Saturday, July 13, 2024
Homeदेश-समाजजेल बंद विधायक शौहर अब्बास के साथ घंटों बिताती थी मुख्तार अंसारी की बहू,...

जेल बंद विधायक शौहर अब्बास के साथ घंटों बिताती थी मुख्तार अंसारी की बहू, छापेमारी के दौरान कमरे में मिली

एक अन्य मामले में कानपुर पुलिस ने जेल में बंद समाजवादी पार्टी के विधायक इरफ़ान सोलंकी की लगभग 20 करोड़ रुपए मूल्य की सम्पत्ति को जब्त कर लिया है। इरफ़ान सोलंकी के साथ उनके सहयोगी शौकत की भी सम्पत्ति को सीज किया गया है।

उत्तर प्रदेश में माफियाओं के उपर योगी आदित्यनाथ (UP CM Yogi Adityanath) सरकार का डंडा जारी है। जेल में बंद माफिया मुख़्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) की बहू निखत अंसारी को गिरफ्तार कर लिया गया है। वह रोज जेल में शौहर के संग 2-3 घंटे बीताती थी। वहीं, कानपुर से सपा विधायक हाजी इरफ़ान सोलंकी (Haji Irfan Solanki) की 21 करोड़ रुपए की सम्पत्ति को सीज कर लिया गया है।

जानकारी के मुताबिक, निखत अंसारी अपने शौहर अब्बास अंसारी तक मोबाइल फोन पहुँचाने का प्रयास कर रही थीं। इसके साथ ही वह अक्सर अपने शौहर विधायक अब्बास अंसारी के साथ जेल में घंटों बीताती थी। अब्बास फिलहाल चित्रकूट जेल में बंद है। निखत और उसके ड्राइवर नियाज के खिलाफ FIR दर्ज कर ली गई है। मामला शुक्रवार (10 फरवरी 2023) दोपहर का है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, निखत अंसारी सुबह ही जेल में अपने शौहर अब्बास से मिलने पहुँची थीं। उनके साथ काफी सामान भी था, जो वो जेल में अपने शौहर को पहुँचाना चाह रही थीं। जब सामान की बारीकी से तलाशी हुई, तब उसमें मोबाइल बरामद हुआ। सवाल करने पर वो कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे पाईं।

इसके बाद स्थानीय थाने में मुकदमा दर्ज करके निखत अंसारी को गिरफ्तार कर लिया गया है। जानकारी यह भी सामने आ रही है कि अब्बास अंसारी और निखत की मुलाकत डिप्टी जेलर के कमरे में हो रही थी। इस दौरान कुछ अन्य सामन भी बरामद होने की सूचना है, जो जेल मैनुअल के हिसाब से प्रतिबंधित माने जाते हैं।

लाइव हिंदुस्तान के अनुसार, चौकी इंचार्ज ने बताया कि निखत अंसारी जेल में बंद अपने शौहर अब्बास के साथ रोज 3-4 घंटे बीताती थी। इसकी जानकारी उच्च अधिकारियों को दी गई। इसके बाद शुक्रवार (10 फरवरी 2023) को जिले के डीएम और एसपी ने जेल में छापेमारी की। उस दौरान अब्बास अपने बैरक में नहीं मिला।

अधिकारियों ने कड़ाई से पूछताछ की तो जेल अधीक्षक के बगल वाले कमरे को खोला। उसमें निखत बैठी हुई थी। वहीं, जेलकर्मियों ने मौका पाकर अब्बास को उसके बैरक में पहुँचा दिया था। निखत ने पूछताछ में बताया कि मोबाइल फोन से अब्बास मुकदमे से जुड़े गवाहों और अधिकारियों को धमकाता था। वह उनकी हत्या की भी योजना बना रहा था। निखत ने यह भी कहा कि अब्बास जेल से भागने की योजना बना रहा था।

जेल में हुई इस घटना की जाँच DIG जेल प्रयागराज को सौंप दी गई है। जाँच रिपोर्ट आने के बाद दोषी जेलकर्मियों पर भी कार्रवाई की जा सकती है। दर्ज FIR में अब्बास अंसारी, निखत अंसारी, उसके ड्राइवर नियाज के साथ-साथ चित्रकूट जेल के अधीक्षक अशोक कुमार सागर, डिप्टी जेल अधीक्षक सुशील कुमार, कांस्टेबल जगमोहन के साथ ड्यूटी पर तैनात अन्य जेलकर्मियों को आरोपित किया गया है।

इस मामले की FIR कोतवाली नगर चित्रकूट में दर्ज हुई है। सभी आरोपितों पर IPC की धारा 387, 222, 186, 506, 201, 120 B, 195 A, 34 के साथ-साथ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 7, 8 और 13 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। ऑपइंडिया के पास FIR कॉपी मौजूद है।

सपा विधायक इरफ़ान सोलंकी की सम्पत्ति जब्त

वहीं, एक अन्य मामले में कानपुर पुलिस ने जेल में बंद समाजवादी पार्टी के विधायक इरफ़ान सोलंकी की लगभग 20 करोड़ रुपए मूल्य की सम्पत्ति को जब्त कर लिया है। इरफ़ान सोलंकी के साथ उनके सहयोगी शौकत की भी सम्पत्ति को सीज किया गया है।

इन सम्पत्तियों में हिलाल कम्पाउंड में बने 27 फ़्लैट शामिल हैं। इसमें रह रहे मालिकों में महज 1 ही जरूरी कागजात दिखा पाए। पुलिस के मुताबिक, इरफ़ान सोलंकी की अन्य सम्पत्तियों की जानकारी जमा की जा रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव में NDA की बड़ी जीत, सभी 9 उम्मीदवार जीते: INDI गठबंधन कर रहा 2 से संतोष, 1 सीट पर करारी...

INDI गठबंधन की तरफ से कॉन्ग्रेस, शिवसेना UBT और PWP पार्टी ने अपना एक-एक उमीदवार उतारा था। इनमें से PWP उम्मीदवार जयंत पाटील को हार झेलनी पड़ी।

नेपाल में गिरी चीन समर्थक प्रचंड सरकार, विश्वास मत हासिल नहीं कर पाए माओवादी: सहयोगी ओली ने हाथ खींचकर दिया तगड़ा झटका

नेपाल संसद के निचले सदन प्रतिनिधि सभा में अविश्वास प्रस्ताव पर हुए मतदान में प्रचंड मात्र 63 वोट जुटा पाए। जिसके बाद सरकार गिर गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -