Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजज्योति मौर्य की जेठानी की शादी भी झूठ बोल कर, करेंगी FIR: कहा -...

ज्योति मौर्य की जेठानी की शादी भी झूठ बोल कर, करेंगी FIR: कहा – ‘आलोक का परिवार सिर्फ पैसों का भूखा’

ज्योति मौर्य की जेठानी शुभ्रा ने आरोप लगाया कि उनके पति ने भी शादी से पहले खुद को इंटेलिजेंस ब्यूरो का अधिकारी बताया था। पति के नशेड़ी होने और खुद को टॉर्चर करने का भी आरोप।

बहुचर्चित PCS अधिकारी ज्योति मौर्य और उनके पति आलोक से संबंधित विवाद में अब एक नया मोड़ आ गया है। ज्योति की जेठानी ने मीडिया से बात करते हुए आलोक के परिवार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। जेठानी शुभ्रा ने भी आलोक के परिवार पर FIR दर्ज करवाने का एलान किया है।

शुभ्रा मौर्य पेशे से सरकारी टीचर हैं। उन्होंने आलोक के भाई (अपने पति) पर नशेड़ी होने और खुद को टॉर्चर करने का आरोप लगाया है। ‘आज तक’ ने ज्योति मौर्य की जेठानी शुभ्रा का इंटरव्यू 19 जुलाई (बुधवार) को प्रकाशित किया है। इस इंटरव्यू में उन्होंने खुद को पीड़िता बताया है।

शुभ्रा आलोक के भाई विनोद मौर्य की बीवी हैं। इन्होंने बताया कि उनके पति विनोद GST विभाग में नौकरी करते हैं। शुभ्रा ने यह भी आरोप लगाया कि उनके पति ने भी शादी से पहले खुद को इंटेलिजेंस ब्यूरो का अधिकारी बताया था।

अपनी शादी से जुड़े झूठ को धोखाधड़ी बताते हुए शुभ्रा ने आलोक की शादी वाले कार्ड का भी जिक्र किया। उन्होंने बताया कि खुद को ग्राम विकास अधिकारी बता कर ज्योति से शादी करने वाली बात सही है। हालाँकि ज्योति और आलोक के बीच हो रहे विवाद को शुभ्रा ने पति-पत्नी का झगड़ा बताते हुए आगे कॉमेंट करने से मना कर दिया।

शुभ्रा का दावा है कि आलोक का परिवार सिर्फ पैसों का भूखा है। इन्होंने अपने साथ हो रही प्रताड़ना की वजह 2 बेटियों का जन्म होना बताया। पुलिस की कार्रवाई को भी कटघरे में खड़ा करते हुए ज्योति मौर्य की जेठानी ने कहा कि उन्होंने अपने साथ हुए टॉर्चर की साल 2018 में शिकायत दर्ज करवाई थी लेकिन उस पर कोई एक्शन नहीं हुआ था।

शुभ्रा मौर्य ने आगे बताया कि उनके मायके वालों ने प्रयागराज में एक घर खरीद कर दिया था। इस घर को बिकवाने का दबाव उनके ससुराल वालों द्वारा लगातार बनाया गया। विनोद मौर्य अपनी बीवी शुभ्रा को मानसिक रूप से प्रताड़ित करने के लिए आत्महत्या करने की धमकी भी दिया करता था। शुभ्रा ने कहा है कि अब वो अपने ससुराल वालों के खिलाफ FIR दर्ज करवाने जा रही हैं।

10 जुलाई 2023 को शुभ्रा ने अपने ससुराली जनों के खिलाफ केस दर्ज करवाने का प्रयास किया था लेकिन FIR दर्ज नहीं हो पाई। इसके पाँच दिन बाद 15 जुलाई को शुभ्रा के पति और परिजनों ने हंगामा किया था, जिसके चलते उन्हें पुलिस बुलानी पड़ी थी। शुभ्रा अभी तक अपनी ससुराल में रह रहीं थी लेकिन उनका आरोप है कि ससुराल वालों द्वारा अब इतना टॉर्चर कर दिया गया है कि उनका रहना मुश्किल हो चुका है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भिंडराँवाले के बाद कॉन्ग्रेस ने खोजा एक नया ‘संत’… तब पैसा भेजते थे, अब संसद में कर रहे खुला समर्थन: समझिए कैसे नेहरू-गाँधी परिवार...

RA&W और सेना के पूर्व अधिकारी कह चुके हैं कि कॉन्ग्रेस ने पंजाब में खिसकती जमीन वापस पाने के लिए भिंडराँवाले को पैदा किया। अब वही फॉर्मूला पार्टी अमृतपाल सिंह के साथ आजमा रही। कॉन्ग्रेस के बड़े नेता जरनैल सिंह के सामने फर्श पर बैठते थे। संजय गाँधी ने उसे 'संत' बनाया था।

‘वनवासी महिलाओं से कर रहे निकाह, 123% बढ़ी मुस्लिम आबादी’: भाजपा सांसद ने झारखंड में NRC के लिए उठाई माँग, बोले – खाली हो...

लोकसभा में बोलते हुए सांसद निशिकांत दुबे ने कहा, विपक्ष हमेशा यही बोलता रहता है संविधान खतरे में है पर सच तो ये है संविधान नहीं, इनकी राजनीति खतरे में है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -