Tuesday, August 3, 2021
Homeराजनीति'नहीं लगवाऊँगा BJP की कोरोना वैक्सीन' कहने के बाद अखिलेश यादव ने लिया यू...

‘नहीं लगवाऊँगा BJP की कोरोना वैक्सीन’ कहने के बाद अखिलेश यादव ने लिया यू टर्न

अखिलेश यादव ने कहा था कि कोरोना टीका बीजेपी का है। वे कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाएँगे, क्योंकि उन्हें इस टीके पर भरोसा नहीं है। उन्होंने यूपी में अपनी सरकार बनने पर प्रदेश की जनता को मुफ्त टीका लगवाने की बात कही थी।

कोरोना वैक्सीन पर बेतुके बयानों के बाद सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सुर बदल गए हैं। शनिवार को उन्होंने इसे बीजेपी की वैक्सीन बताते हुए कहा था कि वे इसे नहीं लगवाएँगे। लेकिन अगले ही दिन उन्होंने टीकाकरण की तारीख जल्द तय करने की डिमांड रखी है।

सोशल मीडिया पर भारी आलोचनाओं के बाद अखिलेश यादव ने रविवार (3 दिसंबर, 2020) को ट्वीट किया, “कोरोना का टीकाकरण एक संवेदनशील प्रक्रिया है इसलिए भाजपा सरकार इसे कोई सजावटी-दिखावटी इवेंट न समझे और अग्रिम पुख़्ता इंतज़ामों के बाद ही शुरू करे। ये लोगों के जीवन का विषय है अत: इसमें बाद में सुधार का ख़तरा नहीं उठाया जा सकता है। गरीबों के टीकाकरण की निश्चित तारीख तय हो।”

हालाँकि अखिलेश यादव ने टीका नहीं लगवाने वाले अपने पहले फैसले के बारे में कोई टिप्पणी नहीं की है। बता दें उन्होंने शनिवार को कहा था कि कोरोना टीका बीजेपी का है। वे कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाएँगे, क्योंकि उन्हें इस टीके पर भरोसा नहीं है। अखिलेश ने दावा किया कि जब उत्तर प्रदेश में उनकी सरकार बनेगी तो वे प्रदेश की जनता को मुफ्त टीका लगवाएँगे।

सिर्फ अखिलेश ही नहीं उनकी पार्टी के विधायक आशुतोष सिन्हा ने तो यहाँ तक कह दिया कि हमें लगता है कि बीजेपी वाले बाद में कह देंगे कि जनसंख्या कम करने के लिए, नपुंसक बनाने के लिए लगा दिया वैक्सीन। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी ही नहीं किसी को भी वैक्सीन नही लगवाना चहिए।

उल्लेखनीय है कि देश में कोरोना वैक्सीन को लेकर ड्रग्‍स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने रविवार को बड़ा ऐलान करते हुए सीरम इंस्टीट्यूट की वैक्सीन कोविशील्ड (Covishield) और भारत बायोटेक की वैक्सीन कोवैक्सीन (Covaxin) के आपातकाल इस्तेमाल की अंतिम मंजूरी दे दी है। वहीं वैज्ञानिकों की इस सफलता पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी पूरे देश को बधाई दी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा, “वैश्विक महामारी के खिलाफ भारत की जंग में एक निर्णायक क्षण! SerumInstIndia और BharatBiotech की वैक्सीन को DCGI की मंजूरी से एक स्वस्थ और कोविड मुक्त भारत की मुहिम को बल मिलेगा। इस मुहिम में जी-जान से जुटे वैज्ञानिकों-इनोवेटर्स को शुभकामनाएँ और देशवासियों को बधाई।”

उन्होंने आगे कहा, “हर भारतीय को गर्व होगा कि जिन दो टीकों को आपातकालीन उपयोग की मंजूरी दी गई है वे भारत में बने हैं!” पीएम मोदी ने देश को, वैज्ञानिकों को और नवोन्मेषकों को बधाई देते हुए कहा, “यह आत्मनिर्भर भारत के सपने को पूरा करने के लिए हमारे वैज्ञानिक समुदाय की इच्छाशक्ति को दर्शाता है। वह आत्मनिर्भर भारत, जिसका आधार है- सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामया।”

वहीं फ्रंटलाइन वॉरियर्स को धन्यवाद देते हुए पीएम मोदी ने कहा, “विपरीत परिस्थितियों में असाधारण सेवा भाव के लिए हम डॉक्टरों, मेडिकल प्रोफेशनल्स, वैज्ञानिकों, पुलिसकर्मियों, सफाईकर्मियों और सभी कोरोना वॉरियर्स के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करते हैं। देशवासियों का जीवन बचाने के लिए हम सदा उनके आभारी रहेंगे।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सागर धनखड़ मर्डर केस में सुशील कुमार मुख्य आरोपित: दिल्ली पुलिस ने 20 लोगों के खिलाफ फाइल की 170 पेज की चार्जशीट

दिल्ली पुलिस ने छत्रसाल स्टेडियम में पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड में चार्जशीट दाखिल की है। सुशील कुमार को मुख्य आरोपित बनाया गया है।

यूपी में मुहर्रम सर्कुलर की भाषा पर घमासान: भड़के शिया मौलाना कल्बे जव्वाद ने बहिष्कार का जारी किया फरमान

मौलाना कल्बे जव्वाद ने आरोप लगाया है कि सर्कुलर में गौहत्या, यौन संबंधी कई घटनाओं का भी जिक्र किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,702FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe