Monday, July 22, 2024
Homeदेश-समाजहोटल में नए साल की पार्टी, कमरा नंबर 104, शराब और झगड़ा: कार में...

होटल में नए साल की पार्टी, कमरा नंबर 104, शराब और झगड़ा: कार में घिसटने और नग्न लाश मिलने से पहले भी दिल्ली में हुआ था बहुत कुछ

"दोनों लड़कियाँ पार्टी कर रही थीं। उन्होंने शराब पी रखी थी। काफी देर तक लड़ाई-झगड़ा चलता रहा। उन्हें समझाने की कोशिश भी की गई। फिर दोनों यहाँ से चली गईं।"

दिल्ली में नए साल पर कार से घसीटी गई लड़की की मौत के मामले में नए तथ्य सामने आए हैं। मृत लड़की के स्कूटी लेकर होटल से निकलने के CCTV फुटेज सामने आए हैं। कहा जा रहा है कि लड़की ने होटल में पार्टी के लिए दो कमरे बुक किए थे। उसके दोस्त आए थे, जिसमें लड़के भी थे। होटल में झगड़ा होने की बात भी कही जा रही। पुलिस होटल में मौजूद रहे लड़कों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

इससे पहले यह बात सामने आई थी कि मृत लड़की अपनी एक दोस्त के साथ स्कूटी पर होटल से निकली थी। एक्सीडेंट के बाद यह लड़की मौके से डरकर भाग गई थी। टक्कर मारने के बाद लड़की कार के साथ करीब 12 किलोमीटर तक घसीटती रही। होटल मैनेजर अनिल ने दावा किया है कि दोनों लड़कियाँ 31 दिसंबर 2022 की शाम 7.30 बजे के आसपास होटल पहुँची थीं। उन्होंने, होटल का कमरा नंबर 104 बुक कराया था। उनसे मिलने के लिए कुछ लड़के भी होटल आए थे। इसके बाद, दोनों ने लड़ना-झगड़ना शुरू कर दिया।

मैनेजर ने यह भी दावा किया है कि इस होटल में आए उसे एक महीना ही हुआ है। इस दौरान उसने पहले भी मृतका को यहाँ अपने दोस्त के साथ आते देखा था। नाइट शिफ्ट के स्टाफ ने उनके झगड़े को रोकने की कोशिश की थी। झगड़ा शांत न होने पर मैनेजर ने उन दोनों को नीचे जाने को कह दिया था। नीचे जाने के बाद भी दोनों लड़कियाँ लड़तीं रहीं। उनके साथ 5-7 लोग थे। दोनों एक-दूसरे को गालियाँ दे रहीं थीं। इससे, आसपास के लोग वहाँ जमा हो गए थे। वहाँ खड़े लोगों ने उन्हें मना किया तो दोनों स्कूटी में बैठकर करीब 1:15 बजे वहाँ से चली गईं।

होटल के एक अन्य स्टाफ रोहित ने एक न्यूज चैनल से बातचीत में दावा किया कि दोनों लड़कियाँ पार्टी कर रही थीं। उन्होंने शराब पी रखी थी। काफी देर तक लड़ाई-झगड़ा चलता रहा। उन्हें समझाने की कोशिश भी की गई। फिर दोनों यहाँ से चली गईं। वहीं, होटल के सामने दोनों लड़कियों के झगड़ने का वीडियो भी सामने आया है।

घटना का CCTV सामने आने के बाद, पुलिस ने मृत युवती के साथ नजर आई लड़की से संपर्क किया है। साथ ही, पुलिस ने होटल में युवती के साथ देखे गए लड़कों को भी हिरासत में लिया है। इस बारे में पुलिस ने हा है, “कुछ लड़के होटल में लड़कियों के साथ देखे गए थे। उन लड़कों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। लड़कों के लिए एक अलग कमरा बुक था। होटल के कर्मचारियों ने उन्हें लड़की से बात करते हुए देखा था।”

पोस्टमार्टम में बलात्कार की पुष्टि नहीं

मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि प्रारंभिक मेडिकल जाँच में पीड़िता के प्राइवेट पार्ट पर चोट के निशान या घाव नहीं मिले हैं। जिसको लेकर कहा जा रहा है कि मृतका के साथ बलात्कार नहीं हुआ। वहीं, डीसीपी हरेंद्र सिंह ने भास्कर से हुई बातचीत में इसे नकारते हुए कहा है कि यह सिर्फ कयास हैं। अभी रिपोर्ट आने का इंतजार करना होगा।

लड़की का शव नग्नावस्था में हुआ था बरामद

बता दें कि नए साल पर युवती स्कूटी से अपने घर लौट रही थी। तभी, एक कार से उसका एक्सीडेंट हुआ। एक्सीडेंट में युवती कार के निचले हिस्से में फँस गई, लेकिन आरोपितों ने कार नहीं रोकी। इस कारण युवती 10-12 किलोमीटर तक लगातार घिसटती चली गई। इस हादसे में, युवती के पैर भी कट चुके थे। सूचना पाकर घटनास्थल पर पहुँची पुलिस ने दिल्ली के कंझावला थाना क्षेत्र से लड़की का शव नग्नावस्था में बरामद किया। पुलिस ने इस मामले में 5 आरोपितों को गिरफ्तार किया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -