Saturday, July 13, 2024
Homeदेश-समाज30 ब्रा-पैंटी चुराने वाले मोहम्मद अक्कास को UP पुलिस ने दबोचा, लड़कियों ने बाहर...

30 ब्रा-पैंटी चुराने वाले मोहम्मद अक्कास को UP पुलिस ने दबोचा, लड़कियों ने बाहर कपड़े सुखाने कर दिए थे बंद

मोहम्मद अक्कास का जब 37 सेकेंड वाला वीडियो (जहाँ वो अन्य कपड़ों को छोड़ सिर्फ ब्रा-पैंटी चुराता है) वायरल हुआ, उसके बाद स्थानीय महिलाओं में इतना डर हो गया कि उन्होंने बाहर कपड़े सुखाने भी बंद कर दिए।

उत्तर प्रदेश के मेरठ में लड़कियों के अंडरगारमेंट्स चुराने वाले दूसरे आरोपित मोहम्मद अक्कास को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इससे पहले एक आरोपित रोमिन अब्बासी की गिरफ्तारी हुई थी। उसके पास से पुलिस को चोरी किए गए अंडरगार्मेंट्स भी बरामद हुए थे।

मोहम्मद अक्कास की गिरफ्तारी की सूचना मेरठ पुलिस ने अपने ट्विटर हैंडल से दी है। पुलिस ने बताया कि अक्कास ने पकड़े जाने के बाद अपनी घिनौनी मानसिकता का खुलासा किया। उसने कहा कि अभी तक उसने अपने साथियों के साथ 30 से ज्यादा घरों से महिलाओं के अंडरगार्मेंट चोरी किए हैं।

सभी इल्जाम स्वीकारते हुए मोहम्मद अक्कास ने बताया कि वह पहले अपने दोस्तों के साथ ऐसी महिलाओं के घर को तलाशता था, जो बाहर कपड़े सुखाती हों। फिर मौका देख कर वहाँ से उनके कपड़े चुरा लेता था।

पुलिस ने पड़ताल में ये भी पाया कि मोहम्मद अक्कास सिर्फ़ अंडरगार्मेंट्स चोरी करने के मामले में आरोपित नहीं हैं बल्कि वाहन चोरी केस में भी वांछित है। पुलिस को पहले से ही उसकी व उसके अब्बा आशीक अली की तलाश थी। अक्कास की गिरफ्तारी के साथ ही उसकी एक अन्य वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी है।

37 सेकेंड की इस वीडियो में वह स्कूटी से आकर एक घर के बाहर सूख रहे महिलाओं के अंडरगार्मेंट्स चुराते दिख रहा है। उसकी वीडियो वायरल होने के बाद स्थानीय महिलाओं में इतना डर है कि उन्होंने बाहर कपड़े सुखाने भी बंद कर दिए हैं।

गौरतलब है कि सदर थाना क्षेत्र में लड़कियों के अंडरगार्मेंट चोरी होने की शिकायत दर्ज होने के बाद पुलिस ने मोहम्मद रोमिन को गिरफ्तार किया था। रोमिन ने भी पूछताछ में कई चौंकाने वाले खुलासे किए थे। उसने बताया था कि इस कृत्य के पीछे का कारण उनकी कामुकता थी। उन्होंने मिलकर कम से कम 10 अंडरगार्मेंट्स चुराए थे।

बता दें कि पूरा मामला 14 फरवरी को संज्ञान में आया था। जब कुछ लोगों ने इकट्ठा होकर सदर थाना क्षेत्र में अपनी शिकायत लिखवाई थी। लोगों को लगा था कि शायद ये सब काम वशीकरण की मंशा से किया जा रहा हो, लेकिन रोमिन ने गिरफ्तार होकर अपनी घिनौनी मानसिकता की सच्चाई उजागर की थी और अब अक्कास ने भी सारे आरोप स्वीकार कर लिए हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -