Friday, July 19, 2024
Homeदेश-समाजशरीफ नाम के किन्नर ने अपने गिरोह के साथ 3 साधुओं को पीटा, पटक...

शरीफ नाम के किन्नर ने अपने गिरोह के साथ 3 साधुओं को पीटा, पटक कर तोड़ डाला भजन बजाने वाला हारमोनियम और ढोलक: थाने में घुस कर भी किया हंगामा

तहरीर में उन्होंने बताया कि मंगलवार को वह वार्षिक भिक्षा के लिए कलान इलाके में भ्रमण कर रहे थे। राजेंद्र के साथ रामसरन और गोपाल नाथ भी थे।

उत्तर प्रदेश के शाहजहाँपुर जिले में किन्नरों के एक गिरोह ने भिक्षा माँग रहे साधुओं पर हमला कर दिया है। इस हमले में कुल 3 साधुओं को चोटें आईं हैं। उनके ढोलक और हारमोनियम छीन कर तोड़ डाले गए। हमले का मुख्य आरोपित शरीफ बताया जा रहा है। पुलिस ने कुल 4 आरोपितों के खिलाफ नामजद FIR दर्ज कर के जाँच शुरू कर दी है। घटना मंगलवार (11 जून 2024) की है। जिस इलाके का यह मामला है वहाँ के किन्नरों की मुखिया ने हमलावरों को आदतन अपराधी बता कर कड़ी कार्रवाई की माँग की है।

यह मामला शाहजहाँपुर जिले के थाना क्षेत्र कलान का है। यहाँ जिला बदायूँ के रहने वाले राजेंद्र नाथ गोस्वामी ने बुधवार (12 जून, 2024) को पुलिस में तहरीर दी है। तहरीर में उन्होंने बताया कि मंगलवार को वह वार्षिक भिक्षा के लिए कलान इलाके में भ्रमण कर रहे थे। राजेंद्र के साथ रामसरन और गोपाल नाथ भी थे। ये सभी हारमोनियम और ढोलक पर भजन गाते हुए स्वेच्छा से मिल रहा दान ले रहे थे। इसी दौरान वहाँ पर किन्नर समुदाय के शरीफ, आसिव, सोनम और सुंदरम पहुँच गए।

इन सभी ने मिल कर तीनों साधुओं को बेरहमी से बीच रास्ते दिन दहाड़े पीटा। इनके हारमोनियम और ढोलक को जमीन पर पटक कर तोड़ डाला गया। तीनों साधुओं को आरोपितों ने गंदी-गंदी गालियाँ दी। डर से लौट रहे साधुओं को इन आरोपितों ने दोबारा दिखाई देने से जान से मार डालने की भी धमकी दी। चारों आरोपितों ने साधुओं से यह भी कहा कि इलाके में किसी से भी माँगने का अधिकार केवल उन्ही लोगों के पास है। पीड़ित राजेंद्र ने पुलिस ने शरीफ, सोनम, आसिव और सुंदरम के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की माँग की है।

इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में चारों किन्नरों को साधुओं की पिटाई करते देखा जा सकता है। तीनों साधु स्वयं को बचाने की कोशिश करते दिखाई दे रहे हैं। पिटाई से आसपास अफरातरफी का माहौल हो गया। इस माहौल में किन्नरों को कपड़े भी उतारते देखा जा सकता है। जब पीड़ित साधु अपनी शिकायत ले कर थाने पहुँचे थे तो यहाँ भी शरीफ अपने साथियों सहित पहुँच गया था। उसने यहाँ हंगामा काटा। पुलिस ने जैसे-तैसे हालत को काबू किया।

पुलिस ने आसिव, सोनम, शरीफ और सुंदरम किन्नर के खिलाफ IPC की धारा 323, 427, 504 व 506 के तहत FIR दर्ज कर ली है। मामले की जाँच की जा रही है। ऑपइंडिया के पास शिकायत कॉपी मौजूद है। इस बीच संबंधित इलाके में किन्नरों की मुखिया चाँदनी चौहान का बयान सामने आया है। उन्होंने साधुओं को पीटे जाने की घटना को निंदनीय बताते हुए चारों आरोपितों पर कड़ी कार्रवाई की माँग की है। चाँदनी किन्नर का कहना है कि आसिव, सोनम, शरीफ और सुंदरम आदतन अपराधी हैं जो आए दिन कोई न कोई उत्पात किया करते हैं। इन आरोपितों ने पहले भी कुछ अन्य लोगों की पिटाई की है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -