Sunday, September 19, 2021
Homeसोशल ट्रेंड'ब्राह्मणों ने हथिया ली सत्ता, बहुजन अब भी गुलाम: 75वें स्वतंत्रता दिवस पर वामपंथियों...

‘ब्राह्मणों ने हथिया ली सत्ता, बहुजन अब भी गुलाम: 75वें स्वतंत्रता दिवस पर वामपंथियों ने चलाया ‘ये आज़ादी झूठी है’ ट्रेंड

कइयों ने तो बाबासाहब भीमराव आंबेडकर का नाम भी इसमें घसीट लिया और उनका नाम लेकर 'ये आज़ादी झूठी है' का ट्रेंड चलाया।

जहाँ एक तरफ पूरा देश स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगाँठ मना रहा है, वहीं दूसरी तरफ कुछ ऐसे वामपंथी हैं जो सोशल मीडिया पर ‘ये आज़ादी झूठी है’ का ट्रेंड चला रहे हैं। ‘बहुजन एकता’ की बातें करते हुए वो खुद को दलितों का ठेकेदार समझ रहे हैं और आज़ादी को झूठी बता कर स्वतंत्रता सेनानियों का मजाक बना रहे हैं। साथ ही वो इस स्वतंत्रता की रक्षा करने वाले हमारे सुरक्षा बलों का भी अपमान कर रहे हैं।

एक यूजर ने लिखा, “ये आज़ादी झूठी है, देश की जनता भूखी है।” साथ ही उसने एक पुरानी तस्वीर शेयर कर के मोदी सरकार पर निशाना साधने की कोशिश की।

इस ट्विटर ट्रेंड की आड़ में ब्राह्मणों को भी गाली दी गई और वामपंथियों ने लिखा कि 15 अगस्त, 1947 को 15% ब्राह्मण आज़ाद हो गए, वहीं बाकी जनता गुलाम ही रही। एक यूजर ने लिखा कि ‘ब्राह्मण नेहरू’ पहले प्रधानमंत्री बिना चुनाव के ही बन गए और चुनाव बाद भी सत्ता पर सिर्फ ब्राह्मण ही काबिज रहे।

वहीं कुछ लोगों ने कहा कि ये तो सिर्फ ‘ट्रांसफर ऑफ पॉवर’ था, ये आज़ादी थोड़े है। साथ ही दावा किया कि इसके लिए लंदन में बिल पास हुआ था, इसीलिए भारत आज़ाद नहीं है।

कइयों ने तो बाबासाहब भीमराव आंबेडकर का नाम भी इसमें घसीट लिया और उनका नाम लेकर ‘ये आज़ादी झूठी है’ का ट्रेंड चलाया। साथ ही कुछ ने ‘उच्च जाति के लोगों द्वारा दलितों पर अत्याचार’ का दावा करते हुए कुछ खबरें शेयर की और ये ट्रेंड चलाया।

सोशल मीडिया पर चलाया गया ‘ये आज़ादी झूठी है’ का ट्रेंड

एक ने लिखा कि ब्राह्मण तो स्वतंत्र हो गए, लेकिन ‘85% बहुजन समाज’ गुलाम ही रहा।

इतना ही नहीं, ब्राह्मणों का मजाक बनाने के लिए जनेऊ और धोती में तस्वीरें भी शेयर की गई और इस ट्रेंड का समर्थन किया गया।

बताते चलें कि पूरे देश में आज रविवार (15 अगस्त, 2021) को स्वतंत्रता दिवस पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। जहाँ दिल्ली के लाल किला पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ध्वजारोहण किया, वहीं जम्मू कश्मीर की राजधानी श्रीनगर के नगर निगम में स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम मनाया गया। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 75वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया। सभी राज्यों की राजधानियों में मुख्यमंत्रियों ने ध्वजारोहण किया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिख नरसंहार के बाद छोड़ दी थी कॉन्ग्रेस, ‘अकाली दल’ में भी रहे: भारत-पाक युद्ध की खबर सुन दोबारा सेना में गए थे ‘कैप्टेन’

11 मार्च, 2017 को जन्मदिन के दिन ही कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पंजाब में बहुमत प्राप्त हुआ और राज्य में कॉन्ग्रेस के लिए सत्ता का सूखा ख़त्म हुआ।

अडानी समूह के हुए ‘The Quint’ के प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर, गौतम अडानी के भतीजे के अंतर्गत करेंगे काम

वामपंथी मीडिया पोर्टल 'The Quint' में बतौर प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर कार्यरत रहे संजय पुगलिया अब अडानी समूह का हिस्सा बन गए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,106FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe