथित खालिस्तान में शामिल किया गया है, उन्हीं क्षेत्रों के लोगों ने इस नक्शा को जारी करने वाले ‘सिख्स फॉर जस्टिस’ को जम कर सुनाया है। एक ट्विटर यूजर ने लिखा, “जोधपुर? %$# में चाकरी डाल कर घुमाएँगे, एक बार आकर तो देखो।”

डॉक्टर शुभम नाम के यूजर ने लिखा, “#@% जोधपुर वाले गोटे मुँह में अटका देंगे।”

एक अन्य यूजर ने तंज कसा, “$%# कोटा ले जाओगे तो हमारे बच्चे प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी कैसे करेंगे?”

वहीं एक अन्य सोशल मीडिया यूजर ने लिखा, “इन $$@ को पता ही नहीं है भरतपुर के बारे में। ऐसे ही नक़्शे में जोड़ दिया। भरतपुरिये ऐसे $#% मारेंगे कि इनके पिताजी खालिस्तान भूल जाएँगे।”

वहीं ‘द स्किन डॉक्टर’ ने लिखा, “विभाजन के बाद पंजाब का 52% हिस्सा पाकिस्तान में चला गया। पाकिस्तान वो जगह है, जहाँ सिखों पर लगातार अत्याचार हो रहे हैं। लेकिन, इन दोनों की हिम्मत नहीं है कि इन हिस्सों को अपना बताएँ, क्योंकि वहीं से इन्हें भोजन आता है।”

एक अन्य ट्विटर हैंडल ने पूछा, “करतारपुर और ननकाना साहिब के बिना ही खालिस्तान? लगता है कि ISI ने इस नक़्शे को बनाया है।”

कई लोगों ने ‘सिख्स फॉर जस्टिस’ को याद दिलाया कि वो पाकिस्तान वाले पंजाब का हिस्सा भी अपने ‘खालिस्तान’ में जोड़ कर दिखाएँ। लोगों ने पूछा कि महाराज रणजीत सिंह के जिस सिख साम्राज्य की राजधानी लाहौर में थी, उस इलाके को खालिस्तान वाले कैसे भूल गए? बता दें कि ‘सिख्स फॉर जस्टिस’ अक्सर भड़काऊ बातें कर के भारत को तोड़ने की बातें करता रहता है और पाकिस्तान के एजेंडे को आगे बढ़ाता है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

डोनाल्ड ट्रंप को मारी गई गोली, अमेरिकी मीडिया बता रहा ‘भीड़ की आवाज’ और ‘पॉपिंग साउंड’: फेसबुक पर भी वामपंथी षड्यंत्र हावी

डोनाल्ड ट्रंप की हत्या के प्रयास की पूरी दुनिया के नेताओं ने निंदा की, तो अमेरिकी मीडिया ने इस घटना को कमतर आँकने की कोशिश की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -