‘इस बार युद्ध में 4-6 दिन तोपें नहीं चलेंगी, सीधे परमाणु जंग होगी’ – Pak के ‘झटका मंत्री’

"दिस विल बी ऐटॉमिक वॉर। दिस विल बी अ क्लियर कट ऐटॉमिक वॉर। और जिस तरह की जरूरत होगी उस तरह का असलहा इस्तेमाल करेंगे।" 

अपने उल-जुलूल बयानों के कारण चर्चा में रहने वाले पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख राशिद ने भारत को एक बार फिर परमाणु युद्ध की धमकी दी है। फर्क़ सिर्फ ये है कि इस बार उन्होंने हर बार की तरह भारत का सीधा नाम नहीं लिया। कभी पाकिस्तान के पास 1-1 पाव और सवा-सवा सौ ग्राम के परमाणु बम होने का दावा करने वाले रशीद ने बताया कि अब यदि जंग हुई तो वह परमाणु बम का ही इस्तेमाल करेंगे।

सोमवार (अक्टूबर 21, 2019) को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान शेख रशीद ने जवाब दिया कि अब ऐसा युद्ध नहीं होगा कि 4-6 दिन तक टैंक, तोपें चलेंगी, अब सिर्फ़ परमाणु जंग होगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पाक रेल मंत्री ने एक सवाल के जवाब में कहा, “मैं 126 दिन धरने में शामिल था, उस वक्त मुल्क के हालात और सरहदी मामलात ऐसे नहीं थे। यह गंभीर चेतावनी है इस मुल्क को और ये जंग खौफनाक हो सकती है। ये कन्वेंशनल युद्ध नहीं होगा। जो अक्ल के अंधे ये समझ रहे हैं कि 4-6 दिन टैंक, तोपें चलेंगी या हवाई जहाज, एयर अटैक होंगे या नेवी के गोले चलेंगे… नो वे!”

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

इसके आगे उन्होंने कहा, “दिस विल बी ऐटॉमिक वॉर। दिस विल बी अ क्लियर कट ऐटॉमिक वॉर। और जिस तरह की जरूरत होगी, उस तरह का असलहा इस्तेमाल करेंगे।”

गौरतलब है कि राशिद इससे पहले भी भारत को परमाणु हमले की धमकियाँ दे चुके हैं, जिसके कारण उनकी काफी ख़िल्ली भी उड़ी थी। अभी कुछ हफ्ते पहले ही उन्होंने कहा था, “भारत सुन ले कि पाकिस्तान के पास पाव और आधा पाव के ऐटम बम भी हैं जो किसी खास इलाके को निशाना बना सकते हैं।”

इसके अलावा बता दें कि पाकिस्तानी रेल मंत्री बीते दिनों करंट लगने के कारण भी चर्चाओं का हिस्सा बन चुके हैं। जहाँ उन्होंने अपनी आपबीती के पीछे भारत को जिम्मेदार बताया था। क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम लेने के दौरान ही उन्हें करंट का झटका लगा था।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

सोनिया गाँधी
शिवसेना हिन्दुत्व के एजेंडे से पीछे हटने को तैयार है फिर भी सोनिया दुविधा में हैं। शिवसेना को समर्थन पर कॉन्ग्रेस के भीतर भी मतभेद है। ऐसे में एनसीपी सुप्रीमो के साथ उनकी आज की बैठक निर्णायक साबित हो सकती है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,489फैंसलाइक करें
23,092फॉलोवर्सफॉलो करें
121,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: