Sunday, July 25, 2021
Homeदेश-समाज800+ विदेशी जमाती दिल्ली की मस्जिदों में छिपे पाए गए: टेस्ट में कोरोना पॉजिटिव...

800+ विदेशी जमाती दिल्ली की मस्जिदों में छिपे पाए गए: टेस्ट में कोरोना पॉजिटिव आने से हो सकती है संक्रामक चेन लंबी

स्वास्थ्य विभाग और दिल्ली पुलिस की टीम को छापेमारी के दौरान दिल्ली की विभिन्न मस्जिदों में छिपे 800 से अधिक विदेशी मिले हैं। डर इस बात का है कि अगर इनमें से कुछ कोरोना पॉजिटिव पाए गए तो यह चेन लम्बी भी हो सकती है, जोकि बेहद खतरनाक होगी।

दिल्ली के निजामुद्दीन से निकाले गए सैकड़ों जमातियों के बाद से देश के विभिन्न राज्यों में मौजूद मस्जिदों में स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर पुलिस की टीमें कोरोना से जंग लड़ने के लिए लगातार छापेमारी कर रही हैं। कुछ इसी तरह दिल्ली में भी यह क्रम जारी है। इसमें बीते दिन दिल्ली पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। स्वास्थ्य विभाग और दिल्ली पुलिस की टीम को छापेमारी के दौरान दिल्ली की विभिन्न मस्जिदों में छिपे 800 से अधिक विदेशी मिले हैं।

हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक एक अधिकारी ने कहा है कि दिल्ली की मस्जिदों में अभी और भी विदेशी जमातियों के छिपे होने की आशंका है। वहीं मस्जिदों से निकाले गए सभी 800 विदेशियों को राजधानी के अलग-अलग अस्पतालों में क्वारंटाइन किया गया है। इस सभी की कोरोना से जुड़ी जाँच होना बाकी है। वहीं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कहा कि डर इस बात का है कि अगर इनमें से कुछ कोरोना पॉजिटिव पाए गए तो यह चेन लम्बी भी हो सकती है, जोकि बेहद खतरनाक होगी।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक सुरक्षा विभाग से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि दिल्ली के उत्तर-पूर्वी जिले की मस्जिदों में लगभग 100 विदेशी, दक्षिण-पूर्व जिले की मस्जिदों में 200 और साउथ दिल्ली जिले की मस्जिदों में 170 और पश्चिम दिल्ली जिले की मस्जिद में 7 विदेशी जमाती पाए गए।

सुरक्षा एजेंसियों ने जाँच में पाया है कि 1 मार्च से 18 मार्च के बीच 2100 से अधिक विदेशी नागरिकों ने निजामुद्दीन के मजहबी कार्यक्रम में हिस्सा लिया था। गौर करने वाली बात यह कि अभियान के दौरान मरकज में 216 विदेशी जमाती पाए गए थे, जबकि 824 जमाती पहले ही देश के विभिन्न हिस्सों के लिए निकल चुके थे।

जानकारी के मुताबिक दिल्ली निजामुद्दीन से निकाले गए 2300 जमातियों के बाद दिल्ली पुलिस ने एक संदेश देते हुए कहा था कि दिल्ली की तमाम मस्जिदों की भी जाँच होनी चाहिए, क्योंकि उनमें विदेशी जमातियों के होने की आशंका है। इसके बाद दिल्ली में 16 मस्जिदों की छापेमारी के लिए एक लिस्ट तैयार की गई थी। इसके बाद जाँचकर्ताओं ने पाया कि निजामुद्दीन से निकलकर 187 विदेशी और दो दर्जन से अधिक भारतीय जमाती दिल्ली की विभिन्न मस्जिदों के लिए निकले थे।

आपको बता दें कि पिछले महीने के अंत में दिल्ली पुलिस और और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने निजामुद्दीन में तबलीगी जमात मुख्यालय से करीब 2361 जमातियों कोरोना निकाला था। इनमें बड़ी संख्या में विदेशी जमाती भी थे। वहीं यहाँ से निकालने जाने के बाद सभी जमातियों को दिल्ली के अगल-अगल अस्पतालों में भर्ती कराया गया था। चौंकाने वाली बात यह कि इनमें से अभी तक की जाँच रिपोर्ट में 259 लोगों में कोरोना से संक्रमित पाया गया है।

राष्ट्रीय राजधानी में बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण के 91 नए मामले सामने आए और उनकी कुल संख्या बढ़कर 384 हो गई है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 384 नए मामलों में से 259 निजामुद्दीन मरकज से संबंधित हैं। वहीं दिल्ली में हुई अब 6 मौतों में से 3 मौत निजामुद्दीन से निकले जमातियों की हुई है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मणिपुर के सेब, आदिवसियों की बेर और ‘बनाना फाइबर’ से महिलाओं की कमाई: Mann Ki Baat में महिला शक्ति की कहानी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार (25 जुलाई, 2021) को 'मन की बात' के 79वें एपिसोड के जरिए देश की जनता को सम्बोधित किया।

हेमंत सोरेन की सरकार गिराने वाले 3 ‘बदमाश’: सब्जी विक्रेता, मजदूर और दुकानदार… ₹2 लाख में खरीदते विधायकों को?

अब सामने आया है कि झारखंड सरकार गिराने की कोशिश के आरोपितों में एक मजदूर है और एक ठेला लगा सब्जी/फल बेचता है। एक इंजिनियर है, जो अपने पिता की दुकान चलाता है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,079FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe