Saturday, July 20, 2024
Homeसोशल ट्रेंड'छोटी लड़कियों को मैसेज किया, तब ध्यान नहीं भटका': चेतन भगत को उर्फी जावेद...

‘छोटी लड़कियों को मैसेज किया, तब ध्यान नहीं भटका’: चेतन भगत को उर्फी जावेद का जवाब, वायरल कर दिए चैट के स्क्रीनशॉट्स

उर्फी जावेद ने लिखा, ''अगर आपकी सोच खराब है तो इसका यह मतलब नहीं है कि उसमें लड़की के कपड़ों की गलती है। आप कहते हैं कि मेरे ड्रेसिंग सेंस से देश के यंग लड़कों का ध्यान भटक रहा है। क्या आपका यंग लड़कियों को मैसेज करना ध्यान भटकाने वाला नहीं था।"

बिग बॉस ओटीटी (Bigg Boss OTT) से मशहूर होने वाली उर्फी जावेद (Urfi Javed) आए दिन अपने अतरंगी ड्रेस सेंस की वजह से चर्चा में रहती हैं। उर्फी अपने बोल्ड पहनावे की वजह से इंटरनेट सेंसेशन बन चुकी हैं। हालाँकि इन दिनों वह लेखक चेतन भगत के साथ विवादों की वजह से चर्चा में हैं।

दरअसल चेतन भगत (Chetan Bhagat) ने हाल ही में एक कार्यक्रम में उर्फी जावेद को लेकर टिप्पणी कर दी थी, जिसका उर्फी जावेद ने करारा जवाब दिया है। उन्होंने कहा था, “आज यूथ सिर्फ उर्फी जावेद के वीडियो देख रहे हैं, फोटो लाइक कर रहे हैं। यह उर्फी की गलती नहीं है। वो तो अपना करियर बना रही है। लेकिन लोग बिस्तर में घुस कर उर्फी की फोटोज देख रहे हैं। मैं भी आज उर्फी की सब फोटोज देखकर आया हूँ।”

चेतन भगत की यह बात उर्फी को जरा भी रास नहीं आई, उन्होंने हाल ही में लेखक के बयान पर प्रतिक्रिया भी दी है। उन्होंने अपनी इंस्‍टा स्टोरी में चेतन भगत को जमकर खरी खोटी सुनाई और कहा कि उन्होंने सच में बकवास हरकत की है। उर्फी ने कहा, ”जब अपने से आधी उम्र की लड़कियों को सोशल मीडिया पर मैसेज करते थे, तब उनके कपड़ों ने आपका ध्यान नहीं भटकाया था। आप उन इंसानों में से एक हो, जो अपनी हर गलती के लिए महिलाओं को दोषी मानते हैं।”

उन्होंने आगे लिखा, ”अगर आपकी सोच खराब है तो इसका यह मतलब नहीं है कि उसमें लड़की के कपड़ों की गलती है। आप कहते हैं कि मेरे ड्रेसिंग सेंस से देश के यंग लड़कों का ध्यान भटक रहा है। क्या आपका यंग लड़कियों को मैसेज करना ध्यान भटकाने वाला नहीं था। सच में यह बेहद बकवास है। स्टोरी में उर्फी जावेद, चेतन भगत पर लगे मी टू मामले की बात की ओर इशारा कर रही हैं।”

उर्फी की insta स्टोरी

उर्फी ने आगे लिखा, ”रेप कल्चर को बढ़ावा देना बंद कर दो तुम बीमार दिमाग वाले लोगों। मर्दों के बर्ताव के लिए औरत को जिम्मेदार ठहराना 80 के दशक की बात हो गई है मिस्टर चेतन भगत। अपने से आधी उम्र की लड़कियों को जब तुमने मैसेज किए, तो तुम्हें कौन भटका रहा था? हमेशा दूसरे जेंडर पर उंगली उठाओ। अपनी गलती मत देखो। तुम्हारे जैसे लोग यूथ को बिगाड़ रहे हैं, मैं नहीं।”

वहीं जब पैपराजी ने उनसे इस बारे में बात की और उनसे चेतन की बात पर रिएक्शन देने के लिए कहा गया, तो वह बोलीं कि उन्हें समझ नहीं आ रहा है कि चेतन भगत आखिर क्या सोच रहे थे कि उन्होंने एक साहित्य के मंच पर एक एक्ट्रेस के बारे में बात की।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दिल्ली हाईकोर्ट ने शिव मंदिर के ध्वस्तीकरण को ठहराया जायज, बॉम्बे HC ने विशालगढ़ में बुलडोजर पर लगाया ब्रेक: मंदिर की याचिका रद्द, मुस्लिमों...

बॉम्बे हाईकोर्ट ने मकबूल अहमद मुजवर व अन्य की याचिका पर इंस्पेक्टर तक को तलब कर लिया। कहा - एक भी संरचना नहीं गिराई जाए। याचिका में 'शिवभक्तों' पर आरोप।

आरक्षण पर बांग्लादेश में हो रही हत्याएँ, सीख भारत के लिए: परिवार और जाति-विशेष से बाहर निकले रिजर्वेशन का जिन्न

बांग्लादेश में आरक्षण के खिलाफ छात्र सड़कों पर उतर आए हैं। वहाँ सेना को तैनात किया गया है। इससे भारत को सीख लेने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -