Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजलखीमपुर खीरी में 2 दलित बहनों की रेप+हत्या: सोहैल, आरिफ, हाफिज, करीमुद्दीन, छोटे गिरफ्तार......

लखीमपुर खीरी में 2 दलित बहनों की रेप+हत्या: सोहैल, आरिफ, हाफिज, करीमुद्दीन, छोटे गिरफ्तार… जुनैद को लगी पुलिस की गोली

जिन 2 दलित बहनों की रेप के बाद हत्या करके पेड़ से टाँग दिया गया, उनकी माँ के मुताबिक इन लड़कियों को आरोपितों ने घसीट कर बाइक पर बिठाया था।

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर जिले में 2 दलित बहनों की रेप के बाद हत्या के आरोप में पुलिस ने अब तक कुल 6 आरोपितों को गिरफ्तार किया है। इनके नाम जुनैद, सोहैल, आरिफ, हाफ़िज़, छोटे और करीमुद्दीन हैं। पुलिस से हुई मुठभेड़ में जुनैद को गोली लगी है। आरोपितों पर पीड़िता को बहला-फुसला कर खेत में ले जाने और वहाँ रेप के बाद हत्या कर देने का आरोप है। घटना बुधवार (14 सितम्बर 2022) की है।

घटना की जानकारी देते हुए खीरी के पुलिस अधीक्षक IPS संजीव सुमन ने बताया कि सभी नामजद अभियुक्तों को गिरफ्तार किया जा चुका है। पुलिस के मुताबिक छोटू नाम के व्यक्ति ने सबसे पहले आरोपितों को लड़की से परिचित करवाया था और सभी में दोस्ती हुई थी।

SP ने आगे कहा कि दोस्ती के बाद तीनों लड़के गाँव में आकर लड़कियों को बहला-फुसला कर खेत में ले गए। बताया गया कि खेत में लड़कियों के विरोध के बाद भी उनसे शारीरिक संबंध बनाए गए तो वहाँ लड़कियाँ आरोपितों से शादी की जिद करने लगीं।

पुलिस ने आगे बताया कि शादी की जिद से नाराज हो कर आरोपितों ने लड़कियों के ही दुपट्टे से गला दबा कर उनकी हत्या कर डाली। बाद में सभी आरोपितों ने सबूत मिटाने के लिए दोनों लड़कियों की लाशों को पेड़ पर टाँग दिया।

पुलिस ने कहा कि अभी तक इतनी जानकरी प्रकाश में आई है, जिस पर आगे की जाँच की जा रही है। पुलिस के मुताबिक मृतकाओं के पोस्टमॉर्टम की कार्रवाई की जा रही है। जाँच से निकले तथ्यों से मीडिया को अवगत करवाया जाएगा।

पुलिस प्रेस नोट

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पीड़िताओं के पोस्टमॉर्टम में महिला डॉक्टर भी मौजूद रहेंगी और इसकी वीडियोग्राफ़ी भी करवाई जाएगी। वहीं मृतकाओं की माँ के मुताबिक उनकी लड़कियों को आरोपितों ने घसीट कर बाइक पर बिठाया था।

पहचान के तौर पर मृतका की माँ ने आरोपितों को लालपुर गाँव का निवासी बताया था, जिन्होंने पीली और सफ़ेद शर्ट पहन रखी थी। खुलासे से पहले इस मामले की तुलना समाजवादी पार्टी, बसपा ने और भीम आर्मी ने हाथरस काण्ड से करते हुए योगी सरकार पर सवाल खड़े किए।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -