Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाजसोमू पादरी ने धर्मांतरण का लालच दे विश्वनाथ को प्रेयर के लिए बुलाया, भजन...

सोमू पादरी ने धर्मांतरण का लालच दे विश्वनाथ को प्रेयर के लिए बुलाया, भजन पर दी गाली: विरोध में उसी चर्च में हिंदुओं का श्रीराम जय राम…

विश्वनाथ कहते हैं, “सोमू ने मुझसे और मेरे परिवार से रविवार की प्रेयर, चर्च में अटेंड करने को कहा। लेकिन वहाँ जब मैंने हिंदू प्रार्थना गानी शुरू की, तो हॉल में मौजूद अन्य लोगों के साथ उन्होंने मुझे गाली देना शुरू कर दिया।”

कर्नाटक के हुबली में 17 अक्टूबर को बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने एक चर्च में चलाए जा रहे धर्मांतरण अभियान के विरुद्ध प्रदर्शन करते हुए वहीं के परिसर में बैठकर भजन गाया। NDTV द्वारा शेयर की गई एक वीडियो में देख सकते हैं कि कई पुरुष और महिलाएँ हुबली के बैरीदेवरकोप्पा चर्च (Bairidevarkoppa Church) के अंदर हाथ जोड़कर भजन गा रहे हैं। 

इस प्रदर्शन के दौरान कार्यकर्ताओं और बीजेपी नेताओं ने पादरी सोमू अवराधी ( Somu Avaradhi) की गिरफ्तारी की भी माँग की। बजरंग दल के राज्य संयोजक रघु सकलेशपोरा ने बताया, “विश्वनाथ नामक एक व्यक्ति को धर्मांतरण के लिए वहाँ (चर्च) ले जाया गया था। लेकिन, वह चर्च से पुलिस स्टेशन गया और पादरी सोमू और अन्य के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। बाद में, हमारे सदस्य चर्च के अंदर जमा हो गए और विरोध करने के लिए हिंदू भजन गाने लगे।”

चर्च में गूँजा श्रीराम-जय राम-जय जय राम।

बता दें कि चर्च में भजन गाने के अलावा बजरंग दल, विश्व हिंदू परिषद और भाजपा विधायक अरविंद बेल्लाड ने नवनगर पुलिस थाने में रविवार को अपना विरोध प्रदर्शन भी किया। उनका आरोप था कि पुलिस जबरन धर्मांतरण मामले में आरोपित पादरी को गिरफ्तार नहीं कर पाई। इससे पहले, कार्यकर्ताओं के एक बड़े समूह ने हुबली-धारवाड़ की प्रमुख सड़क और हुबली-धारवाड़ बस रैपिड ट्रांजिट सिस्टम को समर्पित कॉरिडोर को डेढ़ घंटे जाम किया हुआ था। 

जानकारी के मुताबिक विश्वनाथ, एपीएमसी यार्ड में एक सब्जी विक्रेता हैं जिन्होंने  धर्मांतरण के आरोप में पादरी और अन्य लोगों पर शिकायत की थी। उन्होंने ये भी कहा था कि चर्च में उनके साथ बदसलूकी हुई क्योंकि उन्होंने ईसाइयों की प्रार्थना गाने की बजाय हिंदुओं की प्रार्थना गाई थी।

रिपोर्टरों से बात करते हुए विश्वनाथ ने कहा कि सोमू ने तीन माह पहले उनसे बात करनी शुरू की थी। लेकिन, 6 दिन पहले सोमू घर पर आया और कहा कि अगर विश्वनाथ ईसाई धर्म का अनुसरण करता है तो उसका जीवन बदल जाएगा। विश्वनाथ कहते हैं, “सोमू ने मुझसे और मेरे परिवार से रविवार की प्रेयर, चर्च में अटेंड करने को कहा। लेकिन वहाँ जब मैंने हिंदू प्रार्थना गानी शुरू की, तो हॉल में मौजूद अन्य लोगों के साथ उन्होंने मुझे गाली देना शुरू कर दिया।”

बता दें कि चर्च और थाने में हिंदू संगठनों के भारी विरोध प्रदर्शन के बाद कहा जा रहा है कि पादरी की गिरफ्तारी हो गई है। वहाँ के पुलिस आयुक्त ने कहा कि इस मामले में जाँच चल रही है। सिर्फ सोमू को गिरफ्तार किया गया है। अब तक चर्च की ओर से कोई शिकायत नहीं आई है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आम सैनिकों जैसी ड्यूटी, सेम वर्दी, भारतीय सेना में शामिल हो चुके हैं 1 लाख अग्निवीर: आरक्षण और नौकरी भी

भारतीय सेना में शामिल अग्निवीरों की संख्या 1 लाख के पार हो गई है, 50 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है।

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -