Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजराजस्थान में अब कॉन्ग्रेसी भी सुरक्षित नहीं: पूर्व मंत्री की बेटी अगवा, पिता को...

राजस्थान में अब कॉन्ग्रेसी भी सुरक्षित नहीं: पूर्व मंत्री की बेटी अगवा, पिता को कॉल कर कहा था- कुछ लड़के पीछा कर रहे

पूर्व मंत्री का कहना है कि बेटी ने उन्हें अंतिम बार सोमवार शाम 6;05 पर कॉल किया था। उसके बाद से उसका फोन लगातार स्विच ऑफ बता रहा है। इस घटना के बाद भाजपा ने राजस्थान के लॉ एन्ड ऑर्डर पर सवाल खड़ा किया है।

अशोक गहलोत के शासनकाल में राजस्थान की कानून-व्यवस्था दिनोंदिन बिगड़ती जा रही है। अब राजधानी जयपुर से कॉन्ग्रेस नेता और पूर्व मंत्री गोपाल केसावत की बेटी को अगवा करने की खबर आ रही है। बताया जा रहा है कि लड़की ने पिता को कॉल कर अपना पीछा किए जाने की जानकारी भी दी थी। घटना सोमवार (21 नवंबर 2022) की है। खबर लिखे जाने तक लड़की का सुराग नहीं लगा था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पूर्व मंत्री गोपाल केसावत की 21 वर्षीया बेटी अभिलाषा घटना के दिन सब्ज़ी लेने घर से बाहर निकली थी। शाम को लगभग 5 बजे उसने पापा को कॉल कर बताया कि कुछ लड़के उसका पीछा कर रहे हैं। उसने पिता से जल्दी आने को कहा। पुलिस को दी गई शिकायत में केसावत ने कहा है कि जब वे बेटी की बताई जगह पर बेटे को लेकर पहुँचे तो वह वहाँ नहीं मिली।

पूर्व मंत्री के अनुसार उन्होंने बेटी को कई जगहों पर तलाशा। लेकिन वो नहीं मिली। आखिरकार प्रताप नगर थाने जाकर उन्होंने बेटी के अपहरण का केस दर्ज करवाया। इस मामले में SHO प्रताप नगर भजनलाल के मुताबिक केस दर्ज कर के पुलिस CCTV फुटेज खँगाल रही है। इस दौरान पूर्व मंत्री ने बेटी की तलाश जारी रखी। इस खोजबीन के दौरान उन्हें मंगलवार (22 नवम्बर 2022) को बेटी की स्कूटी जयपुर एयरपोर्ट के पास लावारिस हालत में मिली।

पूर्व मंत्री का कहना है कि बेटी ने उन्हें अंतिम बार सोमवार शाम 6;05 पर कॉल किया था। उसके बाद से उसका फोन लगातार स्विच ऑफ बता रहा है। इस घटना के बाद भाजपा ने राजस्थान के लॉ एन्ड ऑर्डर पर सवाल खड़ा किया है। भाजपा नेता लक्ष्मीकांत भरद्वाज ने राजस्थान मॉडल में सरकार के ही लोगों के असुरक्षित होने की बात कही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -