Monday, January 17, 2022
Homeराजनीतिबिहार में अब पप्पू यादव का टूटा मंच, समर्थकों के साथ गिरे धड़ाम से,...

बिहार में अब पप्पू यादव का टूटा मंच, समर्थकों के साथ गिरे धड़ाम से, हाथ में फ्रैक्चर: देखें Video

इसका वीडियो भी सामने आया है। वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि जिस वक्त मंच टूटा उस वक्त पप्पू यादव मीनापुर में मंच से एक चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। आम लोगों के साथ ही चुनावी सभा में पार्टी कार्यकर्ताओं की काफी भीड़ थी।

बिहार विधानसभा चुनाव में आए दिन नेताओं के मंच टूट रहे हैं। अभी हाल में ही जिन्ना की तस्वीर के मामले में चर्चा में आए जाले विधानसभा के कॉन्ग्रेस उम्मीदवार मशकूर अहमद उस्मानी का मंच भाषण के बीच में ही टूट गया था और आज (अक्टूबर 31, 2020) मुजफ्फरपुर के मीनापुर विधानसभा क्षेत्र में चुनाव प्रचार करने पहुँचे जन अधिकार पार्टी (JAP) के अध्यक्ष का मंच धराशायी हो गया। उस वक्त पप्पू यादव मंच से भाषण दे रहे थे। इस घटना में उन्हें चोट आई है। उनके दाएँ हाथ में फ्रैक्चर में हो गया है।

इसका वीडियो भी सामने आया है। वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि जिस वक्त मंच टूटा उस वक्त पप्पू यादव मीनापुर में मंच से एक चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। आम लोगों के साथ ही चुनावी सभा में पार्टी कार्यकर्ताओं की काफी भीड़ थी। क्षमता से अधिक कार्यकर्ता मंच पर चढ़ आए थे। जिस वक्त पप्पू यादव सभा को संबोधित कर रहे थे, उसी बीच मंच टूट गया और वो सीधे जमीन पर जा गिरे। 

अचानक मंच टूटने की वजह से मौके पर अफरा-तफरी मच गई। जल्दी से पप्पू यादव को उठाया गया। कार्यालय प्रभारी अजय जायसवाल के अनुसार इलाज के लिए पास के ही एक अस्पताल में ले जाया गया। दाहिना हाथ पर प्लास्टर किया गया। घटना के बाद जाप अध्यक्ष ने कहा, “जनता के प्यार और आशीर्वाद से मुझे ज्यादा चोट नहीं आई। लोगों की दुआएँ मेरे साथ है। मैं स्वस्थ होकर जल्द ही जनता के बीच पुन: लौटूँगा।”

पप्पू यादव की पार्टी का चंद्रशेखर आज़ाद की आज़ाद समाज पार्टी, सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ़ इंडिया (SDPI) और कुछ अन्य छोटे दलों के साथ गठबंधन है।

बता दें कि इससे पहले 15 अक्टूबर को सारण जिले में जनता दल यूनाइटेड के नेता चंद्रिका राय की चुनावी रैली में भी भीड़भाड़ के कारण मंच गिर गया था। गनीमत रही कि वहाँ कोई गंभीर रूप से घायल नहीं हुआ। राय के नामांकन पत्र दाखिल करने के तुरंत बाद सोनपुर विधानसभा क्षेत्र में यह घटना हुई। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता राजीव प्रताप रूडी भी मंच पर मौजूद थे।

इसी तरह 29 अक्टूबर को कॉन्ग्रेस प्रत्याशी मशकूर अहमद उस्मानी का मंच भी टूटा था, जब वह दरभंगा में एक रैली को संबोधित कर रहे थे। इसी दिन बाद में  चंपारण में एक और कॉन्ग्रेस रैली में एक मंच टूट गया था। उस वक्त पार्टी के नेता इमरान प्रतापगढ़ी और अखिलेश सिंह स्टेज पर थे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘रेप कैपिटल बन गया है राजस्थान’: अलवर मूक-बधिर बच्ची से गैंगरेप मामले में पुलिस का यू-टर्न, गहलोत सरकार ने की CBI जाँच की सिफारिश

अलवर में रेप की शिकार मूक-बधिर बच्ची के मामली की जाँच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सीबीआई को सौंप दी है। सरकार का काफी विरोध हो रहा है।

CM योगी का UP: 2000 Cr का अवैध साम्राज्य ध्वस्त, ढेर हुए 140 अपराधी, धर्मांतरण और गोकशी पर शिकंजा, महिलाएँ सुरक्षित हुईं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाया। गोकशी-धर्मांतरण पर प्रहार किया। उत्तर प्रदेश में माफिया राज खत्म हुआ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
151,693FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe