Saturday, July 20, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनअपने दोस्त सुशांत सिंह राजपूत की मौत को बताया था हत्या, अब फाँसी के...

अपने दोस्त सुशांत सिंह राजपूत की मौत को बताया था हत्या, अब फाँसी के फंदे से लटकता मिला शव: ‘मूवी माफिया’ पर भी उठाया था सवाल

वैशाली ठक्कर ने अपनी करियर की शुरुआत एंकरिंग से की थी। ऐक्टिंग में स्टार प्लस के शो 'ये रिश्ता क्या कहलाता है' से डेब्यू किया था। इस धारावाहिक में उन्होंने साल 2015 से 2016 तक संजना का किरदार निभाया था। 'ससुराल सिमर का' में अंजली भारद्वाज किरदार से वह घर-घर पहचान बनाई थीं।

टीवी सीरियल (TV Serial) की मशहूर अभिनेत्री वैशाली ठक्कर (Vaishali Thakkar) ने मध्य प्रदेश के इंदौर (Indore, Madhya Pradesh) में स्थित अपने घर में रविवार (16 अक्टूबर 2022) को फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस को वैशाली के पास से एक सुसाइड नोट भी मिला है। आत्महत्या की वजह प्रेम प्रसंग बताई जा रही है। 

वैशाली ठक्कर संदिग्ध परिस्थितियों में मरे बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की अच्छी दोस्त थीं। जब सुशांत सिंह के आत्महत्या की बात सामने आई थी, तब वैशाली ने आवाज उठाई थी और इसे मर्डर बताया था। वैशाली ने कहा था कि सुशांत के असली हत्यारे रिया चक्रवर्ती के पीछे छुपे हुए हैं। अब वैशाली की आत्महत्या भी संदेह के घेरे में आ गई है।

अभिनेता के निधन पर वैशाली ने पोस्ट शेयर की थी। उसमें लिखा था, “नो, नो नो, मेरा रोना रुक नहीं रहा। कोई बताओ कि ये एक सपना है। सुशांत एक कमाल का इंसान और एक्टर था। मुझे लगा जैसे हम हमेशा दोस्त रहेंगे, क्यों सुशांत क्यों?”

‘ये रिश्ता क्या कहलाता है’ फेम ऐक्ट्रेस वैशाली पिछले एक साल से इंदौर के साईं बाग स्थित अपने घर पर थीं। घटना की सूचना मिलने के बाद तेजाजी नगर थाना की पुलिस मौके पर पहुँची। उसने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए इंदौर के एमवॉय हॉस्पिटल भेज दिया है।

पुलिस ने वैशाली का मोबाइल भी जब्त कर लिया है। पुलिस को वैशाली के घर से सुसाइड नोट मिला है, लेकिन उसने अभी तक खुलासा नहीं किया है कि इसमें क्या लिखा है। थाना प्रभारी आरडी कानवा का कहना है कि मोबाइल और सुसाइड नोट में लिखी बातों की जाँच की जा रही है। उसके आधार पर मामले का खुलासा किया जाएगा।

शुरुआती खबर जो आ रही है, उसमें कहा जा रहा है कि अभिनेत्री वैशाली ठक्कर की आत्महत्या करने की वजह प्रेम प्रसंग है। पुलिस भी जाँच की शुरुआत इसी ऐंगल से की है। हालाँकि, जाँच अधिकारी अन्य कोणों को नजरअंदाज नहीं कर रहे हैं।

वैशाली अपने घर में छोटे भाई और पिता के साथ रहती थीं। घटना के समय वैशाली अपने कमरे में सो रही थी। जब वह काफी देर तक नहीं उठी तो पिता ने जाकर दरवाजा खटखटाया, लेकिन दरवाजा नहीं खुला। इसके बाद उन्होंने खिड़की से झाँक कर देखा तो वह फाँसी के फंदे से लटकी हुई थी। बताया जा रहा है कि वैशाली का व्यवसाय है और छोटा भाई भी किसी व्यवसाय से जुड़ा हुआ है।

अभी हाल ही में वैशाली ने अपने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें वो ‘दिल जिगर नजर क्या है, मैं तो तेरे लिए जान भी दे दूँ…’ गाने को गुनगुनाती नजर आई थीं। वीडियो में वो खुश नजर आ रही थीं। इस घटना से उनके फैन्स और परिजनों में मायूसी छा गई है।

वैशाली ठक्कर मूल रूप से मध्य प्रदेश के उज्जैन के नजदीक स्थित माहिदपुर की रहने वाली थी। टीवी सीरियलों में ऑफर मिलने के बाद वह साल 2013 में मुंबई चली गई थी। कुछ समय पहले वह राजस्थान की राजधानी जयपुर चली गई थीं। एक साल से वह इंदौर में रह रही थीं।

बता दें कि पिछले साल अप्रैल में वैशाली की सगाई हुई थी, लेकिन उन्होंने एक महीने बाद ही सगाई टूटने की घोषणा कर दी थी। उन्होंने कहा था कि केन्या में डेंटल सर्जन अपने मंगेतर अभिनंदन सिंह हुंडल से वह शादी नहीं करेंगी।

उस वक्त वैशाली ने वैशाली ने बताया था कि वो शादी स्थगित कर रही हैं, क्योंकि ऐसे वक्त में जब लोग कोरोना से जूझ रहे हैं तो वो कोई सेलिब्रेशन नहीं करना चाहतीं। बाद में उन्होंने इंस्टाग्राम पर रोका सेरेमनी की शेयर की गई वीडियो को भी डिलीट कर दिया था। अभिनंदन और वैशाली लॉकडाउन के दौरान मैट्रिमोनियल साइट के जरिए मिले थे। 

वैशाली ठक्कर ने अपनी करियर की शुरुआत एंकरिंग से की थी। ऐक्टिंग में स्टार प्लस के शो ‘ये रिश्ता क्या कहलाता है’ से डेब्यू किया था। इस धारावाहिक में उन्होंने साल 2015 से 2016 तक संजना का किरदार निभाया था। उनका यह किरदार काफी सराहा गया था और वह घर-घर तक पहचानी जाने लगी थीं। उन्होंने बिग बॉस में भी काम किया था।

इसके बाद वैशाली ने ‘ये है आशिकी’ में वृंदा का रोल निभाया। वैशाली ठक्कर ने ‘ससुराल सिमर का’ में अंजली भारद्वाज का किरदार निभाया था। इस निगेटिव रोल के लिए उन्हें ‘गोल्डन पेटल अवॉर्ड्स के बेस्ट एक्ट्रेस इन निगेटिव रोल’ से सम्मानित किया गया था।

इसके अलावा वैशाली ने सुपर सिस्टर्स में शिवानी शर्मा, विष या अमृत में नेत्रा सिंह राठौड़, मनमोहिनी में अनन्या मिश्रा का किरदार निभाया था। अंतिम बार वैशाली टीवी शो ‘रक्षाबंधन’ में कनक सिंह ठाकुर के रोल में नजर आई थीं।

सुशांत सिंह की मौत पर वैशाली ने कहा था, “सुशांत की मौत के बाद उसकी शव तस्वीरें कुछ देर बाद ही सोशल मीडिया पर वायरल हुईं और मेरे पास भी पहुँची थीं। मेरी उसे देखने की हिम्मत नहीं हुई। मैं उसकी मौत से इतनी परेशान थी कि दो-तीन दिन तक रोती रही थी। मैं ये स्वीकार नहीं कर पा रही थी। लोगों ने जब कहा कि उसका मर्डर हुआ है, शरीर में निशान देखिए तब मैंने उन निशान को करीब से देखा। मुझे लगा कुछ तो गड़बड़ है। पहले मूवी माफियाओं पर आरोप लगाया गया लेकिन, अब रिया चक्रवर्ती का सच सामने आ रहा है।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बांग्लादेशी महिला के 5 छोटे बच्चे, 3 लड़कियाँ… इसलिए इलाहाबाद हाई कोर्ट ने दे दी जमानत: सपा विधायक की मदद से भारत में रहने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने जेल में बंद एक बांग्लादेशी महिला हिना रिजवान को जमानत दे दी। महिला अपने बच्चों के साथ अवैध रूप से भारत में रही थी।

घुमंतू (खानाबदोश) पूजा खेडकर: जिसका बाप IAS, वो गुलगुलिया की तरह जगह-जगह भटक बिताई जिंदगी… इसी आधार पर बन गई MBBS डॉक्टर

पूजा खेडकर ने MBBS में नाम लिखवाने से लेकर IAS की नौकरी पास करने तक में नाम, उम्र, दिव्यांगता, अटेंप्ट और आय प्रमाण पत्र में फर्जीवाड़ा किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -