Saturday, July 13, 2024
Homeराजनीतिनेहरू की तस्वीर दिखा योग दिवस पर काॅन्ग्रेस कर रही थी पाॅलिटिकल आसन, अपने...

नेहरू की तस्वीर दिखा योग दिवस पर काॅन्ग्रेस कर रही थी पाॅलिटिकल आसन, अपने ही MP शशि थरूर ने करा दिया शीर्षासन

दरअसल, पीएम मोदी अमेरिका की यात्रा पर हैं और वे न्‍यूयॉर्क में योग दिवस मना रहे हैं। इस दौरान पीएम ने एक वीडियो संदेश में कहा, "2014 में जब संयुक्त राष्ट्र आम सभा में योग दिवस का प्रस्ताव आया था तो रिकॉर्ड देशों ने समर्थन दिया था। आज योग एक वैश्विक आंदोलन और भावना बन गया है।"

आज यानी 21 जून 2023 को विश्व योग दिवस (International Yoga Day) है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के प्रयास से भारत की संस्कृति एवं धरोहर का एक प्रमुख हिस्सा योग के रूप में आज दुनिया को शांति और स्वास्थ्य प्रदान कर रहा है। हालाँकि, इसको लेकर भी कॉन्ग्रेस राजनीति करती दिख रही है। जहाँ कॉन्ग्रेस इसे पंडित जवाहरलाल नेहरू का योगदान मान रही है, वहीं पार्टी सांसद शशि थरूर इसके लिए पीएम मोदी की प्रशंसा कर रहे हैं।

विश्व योग दिवस पर केरल के तिरुवनंतपुरम से लोकसभा सांसद शशि थरूर ने योग को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रोत्साहित करने का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दिया है। थरूर ने यह प्रतिक्रिया कॉन्ग्रेस के ट्वीट पर दी, जिसमें नेहरू को शीर्षासन करते हुए दिखाया गया है और योग को प्रचलित करने का श्रेय उन्हें दी गई है।

शशि थरूर ने कहा ट्वीट में लिखा, “बेशक! हमें हमारी सरकार, प्रधानमंत्री कार्यालय और विदेश मंत्रालय सहित उन सभी के योगदान को भी स्वीकार करना चाहिए, जिन्होंने संयुक्त राष्ट्र संघ के माध्यम से #InternationalYogaDay के रूप में योग को अंतर्राष्ट्रीय पर पुनर्जीवित किया और लोकप्रिय बनाया। जैसा कि मैंने दशकों से तर्क दिया है, योग दुनिया भर में हमारी सॉफ्ट पावर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और इसे मान्यता प्राप्त होते देखना बहुत अच्छा है।”

दरअसल, कॉन्ग्रेस ने बुधवार (21 जून 2023) को देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू का शीर्षासन करते हुए एक तस्वीर साझा की। इस तस्वीर के साथ के कॉन्ग्रेस ने अपने ट्विटर हैंडल से लिखा, “अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर हम पं. नेहरू का धन्यवादा करते हैं, जिन्होंने योग को लोकप्रिय बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी और यहाँ तक कि इसे राष्ट्रीय नीति का हिस्सा भी बनाया था। आइए हम अपने शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य में प्राचीन कला और दर्शन के महत्व की सराहना करें और इसे अपने जीवन में शामिल करने के लिए कदम उठाएँ।”

कॉन्ग्रेस के ट्विटर हैंडल के साथ-साथ कॉन्ग्रेस नेता जयराम रमेश ने भी नेहरू की उस तस्वीर को साझा किया है। इसके साथ ही जयराम ने लिखा, “डिस्कवरी ऑफ इंडिया में पंडित नेहरू ने कहा- पतंजलि की योग प्रणाली अनिवार्य रूप से शरीर के अनुशासन और मानसिक एवं आध्यात्मिक प्रशिक्षण के लिए जरूरी तरीका है।”

बता दें कि साल 2014 में सत्ता में आने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग को संयुक्त राष्ट्र संघ में मान्यता दिलवाकर योग को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लोकप्रिय किया था। भारत के आह्वान पर दुनिया के 180 से ज्यादा देश एक साथ आए और योग का समर्थन किया था।

दरअसल, पीएम मोदी अमेरिका की यात्रा पर हैं और वे न्‍यूयॉर्क में योग दिवस मना रहे हैं। इस दौरान पीएम ने एक वीडियो संदेश में कहा, “2014 में जब संयुक्त राष्ट्र आम सभा में योग दिवस का प्रस्ताव आया था तो रिकॉर्ड देशों ने समर्थन दिया था। आज योग एक वैश्विक आंदोलन और भावना बन गया है।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव में NDA की बड़ी जीत, सभी 9 उम्मीदवार जीते: INDI गठबंधन कर रहा 2 से संतोष, 1 सीट पर करारी...

INDI गठबंधन की तरफ से कॉन्ग्रेस, शिवसेना UBT और PWP पार्टी ने अपना एक-एक उमीदवार उतारा था। इनमें से PWP उम्मीदवार जयंत पाटील को हार झेलनी पड़ी।

नेपाल में गिरी चीन समर्थक प्रचंड सरकार, विश्वास मत हासिल नहीं कर पाए माओवादी: सहयोगी ओली ने हाथ खींचकर दिया तगड़ा झटका

नेपाल संसद के निचले सदन प्रतिनिधि सभा में अविश्वास प्रस्ताव पर हुए मतदान में प्रचंड मात्र 63 वोट जुटा पाए। जिसके बाद सरकार गिर गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -