Wednesday, July 24, 2024
Homeदेश-समाज'मेरे अल्लाह बुराई से बचाना...': बरेली के स्कूल में छात्रों को इस्लामी प्रार्थना करवाते...

‘मेरे अल्लाह बुराई से बचाना…’: बरेली के स्कूल में छात्रों को इस्लामी प्रार्थना करवाते थे टीचर नाहिद और वजरूद्दीन, Video वायरल होने के बाद केस दर्ज

बरेली के स्कूल में टीचरों ने 'मेरे अल्लाह बुराई से बचाना' प्रार्थना स्कूल में करवाई थी और इसी की वीडियो सोशल मीडिया पर जब वायरल हुई तो हिंदू संगठन यह देख भड़क गए। उन्होंने केस को दर्ज कराते हुए कहा कि ये सब हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुँचाने के लिए किया गया है।

उत्तर प्रदेश के बरेली में सरकारी स्कूल में इस्लामी प्रार्थना करवाए जाने का मामला प्रकाश में आने के बाद दो शिक्षकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है। टीचरों ने ‘मेरे अल्लाह बुराई से बचाना’ प्रार्थना स्कूल में करवाई थी। इसी की वीडियो सोशल मीडिया पर जब वायरल हुई तो हिंदू संगठन यह देख भड़क गए। उन्होंने केस को दर्ज कराते हुए कहा कि ये सब हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुँचाने के लिए किया गया है।

पूरा मामला फरीदपुर थाना के कमला नेहरू स्कूल का बताया जा रहा है। हिंदू संगठनों ने कहा कि यहाँ के अध्यापक नाहिद सिद्दीकी और शिक्षामित्र वजरूद्दीन ने हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुँचाने के लिए यह सब किया। ये लोग जानबूझकर इस्लामी विधि से स्कूल के छात्रों को प्रार्थना करवाते थे। साथ ही बच्चों द्वारा ये प्रार्थना न करने पर उन्हें धमकाते भी थे।

हिंदू संगठनों का इस घटना पर कहना है कि ये सब इसलिए करवाया जा रहा था ताकि छात्रों को धर्मांतरण के लिए प्रेरित किया जा सके। प्रार्थना के बारे में पता चलने के बाद विहिप के नगर अध्यक्ष सोमपाल राठौर आदि ने बुधवार (21 दिसंबर 2022) को थाने में इस संबंध में शिकायत दी। उन्होंने अपनी शिकायत में बताया कि टीचर नाहिद सिद्दीकी के कहने पर शिक्षामित्र वजरुद्दीन काफी समय से ऐसा करा रहे थे।

जानकारी के अनुसार, विवाद उठने और मामला थाने पहुँचने के बाद बेसिक शिक्षा अधिकारी विनय कुमार ने स्कूल के टीचर को निलंबित करते हुए शिक्षामित्र के विरुद्ध जाँच बैठा दी है। प्रार्थना का वीडियो भी वायरल है। इसमें तीन दर्जन से ज्यादा बच्चे प्रार्थना करते देखे जा सकते हैं।

न्यूज 18 की रिपोर्ट के मुताबिक, इस मामले पुलिस अधीक्षक ग्रामीण राजकुमार अग्रवाल ने कहा कि स्कूल में प्रार्थना का वीडियो वायरल होने के बाद टीचरों के खिलाफ मिली शिकायत पर एफआईआर दर्ज करके जाँच शुरू कर दी गई है। जाँच के बाद जो भी तथ्य निकलकर सामने आएँगे उसके हिसाब से आगे कार्रवाई होगी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बंद ही रहेगा शंभू बॉर्डर, JCB लेकर नहीं कर सकते प्रदर्शन’: सुप्रीम कोर्ट ने ‘आंदोलनजीवी’ किसानों को दिया झटका, 15 अगस्त को दिल्ली कूच...

सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब और हरियाणा के बीच शंभू बॉर्डर को अभी बंद ही रखने का आदेश दिया है। कोर्ट ने कहा किसान JCB लेकर प्रदर्शन नहीं कर सकते।

2018, 2019, 2023, 2024… साल दर साल ‘ये मोदी सरकार का अंतिम बजट’ कह-कह कर थके संजय झा: जिस कॉन्ग्रेस ने अनुशासनहीन कह कर...

संजय झा ने 2023 के वार्षिक बजट को उबाऊ बताया था और कहा था कि ये 'विनाशकारी' भाजपा को बाय-बाय कहने का समय है, इसे इनका अंतिम बजट रहने दीजिए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -