Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजअब्बू, दादा और 3 चाचाओं ने मिल कर 9 साल की बच्ची को मार...

अब्बू, दादा और 3 चाचाओं ने मिल कर 9 साल की बच्ची को मार डाला, वो तड़पती रही-ये वीडियो बनाते रहे: पड़ोसियों को फँसाने के लिए रची थी साजिश

पुलिस को जाँच के दौरान पता चला कि शादाब के परिवार और शकील में काफी समय से मुकदमेबाजी चल रही है। इसमें कोर्ट ने शादाब और उसके परिवार के खिलाफ वॉरंट जारी किया था।

पीलीभीत (Pilibhit) में 9 साल की बच्ची की हत्या का दर्दनाक मामला सामने आया है। इस घटना को बच्ची के अब्बू अनीस, दादा व चाचाओं ने मिलकर अंजाम दिया। हैवानियत इतनी कि जब बच्ची तड़प रही थी तो इन्हीं लोगों ने वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। मामले में पुलिस ने बच्ची के दादा, अब्बू और तीन चाचा को गिरफ्तार किया गया है। बताया जा रहा है कि अपने पड़ोसियों को फँसाने के लिए इन लोगों ने बच्ची की चाकू घोंपकर हत्या (Murder) कर दी। बच्ची का शव माधोपुर में मिला था।

पुलिस को जाँच के दौरान पता चला कि शादाब के परिवार और शकील में काफी समय से मुकदमेबाजी चल रही है। इसमें कोर्ट ने शादाब और उसके परिवार के खिलाफ वॉरंट जारी किया था। इसी बात से परेशान होकर उन्होंने शकील को फँसाने की योजना बनाई। शुक्रवार (2 दिसंबर, 2022) की शाम बच्ची का चाचा शादाब उसे मेला दिखाने के बहाने ग्राम सौदा पट्टी ले गया था।

पुलिस अधीक्षक दिनेश पी ने बताया, “वहाँ सभी आरोपित एकजुट हुए और बच्ची को एक बाग में ले जाकर नींद की गोली खिला दी। फिर उसे पराली में छुपा दिया। फिर शनिवार (3 दिसंबर, 2022) सुबह चार बजे चाकू घोंपकर हत्या कर दी। इसके बाद उसे मरा समझकर शकील को फँसाने के उद्देश्य से उसके खेत में फेंक दिया।”

उन्होंने बताया कि कुछ समय के बाद वे दोबारा खेत पर आए। हैरान करने वाली बात यह है कि उस वक्त बच्ची जिंदा थी। वे सभी बच्ची के मरने का इंतजार करने लगे। इस दौरान उसका वीडियो भी बनाया। मरने के बाद वीडियो बनाकर शकील के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी। पुलिस ने पिता अनीस, चाचा शादाब, नसीम, सलीम और दादा शहजादे को गिरफ्तार किया है। आरोपितों के कब्जे से चाकू और खून से सने कपड़े बरामद कर लिए गए हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बांग्लादेशी महिला के 5 छोटे बच्चे, 3 लड़कियाँ… इसलिए इलाहाबाद हाई कोर्ट ने दे दी जमानत: सपा विधायक की मदद से भारत में रहने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने जेल में बंद एक बांग्लादेशी महिला हिना रिजवान को जमानत दे दी। महिला अपने बच्चों के साथ अवैध रूप से भारत में रही थी।

घुमंतू (खानाबदोश) पूजा खेडकर: जिसका बाप IAS, वो गुलगुलिया की तरह जगह-जगह भटक बिताई जिंदगी… इसी आधार पर बन गई MBBS डॉक्टर

पूजा खेडकर ने MBBS में नाम लिखवाने से लेकर IAS की नौकरी पास करने तक में नाम, उम्र, दिव्यांगता, अटेंप्ट और आय प्रमाण पत्र में फर्जीवाड़ा किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -