Tuesday, July 23, 2024
Homeराजनीति'थोड़ी-थोड़ी पी कर सो जाया करो': कॉन्ग्रेसी मंत्री भेड़िया की लोगों को सलाह, चुनाव...

‘थोड़ी-थोड़ी पी कर सो जाया करो’: कॉन्ग्रेसी मंत्री भेड़िया की लोगों को सलाह, चुनाव से पहले खाई थी शराबबंदी की कसम

"सत्ता के नशे में चूर छत्तीसगढ़ की सरकार में मंत्री ​अनिला भेड़िया प्रदेश की महिलाओं को शराब पीने की नसीहत दे रही हैं, जिनके ऊपर महिलाओं एवं बच्चों की उत्थान की जिम्मेदारी है। शर्मनाक।"

छत्तीसगढ़ सरकार एक ओर जहाँ शराबबंदी की तैयारी कर रही है, वहीं दूसरी ओर भूपेश बघेल सरकार की महिला एवं बाल कल्याण मंत्री अनिला भेड़िया लोगों को एक-एक पेग लगाने सलाह दे रही हैं। दरअसल, सिंघोला गाँव में गुरुवार (14 अक्टूबर, 2021) को लोगों को संबोधित करते हुए मंत्री अनिला ने महिलाओं से कहा, ”तनाव से दूर रहने के लिए सोने जाने से पहले एक पेग पी लिया करो।” उन्होंने कहा कि महिलाएँ घर और परिवार की देखभाल करती हैं और वह मानसिक रूप से तनाव महसूस करती हैं। ऐसे में थोड़ी-थोड़ी पी लिया करो और सो जाया करो। मंत्री के बयान का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

छत्तीसगढ़ सरकार की मंत्री द्वारा दिए गए विवादित बयान को लेकर उनकी जमकर आलोचना हो रही है। एक ट्विटर यूजर ने लाफिंग इमोजी के साथ भेड़िया पर निशाने साधते हुए कहा, “छत्तीसगढ़ सरकार में महिला बाल विकास मंत्री अनिला भेड़िया महिलाओं को शराब पीने की सलाह दे रही है।” बता दें कि भाजपा लगातार ये आरोप लगाती रही है कि चुनाव से पहले कॉन्ग्रेस ने राज्य में शराबबंदी की कसम खाई थी।

वहीं, बीजेपी जशपुर ने भी उनके बयान की निंदा की है। उन्होंने ट्वीट किया, “सत्ता के नशे में चूर छत्तीसगढ़ की सरकार में मंत्री ​अनिला भेड़िया प्रदेश की महिलाओं को शराब पीने की नसीहत दे रही हैं, जिनके ऊपर महिलाओं एवं बच्चों की उत्थान की जिम्मेदारी है। शर्मनाक।”

हालाँकि, इस पर विवाद होने के बाद मंत्री ने कहा कि उनके बयान को घुमाया जा रहा है। उन्होंने कहा है कि उनके बयान के साथ किसी ने राजनीतिक छेड़छाड़ की है। मेरे बयान का मतलब था कि शराब के आदि पुरुषों को कम पीनी चाहिए। शराब एक बुरी लत है और इससे छुटकारा पाना चाहिए। अगर पुरुष घर में शराब पीता है तो उस कारण पत्नी और बच्चों पर मानसिक दबाव रहता है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -