Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजस्कूल में बच्चे कर रहे थे प्रार्थना, स्थानीय मुस्लिमों का समूह आया, कहा- बंद...

स्कूल में बच्चे कर रहे थे प्रार्थना, स्थानीय मुस्लिमों का समूह आया, कहा- बंद करो मंत्रोच्चार: Video वायरल, शिक्षकों के साथ दुर्व्यवहार

"भीड़ प्रार्थना के समय आई और शिक्षकों के साथ दुर्व्यवहार करने लगी। उन्होंने प्रार्थना बंद करने की माँग की। छात्र डर गए। प्राचार्य ने प्राथमिक शिक्षा अधिकारी को इस बाबत लिखित शिकायत दी है।"

गुजरात के पालनपुर शहर के एक प्राथमिक विद्यालय में मुस्लिम समुदाय के लोगों द्वारा प्रार्थना बंद करने की धमकी देने का मामला सामने आया है। इस संबंध में विद्यालय के एक शिक्षक ने प्राथमिक शिक्षा अधिकारी से शिकायत की है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मुस्लिमों ने स्कूल के शिक्षकों को रोजाना होने वाले ’20 मिनट के प्रार्थना सत्र’ को बंद करने की धमकी दी है।

घटना सोमवार (23 जनवरी 2023) को ढोंडियावाड़ी पालनपुर स्थित एन कोठारी प्राथमिक विद्यालय (N Kothari Primary School) की है। शिक्षक ने अपनी शिकायत में कहा है कि कुछ असामाजिक तत्व स्कूल में आए और प्रार्थना बंद करने की माँग को लेकर हंगामा करने लगे। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है।

रिपोर्ट के मुताबिक, सुबह जब प्रार्थना शुरू हुई तो 10-12 लोगों की भीड़ वहाँ आ गई। उन्होंने हंगामा करते हुए प्रार्थना बंद करने के लिए कहा। इस स्कूल में 500 से अधिक बच्चे पढ़ते हैं। इनमें से तक़रीबन 150-175 छात्र मुस्लिम समुदाय के हैं। स्कूल में 16 शिक्षक हैं।

संगीत शिक्षक महेश भाई सोलंकी ने दिव्य भास्कर को बताया कि प्रतिदिन छात्र 20 मिनट मंत्रों के उच्चारण के साथ प्रार्थना करते हैं। प्रश्नोत्तरी आदि सहित अन्य गतिविधियाँ भी होती हैं। उन्होंने कहा, “भीड़ प्रार्थना के समय आई और शिक्षकों के साथ दुर्व्यवहार करने लगी। उन्होंने प्रार्थना बंद करने की माँग की। छात्र डर गए। प्राचार्य ने प्राथमिक शिक्षा अधिकारी को इस बाबत लिखित शिकायत दी है।”

स्कूल द्वारा दिए गए लिखित शिकायत के अनुसार, “इलाके में रहने वाले कुछ निवासियों को हर सुबह होने वाली प्रार्थना पसंद नहीं है। वे अक्सर स्कूल में समस्या पैदा करते हैं और प्रार्थना बंद करने की माँग करते हैं।” स्कूल ने दिव्य भास्कर को बताया कि छात्र प्रार्थना, मंत्र उच्चारण और अन्य गतिविधियों में भाग लेते हैं। अन्य गतिविधियों के दौरान छात्र क्विज़, सामान्य ज्ञान, समाचार पढ़ने, स्किट और अन्य चीजों में शामिल होते है। स्कूल ने बताया, “इससे छात्र पाठ्येतर गतिविधियों में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित होते हैं।”

पहले भी मुस्लिम कर चुके हैं ऐसी माँग

यह पहली बार नहीं है जब मुस्लिमों ने स्कूल में प्रार्थना को रोकने की माँग की है। 2017 में मकतमपुरा के एक मुस्लिम नेता हाजी असरबेग एस मिर्जा (Haji Asrarbeg S Mirza) ने सीबीएसई को पत्र लिखकर इस बाबत शिकायत दर्ज कराई थी। डीएवी इंटरनेशनल स्कूल के खिलाफ शिकायत में उन्होंने आरोप लगाया था कि स्कूल मुस्लिम छात्रों को प्रार्थना के दौरान गायत्री मंत्र का पाठ करने के लिए मजबूर कर रहा है। इसके अलावा, उन्होंने दावा किया था कि ईद जैसे मुस्लिम त्योहार स्कूल में नहीं मनाए जाते थे। स्कूल ने हालाँकि आरोपों से इनकार किया था और कहा था कि मुस्लिम छात्र प्रार्थना से दूर रहने के लिए स्वतंत्र हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘वनवासी महिलाओं से कर रहे निकाह, 123% बढ़ी मुस्लिम आबादी’: भाजपा सांसद ने झारखंड में NRC के लिए उठाई माँग, बोले – खाली हो...

लोकसभा में बोलते हुए सांसद निशिकांत दुबे ने कहा, विपक्ष हमेशा यही बोलता रहता है संविधान खतरे में है पर सच तो ये है संविधान नहीं, इनकी राजनीति खतरे में है।

देशद्रोही, पंजाब का सबसे भ्रष्ट आदमी, MeToo का केस… खालिस्तानी अमृतपाल का समर्थन करने वाले चन्नी की रवनीत बिट्टू ने उड़ाई धज्जियाँ, गिरिराज बोले...

रवनीत सिंह बिट्टू ने कहा कि एक पूर्व मुख्यमंत्री देशद्रोही की तरह व्यवहार कर रहा है, देश को गुमराह कर रहा है। गिरिराज सिंह बोले - ये देश की संप्रभुता पर हमला।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -