Friday, July 19, 2024
Homeदेश-समाजगैंगस्टर-टेरर फंडिंग नेटवर्क पर NIA की रेड, 8 राज्यों की 70+ जगहों पर कार्रवाई:...

गैंगस्टर-टेरर फंडिंग नेटवर्क पर NIA की रेड, 8 राज्यों की 70+ जगहों पर कार्रवाई: 11 राज्यों में इनकम टैक्स की भी छापेमारी

एनआईए ने गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई और उसके सहयोगी गैंगस्टर्स के ठिकानों में छापेमारी की है। यह छापेमारी लॉरेंस और नीरज बवाना गिरोह से हुई पूछताछ के बाद हुई है। पूछताछ में हथियारों की सप्लाई और टेरर फंडिंग का खुलासा हुआ था।

राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) और आयकर विभाग (IT Department) ने मंगलवार (21 फरवरी 2022) को देश के कई राज्यों में कार्रवाई की। एनआईए ने गैंगस्टर और टेरर फंडिंग के नेटवर्क पर शिकंजा कसने के लिए आठ राज्यों में 70 से अधिक ठिकानों पर छापेमारी की है। वहीं, आयकर विभाग ने 11 राज्यों के 64 जगहों पर छापा मारा है।

एनआईए ने गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई और उसके सहयोगी गैंगस्टर्स के ठिकानों में छापेमारी की है। यह छापेमारी लॉरेंस और नीरज बवाना गिरोह से हुई पूछताछ के बाद हुई है। पूछताछ में हथियारों की सप्लाई और टेरर फंडिंग का खुलासा हुआ था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, NIA की टीम ने मंगलवार की सुबह पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, राजस्थान, दिल्ली-एनसीआर, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और गुजरात में स्थित 70 से अधिक ठिकानों पर छापेमारी की। अकेले पंजाब में ही NIA ने 30 से अधिक ठिकानों पर छापा मारा है।

NIA ने हरियाणा के आजाद नगर और यमुना नगर में भी गैंगस्टरों के ठिकानों पर छापेमारी की है। हरियाणा के ही नारनौल में भी गैंगस्टर चिकू, गुरुग्राम में कौशल चौधरी और गुजरात के गाँधीधाम में ड्रगडीलर कुलविंदर के ठिकानों में NIA की छापेमारी चल रही है। एनआईए ने सूत्रों के हवाले से कहा है कि कुलविंदर अंतरराष्ट्रीय ड्रग माफिया गिरोह का हिस्सा है। वह लंबे समय से लॉरेंस विश्नोई का सहयोगी रहा है। उसके खिलाफ विश्नोई गैंग से जुड़े लोगों को शरण देने के मामले में भी केस दर्ज हैं।

इस छापेमारी को लेकर सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि एनआईए को पाकिस्तानी सुरक्षा एजेंसी आईएसआई और गैंगस्टरों के बीच संबंध की जानकारी मिली है। इस मामले में एनआईए पहले ही 3 बार छापेमार कार्रवाई कर चुकी है। गैंगस्टरों के खिलाफ एनआईए की यह चौथी बड़ी कार्रवाई है। जाँच एजेंसी ने अब तक कई गैंगस्टरों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार गैंगस्टर्स के पास से भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए हैं।

बता दें कि NIA ने यह कार्रवाई जेल में बंद लॉरेंस विश्नोई और नीरज बवाना व उसके गिरोह से जुड़े लोगों से हुई पूछताछ के बाद की है। पूछताछ के दौरान टेरर फंडिंग से लेकर हथियारों की सप्लाई करने की भी बात सामने आई थी। रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि उत्तर प्रदेश के पीलीभीत और प्रतापगढ़ में हथियार सप्लायरों की तलाश की जा रही थी। इस बात का संदेह जताया जा रहा है कि हथियार सप्लायर्स नेपाल के रास्ते हथियारों और गोला-बारूद की तस्करी करते हैं।

गौरतलब है कि NIA ने अक्टूबर 2022 में आतंकवादियों, गैंगस्टरों तथा ड्रग माफियाओं को निशाना बनाते हुए पाँच राज्यों में 50 से अधिक स्थानों पर छापे मारे थे। इस छापामार कार्रवाई को लेकर एजेंसी ने कहा था कि आतंकी नेटवर्क के साथ-साथ उनकी फंडिंग और सपोर्ट इंफ्रास्ट्रक्चर को खत्म करने के लिए इस तरह की कार्रवाई होती रहेगी।

वहीं, आयकर विभाग की टीम ने यूफ्लेक्स लिमिटेड के ठिकानों पर छापा मारा है। समाचार एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से बताया कि उत्तर प्रदेश, दिल्ली, गुजरात, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, जम्मू और कश्मीर, हरियाणा, तमिलनाडु, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में करीब 64 जगहों पर छापेमारी की जा रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -